.

मर्दों में ज्यादा है औरतों से किडनी और दिल की बीमारी का खतरा – स्टडी

नईदिल्ली

डायबिटीज से पीड़ित मरीजों को लेकर एक नई रिसर्च सामने आई है. स्टडी के मुताबिक इससे शिकार पुरुषों के अंदर महिलाओं की तुलना में गंभीर स्वास्थ्य समस्याएं पैदा होने का खतरा ज्यादा होता है. सिडनी यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं के मुताबिक डायबिटीज से हार्ट, पैर, किडनी और आंखों में होने वाली बीमारियां महिलाओं के मुकाबले पुरुषों में अधिक देखी गईं, भले ही उन्हें कितने समय से मधुमेह हो.

रिसर्च में शामिल किए गए 25,713 लोग

इस रिसर्च में 25,713 लोगों को शामिल किया गया. इनमें से सभी की उम्र 45 वर्ष से अधिक थी और वे टाइप 1 या टाइप 2 डायबिटीज से पीड़ित थे. इस लोगों में सर्वे के माध्यम से डायबिटीज के चलते विकसित हुई स्वास्थ्य समस्याओं पर 10 सालों तक नजर रखी गई, फिर इस डाटा को उनके मेडिकल रिकॉर्ड से जोड़ा गया.

हार्ट संबंधित बीमारियों के बारे में क्या कहती है स्टडी

शोधकर्ताओं ने पाया कि 25,713 लोगों की स्टडी में  44 प्रतिशत पुरुषों में स्ट्रोक और हार्ट फेल्योर समेत कार्डियोवस्कुलर कॉम्पलिकेशन पाया गया. वहीं, महिलाओं में 31 प्रतिशत लोगों पर  इन बीमारियों का खतरा पाया गया. यूनिवर्सिटी की ये फाइंडिग्स 'जर्नल ऑफ एपिडेमियोलॉजी एंड कम्युनिटी हेल्थ' में प्रकाशित की गई है.

किडनी और पैर की बीमारियों पर शोधकर्ताओं ने क्या बताया

स्टडी के मुताबिक डायबिटीज से पीड़ित 25 प्रतिशत पुरुषों में पैर सबंधित समस्याएं पाई गई. वहीं, महिलाओं में ये संख्या 18 प्रतिशत है.  वहीं, 35 प्रतिशत मधुमेह से पीड़ित पुरुष किडनी की बीमारियों के शिकार पाए गए. वहीं डायबिटीज से पीड़ित महिलाओं में ये आंकड़ा 25 प्रतिशत पाया गया.

शोधकर्ताओं के मुताबिक डायबिटीज से पीड़ित महिलाओं की तुलना में इससे पीड़ित पुरुषों में हार्ट संबंधी समस्याएं होने की आशंका 51 प्रतिशत अधिक थी.  मधुमेह से पीड़ित पुरुषों में किडनी की बीमारी होने की आशंका 55 प्रतिशत अधिक पाई गई.

आंख संबंधी बीमारी पर स्टडी में निकल कर आया ये निष्कर्ष

इसके अलावा डायबिटीज के मरीजों में पैर संबंधी बीमारी होने की आशंका 47 प्रतिशत पाई गई. हालांकि, आंखों की बीमारी होने के मामले में डायबिटीज पुरुषों और महिलाओं के बीच अंतर बेहत कम मिला. शोध के मुताबिक 57 प्रतिश पुरुषों और 61 प्रतिशत महिलाओं में आंखों में समस्याओं होने आशंका पाई गई

 


Back to top button