.

तिलवारा थाना क्षेत्र में तीन आरोपितों ने 9वीं में पढ़ने वाली एक किशोरी के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया

जबलपुर
जबलपुर में एक 9वीं की छात्रा से बोलेरो में गैंगरेप के मामले में पुलिस ने 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। एक आरोपी नाबालिग का दोस्त ही है। बाकी दो उसके दोस्त हैं।यहां तीन आरोपितों ने 9वीं में पढ़ने वाली एक किशोरी के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। मामला प्रकाश में आते ही तिलवारा पुलिस ने अपराध दर्ज कर आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है।

बताया जाता है तिलवारा थाना क्षेत्र में रहने वाली एक किशोरी को सोमवार को उसका परिचित शुभम रजक बहला-फुसलाकर अपने साथ कार में ले गया। काफी देर तक किशोरी नहीं लौटी तो उसकी खोजबीन शुरू की गई। कुछ देर बाद किशोरी जब घर वापस लौटी और उसने आप बीती सुनाई तो परिवार वालों के होश उड़ गए।

किशोरी ने बताया कि उसके साथ शुभम रजक (30 वर्ष) व उसके साथी आशीष कोरी (25 वर्ष) और जित्तू उर्फ जितेंद्र चौधरी ने सुनसान इलाके में ले जाकर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया और उसे घर के पास वापस छोड़कर भाग गए। इसके तत्काल बाद किशोरी के स्वजन उसे लेकर तिलवारा पहुंचे।

जहां जबलपुर पुलिस ने किशोरी के बयान दर्ज कर रात में ही छापामारी कर तीनों आरोपितों को हिरासत में ले लिया। नाबालिग छात्रा की शिकायत पर तीनों आरोपितों के खिलाफ पुलिस ने पाक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है।

तीनों आरोपित लो-प्रोफाइल

बताया जाता है कि आरोपित शुभम रजक गढ़ा में अंडे की दुकान लगाता है, जबकि जितेंद्र चौधरी पेशे से ड्राइवर है। वारदात के लिए जिस कार का उपयोग किया गया, वो भी जितेंद्र की ही है। इसी तरह से आशीष कोरी भी पेशे से मजदूर है।
शहर से भागने की फिराक में थे आरोपित

सीएसपी देवेंद्र प्रताप सिंह ने कहा कि आरोपितों को अंदाजा हो चुका था कि मामले की एफआइआर हो गई है और वो बुरी तरह से फंस चुके हैं, इसलिए वो सोमवार की रात करीब डेढ़ बजे कार से जबलपुर छोड़कर भागने की फिराक में थे। इसकी सूचना पुलिस को मिल गई, जिसके बाद तत्काल घेराबंदी कर तीनों को गिरफ्तार कर लिया गया। घटना में प्रयुक्त बोलेरो को भी जब्त कर लिया गया है।

 


Back to top button