.

बीजेपी नेता फंस गए हनीट्रैप में ? अश्लील वीडियो वायरल हुआ तो पार्टी ने लिया बड़ा एक्शन

12 ज्योतिर्लिंग की यात्रा पर निकले गुजरात के शख्स की गुना में मौत

 बीजेपी नेता फंस गए हनीट्रैप में ? अश्लील वीडियो वायरल हुआ तो पार्टी ने लिया बड़ा एक्शन

मतदान केन्द्र पर वोट डालते हुए वीडियो रिकॉर्ड करना युवक को पड़ा महंगा, पुलिस ने FIR की दर्ज

गुना

गुजरात के रहने वाले महेंद्र सिंह परमार (71 साल) साइकिल से 12 ज्योतिर्लिंगों की यात्रा पर निकले थे. इस बीच रविलार (19 मई) को मध्य प्रदेश के गुना में सड़क किनारे मृत पाए गए. वहीं राहगीरों ने उन्हें अस्पताल पहुंचाया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. पुलिस ने बताया कि महेंद्र सिंह परमार सूरत के एक वॉटर बॉटलिंग प्लांट से रिटायर्ड सुपरवाइजर थे और वो 12 ज्योतिर्लिंगों के दर्शन के लिए साइकिल यात्रा पर निकले थे.

भावनगर से लगभग 750 किमी दूर महेंद्र सिंह पिछले दिनों साइकिल से गुना शहर पहुंचे थे. यहां वह कैंट पुलिस थाना क्षेत्र के पास आराम करने के लिए रुके थे. यहां मौजूद लोगों ने उन्हें पहले वहीं बैठे हुए देखा और फिर कुछ ही देर के बाद वो वहीं लेट गए. ऐसे में लोगों को लगा कि वो आराम कर रहे होंगे, लेकिन जब बहुत देर तक वह नहीं उठे तो स्थानीय नागरिकों ने पुलिस को पूरे मामले की सूचना दी. पुलिस प्रशासन ने डॉक्यूमेंट के आधार पर मृत महेंद्र सिंह परमार की पहचान की.

पहले कर चुके थे नर्मदा की परिक्रमा
इसके बाद महेंद्र सिंह परमार की पत्नी नैना बेन, बेटे और बेटी को सूचना दी गई, जो सोमवार सुबह गुना पहुंचे. नैना बेन ने कहा कि उनके पति एक धार्मिक व्यक्ति थे, जिन्होंने पैदल ही नर्मदा परिक्रमा की थी. सोमवार को जिला अस्पताल में शव का पोस्टमार्टम कराया गया. प्रारंभिक रिपोर्ट में मौत का कारण हार्ट अटैक बताया गया है. पुलिस आगे की जांच कर रही है.

बता दें रविवार को गुना का तापमान 45.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था. दरअसल, बदलते मौसम और लू चलने से लेकर भीषण गर्मी के कारण शरीर पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है. ऐसे समय में एक बात का ध्यान रखना चाहिए कि नियमित रूप से आराम करना चाहिए और स्वास्थ्य संबंधी सावधानियां बरतनी चाहिए.

 बीजेपी नेता फंस गए हनीट्रैप में ? अश्लील वीडियो वायरल हुआ तो पार्टी ने लिया बड़ा एक्शन

अशोकनगर

अशोकनगर जिले के चंदेरी का हनीट्रैप मामला इस समय  प्रदेश की राजनीति में  सुर्खियों में है. अशोकनगर जिले की चंदेरी नगर पालिका के पूर्व पार्षद एवं भाजपा पिछड़ा वर्ग मोर्चा के जिलामंत्री का एक आपत्तिजनक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिसके बाद जिले के राजनीतिक गलियारों में चर्चाओं का दौर शुरू हो गया है. वहीं भाजपा ने मामले में एक्शन लेते हुए नेता जी को पार्टी से निष्कासित कर दिया है.

    भजापा नेता ने चंदेरी थाने में एक महिला और एक पुरुष के खिलाफ ब्लैकमेलिंग की रिपोर्ट दर्ज कराई है. शिकायत में भाजपा नेता ने आरोप लगाए हैं कि उनसे इस वीडियो के बदले में महिला के द्वारा 8 लाख की मांग की गई थी. जिसके लिए उन्होंने मोबाइल नम्बर भी पुलिस को दिए. पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच में ले लिया है.

वीडियो वायरल होने पर पार्टी ने लिया बड़ा एक्शन

जैसे ही मामला दर्ज हुआ, उसके बाद नेता जी का अंतरंग वीडियो तेजी से वायरल होने लगा. वीडियो वायरल के मामले ने  जैसे ही तूल पकड़ा तो पार्टी ने पूर्व पार्षद छोटू सिहारे को पार्टी से निष्कासित कर दिया है.

पार्टी के पत्र में लिखा हुआ है, "विभिन्न संचार माध्यमों से एक अश्लील व अनैतिक वीडियो प्रसारित हो रहा है ,यह कृत्य सामाजिक व्यभिचार की श्रेणी में आता है. भाजपा उच्च नैतिक मूल्यों एवं आदर्शों में विश्वास रखती है. इस दुष्कृत्य से पार्टी की छवि धूमिल हो रही थी, जिसे पार्टी के सभी दायित्व एवं प्राथमिक सदस्यता से निष्कासित किया जाता है."

 

मतदान केन्द्र पर वोट डालते हुए वीडियो रिकॉर्ड करना युवक को पड़ा महंगा, पुलिस ने FIR की दर्ज

कटनी

चुनाव आयोग ने मतदान के दौरान पोलिंग के अंदर मोबाइल फोन समेत कई अन्य डिवाइसों को अंदर ले जाने पर रोक लगाई हुई है. लेकिन, आयोग की इस रोक कोई असर होता दिखाई नहीं दे रहा है. लोकसभा चुनाव के हर चरण में सैकड़ो वीडियो और फोटोज सामने आए हैं. जिनमें नियमों की धज्जियां उड़ाई गई हैं. वीडियो और फोटो बनाकर सार्वजनिक करने के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं. मतदान की गोपनीयता भंग करने के ऐसे ही एक मामले में कटनी पुलिस ने एक युवक के खिलाफ मामला दर्ज किया है.

बूथ के अंदर फोन से बनाया वीडियो

बहोरीबंद के मतदान केंद्र क्रमांक 141 में पंकज साहू ने बीजेपी प्रत्याशी व्ही डी शर्मा के पक्ष में मतदान करते हुए कमल का बटन दबाते हुए उसका वीडियो बनाया है. वायरल वीडियो में वीवीपैट की पर्ची गिरते हुए भी दिखाया जाता है. इस वीडियो के बैक ग्राउंड में जो राम को लाए हैं. हम उनको लायेंगे की धुन भी बज रही है. वीडियो के आखिरी में युवक खुद भी दिखाई देता है.

मतदान की गोपनीयता भंग करने का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल होने के बाद पीठासीन अधिकारी पंकज पटेल की सूचना पर स्लीमनाबाद पुलिस ने पंकज साहू के खिलाफ एफ आई आर दर्ज की है.


Back to top button