.

स्मार्ट सिटी फंड से निर्माण : भाजपाइयों ने रोका काम; मेयर बोले- बाधा नहीं डालें, वरना होगी FIR l ऑनलाइन बुलेटिन

बिलासपुर l (छत्तीसगढ़ बुलेटिन) l बिलासपुर में स्मार्ट सिटी फंड से हो रहे निर्माण कार्य को घटिया बताते हुए रविवार दोपहर मोहल्लेवासियों के साथ मिलकर भाजपाइयों ने रुकवा दिया। भाजपा नेता और मौजूद लोगों ने इस तरह गुणवत्ताहीन निर्माण कार्य के खिलाफ अभियान चलाने की बात कही। भाजपाइयों ने कहा कि जहां-जहां इस तरह का निर्माण कार्य किया जाएगा। वहां जाकर भारतीय जनता पार्टी पूरी ताकत के साथ उसका विरोध करेगी। उन्होंने कहा कि स्मार्ट सिटी मद की राशि का दुरुपयोग करने के मामले की केंद्र सरकार से शिकायत करने की बात कही।

 

विवाद की खबर मिलते ही महापौर रामशरण यादव मौके पर पहुंच गए। उन्होंने निर्माण कार्य में बाधा उत्पन्न नहीं करने की चेतावनी देते हुए पुलिस कार्रवाई की बात की। बावजूद इसके लोग अड़े रहे और जांच की मांग करते रहे। इस पर जांच कराने और टेंडर निरस्त करने के आश्वासन देने पर मामला शांत हुआ।

दरअसल, स्मार्ट सिटी फंड से नेहरू चौक से मंगला तक सौंदर्यीकरण का काम कराया जा रहा है। इसके तहत नाली का भी निर्माण हो रहा है। नाली निर्माण में गुणवत्ताहीन मटेरियल और घटिया निर्माण कार्य की शिकायत निगम के अधिकारियों से की गई थी। मोहल्ले वासियों का कहना था क नाले की सफाई किए बिना ही मटेरियल का उपयोग कर ढलाई किया जा रहा है। बार-बार शिकायत करने के बाद भी निगम अमले ने ध्यान नहीं दिया।

इस पर रविवार को भाजपा नेता रोहित मिश्रा, पार्षद प्रतिनिधि कमल जैन सहित मोहल्ले के लोग आक्रोशित होकर काम बंद कराने पहुंच गए। उन्होंने घटिया निर्माण का आरोप लगाते हुए काम बंद करने को लेकर नारेबाजी करते हुए हंगामा शुरू कर दिया। विरोध प्रदर्शन की सूचना मिलते ही महापौर रामशरण यादव भी वहां पहुंच गए। उन्होंने निर्माण कार्य में बांधा उत्पन्न करने पर पुलिसिया कार्रवाई करने की चेतावनी दे दी। इससे लोगों को गुस्सा और भड़क गया।

पुरानी पेंशन बहाल करना मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का ऐतिहासिक निर्णय : गौरीशंकर यादव l ऑनलाइन बुलेटिन
READ

 

महापौर बोले-निर्माण कार्य बंद कराया तो होगी कार्रवाई

 

विवाद व हंगामे की खबर सुनकर मौके पर पहुंचे महापौर रामशरण यादव ने पहले प्रदर्शन कर रहे भाजपाइयों व मोहल्लेवासियों को कार्रवाई करने की चेतावनी दी। उनकी बातों को सुनकर मोहल्लेवासी भड़क गए और कार्रवाई करने की बात पर अड़ गए। विरोध को देखते हुए महापौर यादव ने नाला निर्माण कार्य का निरीक्षण कराने के साथ ही गड़बड़ी पाए जाने पर टेंडर निरस्त करने का भरोसा दिलाया।

 

 

 

Related Articles

Back to top button