.

देवी माँ को खुश करने के लिए काटी अपनी जीभ और देवी को चढ़ा दिया, हालत गंभीर

शहडोल

मध्य प्रदेश में अंधविश्वास की एक घटना सामने आई है। शहडोल में एक युवक ने देवी मां को खुश करने के लिए अपनी जीभ काट कर चढ़ा दी। जीप काटने के दौरान युवक का ढेर सारा खून निकल गया, जिससे वह मंदिर में ही अचेत होकर गिर पड़ा। युवक को गंभीर अवस्था में उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। युवक की गंभीर हालत को देखते हुए उसे मेडिकल कॉलेज रेफर किया गया है।

जानकारी के अनुसार शहडोल जिले के खैरहा थाना क्षेत्र के छिरहटी गांव में रहने वाले युवक आकाश साहू पिता संतोष साहू दोपहर में सिद्ध बाबा काली मंदिर पहुंचा। वहां उसने जीभ काटकर मां काली को चढ़ाने का प्रयास किया। युवक ने शेविंग ब्लेड से जीभ को काटने का प्रयास किया था। इस दौरान युवक के जीभ से खून बहने लगा। युवक वहीं बेहोश होकर गिर गया। पुलिस ने बताया कि मामला मंगलवार दोपहर लगभग 3 बजे के आसपास का बताया जा रहा है। मंदिर में युवक ने जीभ काटने का प्रयास किया। शाम 6 बजे जब छिरहटी गांव का एक अन्य युवक मंदिर पहुंचा, तब उसने आकाश को अचेत अवस्था में देखा। उसने स्थानीय लोगों को इसकी जानकारी दी। इसके बाद परिजन घटनास्थल पहुंचे।

बताया जा रहा है कि देवी को खुश करने के लिए युवक ने जीभ काटकर चढ़ाया है।युवक को गंभीर हालात में पहले बुढ़ार अस्पताल में  भर्ती कराया गया। वहां से प्राथिमक उपचार के बाद उसे खैरहा मेडिकल कालेज रेफर किया है। डॉक्टर का कहना है कि यह अंधविश्वास है। आदिवासी क्षेत्रों में आज भी ऐसी घटनाएं होती रहती हैं।

थाना प्रभारी दिलीप सिंह ने बताया कि पीड़ित आकाश युवक दोपहर के अपने घर से काम करने जेएमएस के लिए निकला था। जब युवक काम पर नहीं पहुंचा तो उसकी तलाश शुरू की गई। घायल युवक को गंभीर अवस्था में बुढ़ार के सरकारी अस्पताल लाया गया, यहां से उसे मेडिकल कॉलेज के लिए रेफर कर दिया गया।


Back to top button