.

लाखो की लागत से बन रहे चेक डेम में चल रहा घटिया निर्माण

लाखो की लागत से बन रहे चेक डेम में चल रहा घटिया निर्माण

उपयंत्री संदीप शुक्ला एवं उनके चहेते ठेकेदार कर रहे गुणवत्ताहीन चैक डैम का निर्माण

ग्राम पंचायत देवरा ही ग्रह ग्राम है उपयंत्री संदीप शुक्ला का

डिंडौरी

डिंडौरी  जिले के हर जनपद पंचायत में शासन की योजनाओं के अंतर्गत निर्माण कार्य चल रहे है।अगर देखा जाए तो जन हितैषी योजनाओं में  जन को लाभ न मिलकर उपयंत्रियो और ठेकेदारों की बल्ले बल्ले है।और आम जन आज भी जहा थी वही है।जबकि।ये योजनाएं जनता के समस्याओं को दूर करने के लिए किया जा रहा है ताकि गर्मी में पानी की किल्लत और बरसात में आवागमन की समस्याओं से निजात मिले किंतु यह जन हितैषी योजना केवल नाम के ही रह गए क्योंकि जिस तरह से घटिया निर्माण चल रहे है उससे यह सिद्ध होता है की यह निर्माण केवल चंद दिनों के।मेहमान है।और फिर बही घोड़ा और बही मैदान।और शासन की मंशा का मिट्टी पलीद हो रहा। लगातार मीडिया के माध्यम से शासन को जगाया जा रहा है किंतु इन योजनाओं में चल रहे निर्माण कार्य के लिए शासन गहरी नीद सो  रही है।

आखिर क्यों
वैसे तो जिले भर में उपयंत्रियों जिनको शासन की महत्वपूर्ण कार्यों जो कि प्राणी मात्र के लिए मुख्य आधार है जल, जिसे संरक्षण करने के लिए लाखों की लागत से अमृत सरोवर योजना अंतर्गत तालाब, पर्कुलेशन टैंक , चैक डैम, स्टाप डैम, काजवे कम स्टॉप डैम इत्यादि को निर्माण की जिम्मेदारी दी गई है उन जिम्मेदार उपयंत्रियों की अनियमितता किए जाने के मामले आए दिन सामने आते ही रहते हैं पर उन मामलों पर कोई कार्यवाही ना किया जाना ही उनके हौसले बुलंद किए हुए हैं तभी तो आज भी उपयंत्री अपने उसी ढंग से काम करने में संलग्न है ऐसा ही ताजा मामला जनपद डिंडौरी के ग्राम पंचायत देवरा का सामने आया है

 जहां ठेकेदारों के द्वारा लाखों की लागत से चैक डैम का निर्माण कराया जा रहा है जिसकी लागत की जानकारी वहां कार्य करा रहे लोगों को भी नहीं है और ना ही मौके पर साइन बोर्ड लगाया गया है और तो और बिना नला के सफाई कराए ही चैक डैम  निर्माण के लिए नींद की खुदाई बिना कराए ही चैक डैम का बेस डाल उसी पर स्ट्रक्चर खड़ा किया जा रहा है जहां मौके पर आज भी चैक डैम  साइड वालों के लिए ना ही सफाई कराई गई है और ना ही साइड वालों के लिए बेस डाली गई है और तो और ग्राम पंचायत देवरा की पोषक ग्राम विचारपुर में निर्मित चैक डैम में एप्रांन के निर्माण में बोल्डर की भराई की जा रही है

 जिस पर एप्रांन के लिए कांक्रीट किए जाने के बाद वहां निर्माण कर रहे मिस्त्री के द्वारा कहा जा रहा है जिसे मौके पर बने वीडियो से स्पष्ट होता है वही जब इस मामले को लेकर उपयंत्री संदीप शुक्ला जी से पहले जब बात की गई की कार्य ठीक नहीं हो रहा है और कार्य की लागत क्या है तो उपयंत्री महोदय जी के द्वारा खुद कुछ देर बाद फोन कर लागत राशि बताने एवं कार्य ठीक किए जाने का हवाला देते हुए बाद में बात करने की बात कही गई और बाद में जब जानकारी लेने  उपयंत्री महोदय को फोन लगाया गया तब उनके द्वारा लगातार नजरअंदाज कर दिया गया

आखिर निर्माण कार्य में उपयंत्री संदीप शुक्ला की क्या है भूमिका?

ग्राम पंचायत देवरा में चल रहे दोनों चैक डैमों की स्थिति एवं निर्माण कार्य में उपयोग किए जाने वाले सामग्री और कार्य करने के तरीकों को देखते हुए यह अंदाजा लगाया जा सकता है कि उपयंत्री संदीप शुक्ला जिनको जल संरक्षण करने निर्माण की जिम्मेदारी दी गई है के द्वारा इस तरह का कार्य कराया जाना और उन कार्यों को सही ठहराया जाना संदेह को जन्म देता है कि आखिर संदीप शुक्ला की भी इस कार्य में क्या भूमिका है इस कार्य में कहीं वह शामिल तो नहीं है

इनका कहना है

जानकारी के लिए फोन लगाने के साथ-साथ व्हाट्सएप पर भी मैसेज किया गया कि फोन उठा कर जानकारी देने की कृपा करें इसके बावजूद भी उपयंत्री महोदय के द्वारा फोन नहीं उठाया गया

  संदीप शुक्ला
उपयंत्री जनपद पंचायत डिंडौरी


Back to top button