.

बन्धन…

©पद्म मुख पंडा

परिचय- रायगढ़, छत्तीसगढ़


 

 

(गणतंत्र दिवस के पावन अवसर पर)

 

बन्धन शब्द ,श्रवण करते ही,

उर में,कष्ट उपजता है।

अकुलाहट सी होती प्रतीति,

मन दासत्व समझता है!

मानव जीवन, है दुर्लभ,

हर क्षण का अपना मूल्य है,

है स्वतंत्रता, सब प्राणी को,

बन्धन, विष के तुल्य है!

एक बन्धन ऐसा भी है,

जिसमें ममता का वास है,

माता पिता और संतति का,

बन्धन प्रिय है, खास है!

बन्धन में रहकर भी मानव,

तब प्रसन्न हो जाता है,

जब उसको, निजत्व भाव से,

कोई प्रेम जताता है!

 

Padma Mukh Panda, Raigarh, Chhattisgarh

🔥 सोशल मीडिया

 

फेसबुक पेज में जुड़ने के लिए क्लिक करें

https://www.facebook.com/onlinebulletindotin

 

व्हाट्सएप ग्रुप में जुड़ने के लिए क्लिक करें

https://chat.whatsapp.com/Cj1zs5ocireHsUffFGTSld

 

ONLINE bulletin dot in में प्रतिदिन सरकारी नौकरी, सरकारी योजनाएं, परीक्षा पाठ्यक्रम, समय सारिणी, परीक्षा परिणाम, सम-सामयिक विषयों और कई अन्य के लिए onlinebulletin.in का अनुसरण करते रहें.

 

🔥 अगर आपका कोई भाई, दोस्त या रिलेटिव ऑनलाइन बुलेटिन डॉट इन में प्रसारित किए जाने वाले सरकारी भर्तियों के लिए एलिजिबल है तो उन तक onlinebulletin.in को जरूर पहुंचाएं।

 


Check Also
Close
Back to top button