.

लिव-इन रिलेशनशिप में रहने के बाद प्रेमिका ने शादी नेसे किया इंकार, प्रेमी ने पेट्रोल डालकर लगा दी आग

बैतूल
बैतूल में सोमवार रात एक पेट्रोल पंप की सेल्स गर्ल पर युवक ने पेट्रोल डाल कर आग लगा दी। युवती आदिवासी है। उसका चेहरा, हाथ, पीठ और चेस्ट बुरी तरह झुलस गया है। 40 फीसदी झुलसी युवती को जिला अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। युवक-युवती 3 साल तक लिव-इन में रह चुक हैं। युवती ने डेढ़ साल पहले बात करना बंद कर दिया था। पुलिस आरोपी युवक की तलाश कर रही है।

बैतूल के गंज थाना इलाके के हमलापुर में रहने वाली युवती को सोमवार की देर रात आग से झुलसने पर जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया. बताया जा रहा है कि आदिवासी प्रेमिका ने प्रेमी आर्यन मालवीय के नशे में रहने और मारपीट करने की वजह से मिलना जुलना बंद कर दिया और शादी करने से भी मना कर दिया था. जिससे नाराज होकर प्रेमी ने सोमवार की रात प्रेमिका पर पेट्रोल डालकर आग लगा दी थी .

घटना को लेकर बताया जा रहा है कि प्रेमी हाथ में चाकू लेकर सोमवार की सुबह प्रेमिका घर पहुंचा था और प्रेमिका से विवाद किया था. प्रेमिका ने इसकी शिकायत गंज थाने में भी की थी लेकिन दोनों के बीच थाने में समझौता हो गया था. प्रेमिका से प्रेमी ने दोबारा परेशान नहीं करने मिन्नतें करने पर प्रेमिका ने उसे छोड़ दिया था.

प्रेमी आर्यन मालवीय सोमवार की देर रात प्रेमिका के घर पेट्रोल लेकर पहुंचा और पहले प्रेमिका के घर पर पेट्रोल डाला जिसकी भनक प्रेमिका और उसकी मां को लगी तो दोनों ही घर से बाहर निकल गई. बाहर प्रेमी ने प्रेमिका पर पेट्रोल डालकर लाइटर से आग लगा दी. घटना में प्रेमिका बुरी तरह से झुलस गई है.

प्रेमिका पेट्रोल पंप पर काम करती है और अपनी मां के साथ हमलापुर में किराए के मकान में रहती है. पहले प्रेमी आर्यन मालवीय प्रेमिका के साथ लिव-इन रिलेशनशिप में रहता था और उसकी हरकतों के कारण प्रेमिका ने साथ रहने और शादी से मना कर दिया था. प्रेमिका का इलाज जिला चिकित्सालय में जारी है. वहीं, पुलिस आरोपी आर्यन मालवीय की तलाश में जुटी हुई है.

पीड़ित युवती का कहना है कि उसने आर्यन मालवीय के साथ रहने से मना कर दिया था और शादी से मना कर दिया था जिसको लेकर वो परेशान करता था.

पीड़ित की मां का कहना है कि लड़का चाकू लेकर मारने दौड़ा था जिसकी शिकायत थाने में करने गए थे. लड़के को थाने में बैठा लिया गया था लेकिन लड़की ने उसे छोड़ने के लिए बोल दिया था. लड़का रात में आया और पेट्रोल डालकर आग लगा दी. इसके बाद पानी के टंकी में भी डुबाया था और बोल रहा था- तू मर जा.

इनका कहना

गंज थाना के टीआई रविकांत डेहरिया का कहना है कि पीड़ित 3 साल से हमलापुर में किराए के मकान में रह रही थी और पेट्रोल पंप पर काम करती थी. आर्यन मालवीय 3 साल से लिव इन रिलेशन में रह रहा था. पंद्रह बीस दिन पहले इनका विवाद हुआ था तब आर्यन मालवीय घर छोड़कर चला गया था. कल ही वापस आया था और उनके बीच कोई विवाद हुआ और उसने पेट्रोल लाल कर आग लगा दी. आरोपी पर हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया गया है. उसकी तलाश की जा रही है.

 


Back to top button