.

बिरनपुर दंगा मामला: आगजनी के मामले में बंद 15 लोगों को मिली जमानत

बेमेतरा.

छत्तीसगढ़ के बेमेतरा जिले के साजा थाना क्षेत्र के ग्राम बिरनपुर में 10 अप्रैल 2023 को हुई आगजनी मामले में पकड़े गए 15 आरोपियों को सोमवार को हाईकोर्ट ने जमानत दे दी है। इससे पहले आठ आरोपियों को जिला कोर्ट ने बरी कर दिया था। इन सभी आठों आरोपियों को साक्ष्य के अभाव में संदेह का लाभ मिला था। जमानत के बाद सोमवार शाम को बेमेतरा उपजेल के बाहर उनके समर्थकों की भीड़ लग गई है। देर रात तक सभी आरोपी अपने अपने घर पहुंचे। इस दौरान उनका स्वागत किया गया।

जेल से ही ये सभी भगवा वस्त्र धारण किए अपने घर के लिए निकले हैं। ग्राम बिरनपुर में आठ अप्रैल 2023 को भुवनेश्वर साहू पिता ईश्वर साहू की हत्या गांव के नवाब खान समेत अन्य लोगों द्वारा कर दी गई थी। हत्या के विरोध में 10 अप्रैल को विश्व हिंद परिषद, बजरंग दल समेत भाजपा द्वारा छत्तीसगढ़ बंद बुलाया गया था। इसी बंद के दौरान गांव में हजारों की संख्या में लोग एकत्र हो गए थे। गांव के खातून बी के मकान में दोपहर 2 से 2.30 के बीच में अज्ञात लोगों द्वारा आग लगा दिया गया। खातून बी का पूरा मकान जलकर राख हो गया था व कमरे में रखे सामान सिलाई मशीन, बर्तन, सायकल, घरेलू उपयोगी सामान जलकर नुकसान हो गया। राहत की बात थी कि इस घटना के दौरान खातून बी अपने परिवार के साथ विवाद के डर से कहीं चली गई थी।

बता दें कि इसी दिन ही गांव में पिता-पुत्र के शव भी मिले थे। इनके सिर पर चोट के निशान थे। मृतक के नाम रहीम मोहम्मद और ईदुल मोहम्मद हैं। इस मामले में कुछ आरोपी पकड़े गए है। वर्तमान में मामला कोर्ट में चल रहा है। वहीं भाजपा ने विधानसभा चुनाव के इसी क्षेत्र के साजा विधानसभा के लिए मृतक भुवनेश्वर साहू के पिता ईश्वर साहू को अपना प्रत्याशी बनाया। चुनाव में ईश्वर साहू ने कांग्रेस प्रत्याशी व मंत्री रविन्द्र चौबे को पांच हजार वोटों से हराया है।


Back to top button