.

शासन वही करता है shaasan vahee karata hai

©गुरुदीन वर्मा, आज़ाद

परिचय– बारां, राजस्थान.


 

 

देश की जनता पर, शासन वही करता है।
जो देश की जनता का, दिल से भला करता है।।
देश की जनता पर———————।।

लोकतांत्रिक देश में, जनता शासक चुनती है।
जनता विरोधी शासन को, जनता बदल देती है।।
अत्याचारी शासन देश में, ज्यादा नहीं चलता है।
जो प्यार दे जनता को, शासन वही टिकता है।।
देश की जनता पर——————–।।

जनता के दुःखों को दूर, करता है जो शासन।
जनता को हर सुविधा, देता है सदा जो शासन।।
जनता को जो शासन, परिवार अपना कहता है।
जनता को जो दे इज्जत, शासन वही बचता है।।
देश की जनता पर——————–।।

हिटलरवादी शासन, जनता का दुश्मन होता है।
ऐसा शासन तो सच में, पापी-हत्यारा होता है।।
खुशहाल देश की जनता को, जो शासन रखता है।
ऐसा ही शासन देश में, कई वर्षों तक चलता है।।
देश की जनता पर———————-।।

 

government does the same

 

 

That is what the government does over the people of the country.
Who does good to the people of the country from the heart.
On the people of the country ——————–.

In a democratic country, the people choose the ruler.
The people change the anti-people regime.
In the country, tyrannical rule does not work much.
The one who gives love to the people, that is what the government lasts. On the people of the country ———————–.

Government who removes the miseries of the people.
The government always gives every facility to the people.
The government that the people call their family theirs.
Whatever respect is given to the people, that is what the government is left with.
On the people of the country ———————–.

Hitler’s regime is the enemy of the people.
Such a government is, in fact, a sinner-killer.
To the people of a happy country, the one who governs.
The same rule continues in the country for many years.
On the people of the country ———————-.

 

 

अंधेरा मेरा दोस्त है andhera mera dost hai

 

 

 

Related Articles

Back to top button