.

छत्तीसगढ़ के मंत्री सिंहदेव का मोदी पर हमला, बोले- PM ने इस दौर को चीतों का अमृतकाल घोषित कर दिया | ऑनलाइन बुलेटिन

रायपुर | [छत्तीसगढ़ बुलेटिन] | राज्य स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तीखा हमला बोला है। उन्होंने अपने ट्विटर एकाउंट पर लिखा- ‘नोटबंदी की कतारों में लोग मरे, लॉकडाउन में सड़कों पर मजदूर मरे, कोरोना में लाखों परिवार उजड़ गए, हर 4 में से 1 आत्महत्या करने वाला दिहाड़ी मजदूर है। देश में ज्यादातर आत्महत्या आर्थिक संकट के कारण हुए हैं। यह सब नकार कर प्रधानमंत्री ने इस दौर को चीतों का अमृतकाल घोषित कर दिया।’

 

दरअसल, मध्य प्रदेश के श्योपुर स्थित कूनो नेशनल पार्क में नामीबिया से शनिवार को 8 चीते लाए गए हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केज का गेट खोलकर चीतों को बाड़े में छोड़ा। नामीबिया से लाए गए चीतों में 5 मादा और 3 नर हैं। इनसे ही भारत में चीतों का कुनबा बढ़ाने की तैयारी है।

 

 

इन चीतों के भोजन के लिए केज में चीतल को भी छोड़ा गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस दौरान कहा कि आज आजादी के अमृत काल में देश नई ऊर्जा के साथ चीतों के पुनर्वास में जुट गया है। चीते मेहमान बनकर आए हैं। कूनो को यह चीते अपना घर बना पाएं, इसीलिए हमें इन्हें कुछ महीनों का समय देना होगा।

 

1947 में 3 चीते बचे थे उनका भी शिकार किया

 

बता दें कि कभी चीतों का घर रहे भारत में आजादी के वक्त ही चीते पूरी तरह विलुप्त हो गए। 1952 में भारत में चीतों को विलुप्त वन्य जीव घोषित कर दिया था। अब 70 साल बाद देश की धरती पर एक बार फिर चीता देखने को मिलेगा। पीएम मोदी ने मध्य प्रदेश में कहा कि हमने उस समय को भी देखा, जब प्रकृति के दोहन को शक्ति प्रदर्शन का प्रतीक मान लिया गया था। साल 1947 में जब देश में केवल 3 चीते बचे थे, तो उनका भी शिकार कर लिया गया।

 

 

महिला सरपंच ने अपने जेवर गिरवी रखकर गांव में लगवाए सीसीटीवी, निभाया चुनावी वादा | ऑनलाइन बुलेटिन

 

 

 

Related Articles

Back to top button