.

प्राइवेट स्कूलों को लेकर सरकार ने जारी कर दी नई गाइडलाइन, माता-पिता को मिली बड़ी खुशखबरी : Private School Guidelines

Private School Guidelines :

 

Private School Guidelines : नई दिल्ली | [नेशनल बुलेटिन] | ऑनलाइन बुलेटिन : Private School Guidelines जाने : आजकल के माता-पिता अपने बच्चों को प्राइवेट स्कूल में पढ़ना पसंद करते हैं, प्राइवेट स्कूल में बच्चों के फीस ज्यादा होती है। ऐसे में स्कूल संचालक भी अपनी मर्जी के हिसाब से माता-पिता से फीस वसूल करते हैं। ऐसे स्कूलों में आजकल बच्चों की ड्रेस से लेकर उनके जूते किताबें और हर चीज का पैसा माता-पिता से लिया जाता है। अगर माता-पिता अपनी मर्जी से कोई भी स्कूल की ड्रेस जूते चप्पल कुछ भी खरीदना चाहते हैं तो स्कूल इसके लिए मना कर देता है और अपनी मर्जी से माता-पिता से इन चीजों के चार्ज वसूल करता है। (Private School Guidelines)

इस समय स्कूलों की गर्मी की छुट्टियां चल रही है, लेकिन प्राइवेट स्कूल में पढ़ने वाले छात्र-छात्राओं के लिए एक अच्छी खबर निकल कर आई है। सरकार ने सभी पेरेंट्स के साथ में जिनके बच्चे प्राइवेट स्कूल में पढ़ रहे हैं एक नई खबर शेयर की है। यहां पर प्राइवेट स्कूल संचालकों के लिए सरकार ने नई गाइडलाइन जारी कर दी है, जो माता-पिता के लिए बहुत अच्छी खबर है। अगर आपकी भी बच्चे प्राइवेट स्कूल में पढ़ते हैं तो यहां पर देखिए जानकारी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी।(Private School Guidelines)

 

प्राइवेट स्कूलों को लेकर माता-पिता भी लगातार सरकार से शिकायत करते रहते हैं। इसी वजह से सरकार ने अब नए शिक्षा सत्र के लिए एक नई गाइडलाइन जारी की है। इस गाइडलाइन के अनुसार आप प्राइवेट स्कूल अपनी मर्जी से माता-पिता से फीस वसूल नहीं कर पाएंगे। अगर कोई भी स्कूल अपनी मर्जी से माता-पिता से फीस वसूल करता है तो वह सरकार की गाइडलाइन के खिलाफ जाता है। ऐसे में स्कूल के खिलाफ कार्रवाई भी हो सकती है।(Private School Guidelines)

3 सेशन तक नहीं बढ़ा पाएंगे फीस:

प्राइवेट स्कूल में जब भी कोई बच्चा प्रवेश लगा, तो तीन सेशन तक उसे बच्चों की कोई फीस नहीं बढ़ने वाली है। एक बार एडमिशन लेने के बाद 3 साल तक बच्चों को इस फीस में पढ़ना होगा। उसके बाद में स्कूल समय-समय पर पेरेंट्स टीचर मीटिंग का आयोजन करेगा और फीस को लेकर माता-पिता के साथ भी डिस्कस करेगा और फीस निर्धारित होने पर उसको एक पीडीएफ बनाकर सभी को अपडेट करना होगा।(Private School Guidelines)

गाइडलाइन जारी स्टेशनरी के समान को लेकर

स्कूल में पढ़ रहे बच्चों की स्टेशनरी की सामग्री, यूनिफॉर्म, जूते, प्राइवेट आदि की बिक्री आप कोई भी निजी विद्यालय नहीं करेगा। इसके लिए स्कूल को शिक्षा विभाग द्वारा जारी किए गए दिशा निर्देशों का पालन करना होगा। स्कूलों के अंदर विकलांग बच्चों के लिए विशेष प्रावधान रखने की जरूरत है, जिसके दिशा निर्देश जारी कर दिए गए हैं।(Private School Guidelines)

जारी किए बच्चों को दंड देने को लेकर दिशा निर्देश

बच्चे जब प्राइवेट स्कूलों में पढ़ते हैं उसे दौरान उनका किसी भी प्रकार से शारीरिक मानसिक प्रताड़ना अगर की जाती है, तो ऐसी स्कूलों पर तुरंत कार्रवाई की जाएगी पेरेंट्स टीचर मीटिंग में यह सुनिश्चित किया जाएगा कि बच्चा स्कूल में पढ़ रहा है। वह एकदम सुरक्षित है समय-समय पर पेरेंट्स टीचर मीटिंग आयोजित की जानी चाहिए। जिससे माता-पिता और टीचर्स के बीच में भी अच्छा कम्युनिकेशन बने इससे रिलेटेड किसी भी प्रकार की कार्रवाई को समय-समय पर जिला शिक्षा बोर्ड को भी बताना होगा।(Private School Guidelines)

 

🔥 सोशल मीडिया

फेसबुक पेज में जुड़ने के लिए क्लिक करें

https://www.facebook.com/onlinebulletindotin

व्हाट्सएप ग्रुप में जुड़ने के लिए क्लिक करें

https://chat.whatsapp.com/Cj1zs5ocireHsUffFGTSld

 

ONLINE bulletin dot। n में प्रतिदिन सरकारी नौकरी, सरकारी योजनाएं, परीक्षा पाठ्यक्रम, समय सारिणी, परीक्षा परिणाम, सम-सामयिक विषयों और कई अन्य के लिए onlinebulletin.in का अनुसरण करते रहें.

 

🔥 अगर आपका कोई भाई, दोस्त या रिलेटिव ऑनलाइन बुलेटिन डॉट इन में प्रकाशित किए जाने वाले सरकारी भर्तियों के लिए एलिजिबल है तो उन तक onlinebulletin.in को जरूर पहुंचाएं।


Back to top button