.

CG news: नक्सलियों ने दंतेवाड़ा में रोकी ट्रेन, बैनर बांध लोको पायलट से वॉकी-टॉकी लूटा | ऑनलाइन बुलेटिन

दंतेवाड़ा | [छत्तीसगढ़ बुलेटिन] | chhattisgarh news राज्य के नक्सल प्रभावित बस्तर में माओवादियों ने फिर उत्पात मचाया है। लगभग 50 की संख्या में पहुंचे हथियारबंद माओवादियों ने दंतेवाडा-किरंदुल के बीच गुड्स ट्रेन (मालगाड़ी) को रोका और लोको पायलट से वॉकी-टॉकी लूट लिया। नक्सलियों ने मालगाड़ी को रुकवाकर उसमें बैनर भी बांध दिए। नक्सलियों ने रेलवे के किसी भी कर्मचारी को कोई नुकसान नहीं पहुंचाया है। घटना के बाद से दहशत है। मामला रविवार की शाम भांसी थाना क्षेत्र में हुआ।

 

मिली जानकारी के मुताबिक नक्सली लाल बैनर लेकर किरंदुल-विशाखापट्टनम रेलवे लाइन पर खड़े थे। घाटी, जंगल और नक्सल क्षेत्र होने की वजह से ट्रेन की रफ्तार 10 से 15 किमी प्रति घंटे ही रहती है। माओवादियों को ट्रैक पर खड़ा देख पायलट ने इमरजेंसी ब्रेक लगा दिया। ट्रेन रुकने के बाद नक्सलियों ने मालगाड़ी में बैनर बांध दिया और नक्सल पर्चे भी छोड़े। माओवादियों ने ट्रेन के लोको पायलट से वॉकी-टॉकी भी लूट लिया। नक्सलियों ने ट्रेन को आधे घंटे तक रोके रखा और इसके बाद जंगल की तरफ चले गए। नक्सलियों के जाने के बाद ट्रेन भांसी स्टेशन को रवाना हुई।

 

एक्सप्रेस और पैसेंजर ट्रेन पहले ही बंद

 

बता दें कि माओवादी दहशत की वजह से किरंदुल-विशाखापट्टनम एक्सप्रेस और पैसेंजर ट्रेनों को पिछले कुछ दिनों से दंतेवाड़ा स्टेशन में ही रोका जा रहा है। ट्रेन को दंतेवाड़ा से आगे किरंदुल नहीं जाने दिया जा रहा है।

 

किरंदुल और दंतेवाड़ा के बीच बासनपुर- झिरका के बीच का इलाका बेहद संवेदनशील है। नक्सली जब भी कोई दिवस मनाते हैं तो इसी जगह वारदात को अंजाम देते हैं। इसलिए रेलवे किरंदुल तक पैसेंजर ट्रेनों की आवजाही पर ब्रेक लगा देता है। कुछ महीने पहले तक जगदलपुर में ही यात्री ट्रेनें रोक ली जाती थी। लेकिन, लोगों की मांग के बाद दंतेवाड़ा अंतिम स्टॉपेज किया गया है।

 

 

लखनऊ कोर्ट ने मशहूर डांसर सपना चौधरी को लिया कस्टडी में, जानें क्या है पूरा मामला | ऑनलाइन बुलेटिन

 

 

 

 

 

Related Articles

Back to top button