.

कैल्शियम सप्लीमेंट्स का सही समय: स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण

कैल्शियम हमारी हड्डियों और दांतों के लिए तो महत्वपूर्ण है ही, साथ ही यह मांसपेशियों के संकुचन, नर्वस सिस्टम और हार्ट फंक्शन को बेहतर बनाए रखने में भी अहम भूमिका निभाता है. 

बॉडी में कैल्शियम की पूर्ति खाद्य पदार्थों समेत सप्लीमेंट की मदद से बहुत ही आसानी से की जा सकती है. लेकिन किस वक्त कैल्शियम इनटेक करना चाहिए? के बारे में जानकारी होना आपके लिए इसके प्रभावों को बढ़ा सकता है.  

शरीर को कैल्शियम की आवश्यकता कब सबसे ज्यादा होती है?

हालांकि हमारी  शरीर को पूरे दिन कैल्शियम की आवश्यकता होती है, लेकिन विशेष रूप से रात के समय इसकी मांग थोड़ी ज्यादा बढ़ जाती है. ऐसा इसलिए होता है क्योंकि रात में हमारी हड्डियों का पुनर्निर्माण होता है और इस प्रक्रिया में कैल्शियम की जरूरत होती है.

रिसर्च में बताया गया कैल्शियम लेने का सही समय

इस साल बी. एम. सी. पब्लिक हेल्थ में प्रकाशित एक अध्ययन में पाया गया है कि नाश्ते में अन्य भोजन के बजाय कैल्शियम युक्त खाद्य पदार्थ खाने से दिल के दौरे का खतरा कम हो सकता है. शोधकर्ताओं ने पाया कि नाश्ते और रात के खाने में 5% आहार कैल्शियम सेवन को प्रतिस्थापित करने से दिल के दौरे का खतरा 6% तक कम हो गया.

कैल्शियम और हृदय संबंधी जोखिम के बीच संबंध?

आहार में कैल्शियम के सेवन और हृदय संबंधी जोखिम के बीच संबंध है. स्वस्थ रक्तचाप के स्तर को बनाए रखने के लिए पर्याप्त कैल्शियम का सेवन आवश्यक है, क्योंकि कैल्शियम ही वैस्कुलर फंक्शन और मसल्स कॉन्ट्रैक्शन में भूमिका निभाता है.

नाश्ते और डिनर में क्यों होना चाहिए ज्यादा कैल्शियम

डॉक्टरों का मानना है कि कैल्शियम सप्लीमेंट या फूड्स सुबह के नाश्ते और शाम के भोजन के साथ लेना सबसे ज्यादा फायदेमंद होता है. दरअसल, ऐसा करने से भोजन के साथ कैल्शियम का अवशोषण बेहतर तरीके से होता है. 

कैल्शियम की कमी को पूरा का नेचुरल उपाय

कैल्शियम की कमी को पूरा करने के लिए कैल्शियम की गोलियों के साथ-साथ कैल्शियम युक्त खाद्य पदार्थों को भी अपने आहार में शामिल करना चाहिए. दूध, दही, पनीर, हरी सब्जियां, मेथी दाना, तिल, बादाम जैसी चीजें कैल्शियम के अच्छे स्रोत हैं.


Back to top button