.

फरार अक्षय कांति बम का सुराग देने वाले को कांग्रेस की इनाम देने की घोषणा

इंदौर
इंदौर लोकसभा चुनाव के मैदान से कदम पीछे खींचने वाले और आईपीसी की धारा 307 में आरोपी अक्षय कांति बम को कांग्रेस घेरने में जुट गई है. बागी होकर बीजेपी में शामिल हो चुके नेता बम के खिलाफ कांग्रेस ने शहर में जगह-जगह पोस्टर-बैनर चिपका दिए हैं. यह पोस्टर्स हत्या के आरोप में फरार चल रहे बम को गिरफ्तार करवाने के लिए लगवाए गए हैं.  

इंदौर शहर कांग्रेस कमेटी के कार्यवाहक अध्यक्ष देवेंद्र सिंह यादव ने बताया, कांग्रेस पार्टी के भगोड़ा लोकसभा चुनाव उम्मीदवार और आईपीसी की धारा 307 के आरोपी अक्षय कांति बम को गिरफ्तार करवाने के लिए पार्टी लगी हुई है. पुलिस का सहयोग करने के लिए रात्रि 11 बजे निगरानी उड़नदस्ता लगाया गया है. पोस्टर और बैनरों मे लिखवाया है कि फरार आरोपी अक्षय बम की सूचना 94250-60420 नंबर पर देने वाले आम नागरिक या कांग्रेस के कार्यकर्ता को 5100 रुपए का नगद इनाम दिया जाएगा और प्रतीक चिह्न देकर सम्मानित किया जाएगा.

फरार आरोपी अक्षय कांति बम के पोस्टर सैकड़ों की संख्या मे ई-रिक्शा, ऑटो रिक्शा सहित रेलवे स्टेशन, सरवटे बस स्टेड, रीगल चौराहा, पलासिया चौराहा, तिलक नगर, एसओजी लाईन, यशवंत रोड, जयराम कॉलोनी सहित कई स्थानों पर चिपकाए गए हैं.  

यादव ने कहा है कि सेंशन कोर्ट से अक्षय कांति बम की अग्रिम जमानत अर्जी खारिज हो चुकी है. निचली अदालत की तरफ से अक्षय कांति बम और अन्य के खिलाफ हत्या के प्रयास की धारा 307 बढ़ाए जाने के बाद गिरफ्तारी वारंट जारी किया जा चुका है तो आरोपी को गिरफ्तार क्यों नहीं किया जा रहा है? कोर्ट के आदेश का पालन क्यों नहीं किया जा रहा है? कांग्रेस ने मांग की है कि आरोपी अक्षय बम को शीघ्र गिरफ्तार किया जाए. हमारा निगरानी उड़नदस्ता भी लगातार पुलिस के सहयोग के लिए उसे जगह-जगह तलाश रहा है और इसलिए इनाम भी अब घोषित किया गया है, क्योंकि आम जनता से इसकी जानकारी मिल सके और हम इसकी सूचना पुलिस प्रशासन को दे सकें.

कांग्रेस के कार्यवाहक अध्यक्ष ने कहा, पहले भी हमने खजराना थाना प्रभारी सुजित को भी आरोपी अक्षय बम की गिरफ्तारी की मांग को लेकर एक ज्ञापन सौंपा था, तो उन्होंने बताया था कि हमारी टीम उसको गिरफ्तार करने के लिए लगी हुई है और कई स्थानों पर छापेमार कार्रवाई भी की गई है. गिरफ्तारी वारंट हमें मिल चुका है. कानून अपना काम कर रहा है. सूचना मिलने पर शीघ्र ही उसे गिरफ्तार किया जाएगा.


Back to top button