.

मध्य प्रदेश में 25 मई से शुरू होने वाले नौतपा ने अभी से ही अपना असर दिखाना शुरू कर दिया

भोपाल
 मध्य प्रदेश में 25 मई से शुरू होने वाले नौतपा ने अभी से ही अपना असर दिखाना शुरू कर दिया है। पिछले कुछ सालों के विपरीत इस साल 'नौतपा' के पहले चार दिनों में इंदौर और उज्जैन संभागों में भीषण गर्मी पड़ने की संभावना है। मध्य प्रदेश के अधिकांश हिस्से पहले से ही भीषण गर्मी की चपेट में हैं।मौसम विभाग के अनुसार इस समय में पारा हाई होने वाला है।

बता दें, कि एमपी की आर्थिक राजधानी इंदौर में तापमान पहले से ही 44 से 45 डिग्री सेल्सियस के बीच चल रहा है। 25 मई से 2 जून तक चलने वाले नौतपा के दौरान यह और भी बढ़ सकता है। किसानों के लिए नौतपा एक जरूरी समय माना जाता है, क्योंकि नौतपा के बाद अच्छी बारिश और अच्छे मौसम होने की संभावना होती है। जो किसानों के लिए फायदेमंद होता है।

मौसम विभाग का क्या कहना

नौतपा को लेकर मौसम विभाग का कहना है कि मध्य प्रदेश के अधिकांश हिस्से पहले से ही भीषण गर्मी की चपेट में हैं। मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि 29 मई तक राहत की कोई तत्काल संभावना नहीं है। इसकी एक वजह कर्क रेखा भी है। कर्क रेखा मध्य प्रदेश के कुछ इलाकों रतलाम, उज्जैन, आगर-मालवा, राजगढ़, सीहोर और भोपाल से होकर गुजरती है। सूर्य इस समय कर्क रेखा के ठीक ऊपर होता है। जिससे तेज़ धूप के साथ इस समय में तापमान में ज्यादा बढोत्तरी देखी जाती है।

कैसा रहेगा मौसम

एमपी के उज्जैन, नीमच, मंदसौर, आगर-मालवा, रतलाम, खंडवा, खरगोन और बड़वानी में लू चलने की संभावना है। इन इलाकों में तापमान 46 डिग्री सेल्सियस के उपर पहुंच सकता है। मौसम विभाग ने इसे लेकर अलर्ट जारी किया है।


Back to top button