.

विमुक्त, घुमन्तु और अर्द्ध-घुमन्तु समुदाय की विकास योजनाओं के क्रियान्वयन में लाए तेजी : राज्य मंत्री श्रीमती गौर

भोपाल  
पिछड़ा वर्ग, अल्पसंख्यक कल्याण एवं विमुक्त, घुमन्तु और अर्द्ध-घुमन्तु कल्याण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्रीमती कृष्णा गौर ने कहा है कि प्रदेश की विमुक्त, घुमन्तु और अर्द्ध-घुमन्तु जातियों के कल्याण की योजनाओं के क्रियान्वन में तेजी लाए। उन्होंने कहा कि डेटाबेस के आधार पर परिवारों को विभिन्न जन-कल्याणकारी योजनाओं से जोड़ा जाये। राज्य मंत्री श्रीमती गौर ने यह निर्देश विमुक्त, घुमन्तु एवं अर्द्ध-घुमन्तु विभाग की समीक्षा बैठक में दिए।

राज्य मंत्री श्रीमती गौर ने विमुक्त घुमन्तु और अर्द्ध-घुमन्तु जातियों के कल्याण की विभिन्न योजनाओं के क्रियान्वन की प्रगति की समीक्षा की। राज्यमंत्री श्रीमती गौर ने कहा कि विमुक्त, घुमन्तु और अर्द्ध-घुमन्तु समुदाय के अधिक से अधिक परिवारों को लाभान्वित किया जाए। बैठक में बताया गया कि शैक्षणिक योजनाओं में समुदाय की 71 हजार छात्र-छात्राओं को वर्ष 2023-24 में छात्रवृत्ति प्रदान की गई। विभाग के अंतर्गत 141 छात्रावास, आश्रम, सामुदायिक कल्याण केन्द्र संचालित हैं। इनमें 4485 बालक और 2065 बालिका के लिए कुल 6550 सीटे स्वीकृत है। विमुक्त जाति बस्ती विकास योजना में वर्ष 2024-25 के लिए 516 लाख रूपये के बजट का प्रावधान है। अपर मुख्य सचिव पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण तथा विमुक्त, घुमन्तु एवं अर्द्ध-घुमन्तु श्री अजीत केसरी, विमुक्त घुमक्कड़, अर्द्ध-घुमक्कड़ जाति विकास अभिकरण के अध्यक्ष श्री बाबूलाल बंजारा, उप सचिव श्री कुमार पुरूषोत्तम, संचालक विमुक्त, घुमन्तु, अर्द्ध-घुमन्तु कल्याण श्री नीरज वशिष्ठ और अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

 


Back to top button