.

भाजपा द्वारा वरुण गांधी को टिकट न देने पर मेनका गांधी का बयान

सुल्तानपुर

पूर्व मंत्री व सुल्तानपुर लोकसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी मेनका गांधी ने भाजपा द्वारा पुत्र वरुण गांधी को टिकट न देने पर कहा कि वो इसके बिना भी अच्छा कर रहे हैं। मुझे उनके भविष्य की चिंता नहीं है। सुल्तानपुर में वरुण के प्रचार न करने पर उन्होंने कहा कि हमने अभी इस पर निर्णय नहीं लिया है। मेनका गांधी ने पीटीआई से बातचीत में कहा कि भाजपा इस बार भी बड़ी जीत दर्ज करेगी और केंद्र में सरकार बनाएगी।

भाजपा के 400 पार जाने की संभावना पर उन्होंने कहा कि अगर ऐसा संभव न होता तो ये नारा न दिया जाता। हम विकास के मुद्दे पर चुनाव लड़ रहे हैं और जनता हमारे साथ है। भाजपा ने पीलीभीत लोकसभा सीट पर इस बार यूपी सरकार के मंत्री जतिन प्रसाद को प्रत्याशी बनाया है। वरुण गांधी का टिकट काट दिया गया है। सुल्तानपुर सीट पर 2019 के चुनाव में मेनका गांधी ने करीब 14 हजार वोटों से जीत दर्ज की थी।

मेनका का दावा है कि इस बार भी उन्हें जीत मिलेगी। क्षेत्र की जनता के लिए काम किया गया है। लोगों को राशन मिल रहा है। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत घर दिया गया है। सुल्तानपुर सीट पर इंडिया गठबंधन की तरफ से राम भुआल निषाद को प्रत्याशी बनाया गया है।

केंद्र में भाजपा की सरकार बनने पर क्या मंत्री बनेंगी
मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में मेनका गांधी कैबिनेट मंत्री रह चुकी हैं। इस बार सरकार बनने पर क्या वह मंत्री बनेंगी? इस पर उन्होंने कहा कि इस पर मैं कोई निर्णय नहीं ले सकती।

पीलीभीत लोकसभा सीट पर 1996 के बाद से ही वरुण गांधी और मेनका गांधी की रही है। इस सीट पर 1998 और 1999 में निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में जीत दर्ज की। भाजपा के टिकट पर उन्होंने 2004  और 2014 में जीत दर्ज की। 2019 के चुनाव में वरुण गांधी ने पीलीभीत सीट पर जीत दर्ज की थी। इस बार जितिन प्रसाद को प्रत्याशी बनाए जाने पर वरुण गांधी ने पीलीभीत की जनता को चिट्टी भी लिखी थी और कहा था कि क्षेत्र की जनता से उनका रिश्ता हमेशा ही बना रहेगा।


Back to top button