.

हरेली पर स्कूलों में होगा गेड़ी नृत्य व स्पर्धाएं, सीएम भूपेश के साथ स्टूडेंट्स भी चढ़ेंगे ‘गेड़ी’ harelee par skoolon mein hoga gedee nrty va spardhaen, seeem bhoopesh ke saath stoodents bhee chadhenge gedee

रायपुर | [छत्तीसगढ़ बुलेटिन] | छत्तीसगढ़ की कला और संस्कृति को प्रोत्साहित करने व बच्चों को इससे जोड़ने प्रदेश सरकार अब स्कूलों में गेड़ी उत्सव मनाएगी। 28 जुलाई को हरेली पर्व पर गेड़ी नृत्य और प्रतियोगिता का आयोजन प्रदेशभर के स्कूलों में होगा। सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि हरेली पर्व पर आयोजित होने वाले गेड़ी नृत्य एवं गेड़ी प्रतियोगिता का आयोजन स्कूलों में होगा और बच्चों को पुरस्कृत भी किया जाएगा। राज्य सरकार ने इसके आदेश भी जारी कर दिए हैं।

 

दरअसल, राज्य की सांस्कृतिक विविधताओं, गौरवशाली परंपराओं को सहजने और संरक्षित करने प्रदेश सरकार हर साल हरेली तिहार मनाती है। हरेली पर मुख्यमंत्री निवास में कई कार्यक्रम होते हैं। इस बार अब प्रदेशभर के स्कूलों में गेड़ी डे उत्सव का आयोजन होगा।

 

बता दें कि हरेली पर्व पर गेड़ी का बहुत ही महत्व है। छत्तीसगढ़ के लोग हरेली त्यौहार को उत्साह से मनाते हैं। बच्चों के लिए गेड़ी बनाते हैं। हरेली से गेड़ी चढ़ने की शुरुआत होती है जो भादो में तीजा-पोला तक मनाया जाता है। छत्तीसगढ़ की परंपराओं, संस्कृति और लोककला को बढ़ावा देने सीएम भूपेश बघेल लगातार पहल कर रहे हैं।

 

बोरे बासी भी हुआ था देशभर में ट्रेंड

 

1 मई मजदूर दिवस के दिन छत्तीसगढ़ में सीएम भूपेश बघेल ने मजदूरों के सम्मान में बोरे बासी खाने की अपील की थी। यह देशभर में ट्रेंड हुआ था। लोगों ने बोरे बासी खाते हुए सोशल मीडिया में खूब फोटो शेयर किया था। सीएम बघेल, मंत्री और अफसरों ने खुद मजदूरों के साथ बोरे बासी खाया था।

हायर एजुकेशन पाने अब नहीं जाना पड़ेगा बाहर, छत्तीसगढ़ में खुलेंगे 10 सरकारी इंग्लिश मीडियम कॉलेज haayar ejukeshan paane ab nahin jaana padega baahar, chhatteesagadh mein khulenge 10 sarakaaree inglish meediyam kolej
READ

 

अब 28 जुलाई को गेड़ी नृत्य और स्पर्धा का आयोजन प्रदेश के स्कूलों में होंगे। कैबिनेट की बैठक में इस पर चर्चा के बाद अफसर कार्यक्रम की तैयारियों में जुट गए हैं। सीएम भूपेश बघेल कई सरकारी आयोजनों या त्यौहारों पर गेड़ी चढ़ते रहे हैं।

 

 

Gedi dance and competitions will be held in schools on Hareli, along with CM Bhupesh, students will also climb ‘Gedi’

 

 

Raipur | [Chhattisgarh Bulletin] | To encourage the art and culture of Chhattisgarh and to connect the children with it, the state government will now celebrate Gedi festival in schools. On July 28, Gedi dance and competition will be organized in schools across the state on Hareli festival. CM Bhupesh Baghel said that Gedi dance and Gedi competition to be organized on Hareli festival will be organized in schools and children will also be rewarded. The state government has also issued its orders.

 

Actually, the state government celebrates Hareli Tihar every year to preserve and preserve the cultural diversity, glorious traditions of the state. Many programs take place at the Chief Minister’s residence at Hareli. This time Gedi Day festival will be organized in schools across the state.

 

Let us tell that Gedi has a lot of importance on the Hareli festival. People of Chhattisgarh celebrate Hareli festival with enthusiasm. Make Gadi for kids. Hareli marks the beginning of the Gedi climbing which is celebrated till Teeja-Pola in Bhado. CM Bhupesh Baghel is continuously taking initiatives to promote the traditions, culture and folk art of Chhattisgarh.

आरक्षण को लेकर 1 व 2 दिसंबर को होगा राज्य विधानसभा का विशेष सत्र, विस अध्यक्ष को भेजा प्रस्ताव | ऑनलाइन बुलेटिन
READ

 

Sack stale was also trend across the country

 

In Chhattisgarh, on May 1, Labor Day, CM Bhupesh Baghel had appealed to eat stale sacks in honor of the workers. It was trending across the country. People shared a lot of photos on social media while eating stale sacks. CM Baghel, ministers and officers themselves had eaten sacks of stale with the laborers.

 

Now on July 28, Gedi dance and competition will be organized in the schools of the state. After discussing this in the cabinet meeting, the officers have started preparing for the program. CM Bhupesh Baghel has been climbing on many government events or festivals.

 

 

©नवागढ़ मारो से धर्मेंद्र गायकवाड़ की रपट  

छत्तीसगढ़ में अब घर बैठे करा सकेंगे हाइपोथीकेशन टर्मिनेशन chhatteesagadh mein ab ghar baithe kara sakenge haipotheekeshan tarmineshan

 

Related Articles

Back to top button