.

अफगानिस्तान में बाढ़ से भीषण तबाही, 200 लोगों की मौत, दर्जनों लापता

काबुल

 आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के प्रांतीय निदेशक हेदायतुल्ला हमदर्द ने बताया कि “तूफान और बाढ़ ने गोजरगाह-ए-नूर, जेलगाह, नाहरीन, बगलान-ए-मरकज़ी और बरका जिलों के साथ-साथ पुल-ए-खुमरी की प्रांतीय राजधानी को प्रभावित किया। समाचार एजेंसी शिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, तूफान और बाढ़ ने (Afghanistan Flood) तखर, बदख्शां और समांगन समेत दूसरे उत्तरी प्रांतों के अधिकांश हिस्सों को भी प्रभावित किया। उन्होंने कहा कि पीड़ितों की तलाश के लिए तलाशी अभियान जारी है तो वहीं मरने वालों की संख्या अभी और बढ़ सकती है।

तालिबानी सरकार ने कहा राहत और बचाव कार्य जारी

इसी बीच तालिबान के सार्वजनिक स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि प्रभावित क्षेत्रों में बचाव दल को भेजा गया है। मंत्रालय़ के प्रवक्ता शराफत ज़मान ने कहा कि घायलों और शवों को केंद्रीय अस्पताल में रेफर कर दिया गया है। हालाँकि, भीषण बाढ़ के चलते अभी प्रभावित लोगों की सटीक संख्या पचा नहीं चल पा रही है।

अफगानिस्तान की स्थानीय मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक तखर और घोर प्रांतों के स्थानीय अधिकारियों ने बाढ़ के चलते 4 और लोगों की मौत की सूचना दी है।इस तरह के मामलों ने अब अफगानिस्तान को हिलाकर रख दिया है।
पिछले महीने भी बारिश-बाढ़ ने मचाई थी तबाही

बता दें कि अफगानिस्तान में पिछले महीने से भारी बारिश और बाढ़ आ रही है। इससे पहले देशभर में 80 से ज्यादा मौतें हो चुकी हैं। अब इस महीने की शुरुआत में भारी बारिश और उसके बाद बाढ़ ने कम से कम 14 लोगों की जान ले ली और पूरे देश में जन-धन का विनाश हुआ।


Back to top button