.

क्या केवल क्षत्रिय ही बन सकते हैं सांसद, तेली हूं इसलिए हो रहा विरोध: संगमलाल गुप्ता

प्रतापगढ़

प्रतापगढ़ लोकसभा क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी और निवर्तमान सांसद संगमलाल गुप्ता मंच से भाषण देते समय अचानक रोने लगे। उनका दर्द छलक उठा। उन्होने कहा कि क्या तेली होने के कारण उन्हें सांसद बनने का हक नहीं है। राजाओं के गढ़ में क्या सिर्फ क्षत्रिय ही सांसद बन सकते हैं। तेली होने के कारण उनका विरोध किया जा रहा है।

प्रतापगढ़ से भाजपा प्रत्याशी संगम लाल गुप्ता ने केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल के साथ सोमवार को पट्टी में सभा को संबोधित कर रहे थे। पटेल समुदाय का साथ देने और उनके साथ हर समय खड़ा रहने की बात कही। उन्होंने कहा कि लंबे समय तक इस सीट पर विपक्षी दलों का कब्जा रहा। उनसे अगर 18 गांवों के नाम पूछ लें तो बता नहीं पाएंगे। मंच से सांसद का दर्द भी छलक गया। उनकी आंखों से आंसू निकल आए। संगमलाल ने रोते हुए कहा कि मैं तेली समाज से आता हूं, इसलिए चुनाव में मेरा विरोध हो रहा है। क्या कोई तेली सांसद नहीं बन सकता है। राजाओं के गढ़ में सिर्फ क्षत्रिय ही सांसद बन सकता है।

लोकसभा चुनाव में बाहुबली विधायक और जनसत्ता दल लोकतांत्रिक के अध्यक्ष रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजाभैया का का रुख बदल जाने के कारण भाजपा सकते में है। वर्तमान सांसद संगमलाल गुप्ता को जनता के विरोध का भय सता रहा है। राजाभैया के समर्थक संगमलाल गुप्ता के खिलाफ माहौल बनाने का प्रयास कर रहे हैं।

इसी बीच भाजपा सांसद का रोते हुए क्षत्रिय समाज के खिलाफ दिया गया भाषण का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। उनके बयान को लेकर तरह-तरह के सवाल उठ रहे हैं। उन्होंने सीधे सर्वण खास तौर पर क्षत्रिय समाज पर निशाना साधा। इसको लेकर क्षत्रिय समाज की नाराजगी चुनाव में उन्हें झेलनी पड़ सकती है।


Back to top button