.

पीएम ने कहा कि मोदी और चाय का रिश्ता बहुत गहरा है, कप-प्लेट धोते और चाय परोसते हुए बड़े हुए हैं

मिर्जापुर
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर में रविवार को चुनावी जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि वह कप-प्लेट धोते और चाय परोसते हुए बड़े हुए हैं। पीएम ने कहा कि मोदी और चाय का रिश्ता बहुत गहरा है। उन्होंने कहा, 'मैं बचपन में कप और प्लेट धोते हुए बड़ा हुआ हूं। मैं चाय परोसते हुए बड़ा हुआ हूं। मोदी और चाय के बीच का रिश्ता भी बहुत गहरा है।' दरअसल, अपना दल-एस का चुनाव चिन्ह कप-प्लेट है। इस तरह पीएम मोदी ने अपने भाषण में कप-प्लेट का जिक्र करके एनडीए के सहयोगी दल के लिए समर्थन मांगा। मालूम हो कि रॉबर्ट्सगंज लोकसभा सीट से अपना दल-एस की प्रत्याशी रिंकी कोल हैं।

पीएम मोदी ने रैली में जुटे लोगों से कहा, ‘आज भाषण नहीं आपसे बातें करुंगा। आप-हम जब घर बनाते हैं और घर बनाते समय काम करने वाले को रखते हैं तो क्‍या कोई सामान्‍य आदमी भी मिस्‍त्री रखते समय ऐसा करता है कि एक माह यह मिस्‍त्री काम करेगा, दूसरे माह दूसरा, तीसरे महीने तीसरा और चौथे माह चौथा मिस्‍त्री आएगा।’ प्रधानमंत्री ने पूछा कि क्‍या वह घर बनेगा, क्‍या वह घर रहने और किसी को दिखाने लायक बनेगा। उन्होंने कहा कि छोटा-सा भी घर बनाना होता है तो बार-बार मिस्‍त्री नहीं बदलते। उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस और समाजवादी पार्टी का गठबंधन कह रहा है कि 5 साल में पांच-पांच प्रधानमंत्री। बताइए, पांच साल में पांच प्रधानमंत्री कोई रखता है क्‍या, कोई मिस्‍त्री भी नहीं रखता।

पीएम मोदी ने सपा पर जमकर बोला हमला
नरेंद्र मोदी ने विपक्षी गठबंधन इंडिया को सांप्रदायिक और जातिवादी बताया। उन्होंने दावा किया कि उसने मुस्लिमों को आरक्षण देने के लिए संविधान बदलने का फैसला कर लिया है। मोदी आज मिर्जापुर लोकसभा क्षेत्र से एनडीए के घटक अपना दल की उम्मीदवार व केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल और राबर्ट्सगंज की उम्‍मीदवार रिंकी कोल के समर्थन में आयोजित चुनावी रैली को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी-कांग्रेस वोट बैंक के लिए समर्पित है जबकि मोदी पिछड़ों व गरीबों के अधिकारों के लिए समर्पित है। उन्होंने कहा कि देश के लोगों ने इंडिया गठबंधन के लोगों को पहचान लिया है। ये लोग कट्टर सांप्रदायिक, जातिवादी और परिवारवादी हैं। जब भी उनकी सरकार बनेगी, वे इस आधार पर फैसला लेंगे।


Back to top button