.

बांग्लादेश के रास्ते ईंधन, सामान लाने की व्यवस्था पर काम कर रही त्रिपुरा सरकार : मंत्री

कोलकाता मेट्रो की उत्तर-दक्षिण लाइन पर भुगतान के लिए यूपीआई की सुविधा जल्द होगी उपलब्ध

बांग्लादेश के रास्ते ईंधन, सामान लाने की व्यवस्था पर काम कर रही त्रिपुरा सरकार : मंत्री

 सिक्किम: अत्यधिक शुल्क वसूलने को लेकर ‘टूर ऑपरेटर’ के खिलाफ शिकायतों की जांच के लिए समिति गठित

कोलकाता
कोलकाता मेट्रो की उत्तर-दक्षिण लाइन पर यात्रा करने वाले यात्रियों को जल्द ही टिकट खरीदने और स्मार्ट कार्ड रिचार्ज करने के लिए यूपीआई की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। एक अधिकारी ने जानकारी दी।

उन्होंने बताया कि अब तक पूर्व-पश्चिम लाइन के सेक्टर पांच-स्यालदाह पर यूपीआई की सुविधा उपलब्ध थी। अधिकारी ने बताया कि जल्द ही हावड़ा मैदान-एस्प्लेनेड सेक्शन, ऑरेंज लाइन के न्यू गरिया-रुबी सेक्शन और पर्पल लाइन के जोका-ताराताला में भी यूपीआई से टिकट भुगतान की सुविधा दी जाएगी।

बांग्लादेश के रास्ते ईंधन, सामान लाने की व्यवस्था पर काम कर रही त्रिपुरा सरकार : मंत्री

अगरतला,
त्रिपुरा सरकार बांग्लादेश के रास्ते ईंधन और आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति को मजबूत बनाने की व्यवस्था पर काम कर रही है। एक मंत्री ने यह जानकारी दी।

परिवहन मंत्री सुशांत चौधरी ने कहा कि त्रिपुरा में ईंधन और सामान लाने की यह एक वैकल्पिक व्यवस्था होगी।

असम के जतिंगा में एक मालगाड़ी के पटरी से उतरने के बाद त्रिपुरा को गंभीर ईंधन संकट का सामना करना पड़ा था।

असम-अगरतला राजमार्ग और पड़ोसी राज्य को जोड़ने वाले रेल लिंक पर मानसून के दौरान भूस्खलन के कारण यातायात बाधित होना बेहद आम है।

असम-अगरतला राजमार्ग को त्रिपुरा की जीवन रेखा भी माना जाता है।

परिवहन मंत्री सुशांत चौधरी ने सोमवार को संवाददाताओं को संबोधित करते हुए कहा, ”असम के जतिंगा में हाल ही में रेल परिचालन में हुए व्यवधान के मद्देनजर हम बांग्लादेश के रास्ते ईंधन और माल की निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए एक वैकल्पिक व्यवस्था पर काम कर रहे हैं। अगले छह महीने से एक साल के बीच अगरतला-गंगासागर (बांग्लादेश) रेल ट्रैक माल परिवहन के लिए तैयार होगा। एक बार माल लाने-ले जाने के लिए यह मार्ग खुल जाए तो हम बांग्लादेश के रास्ते सीधे कोलकाता से ईंधन और सामान ला सकते हैं।”

मुख्यमंत्री माणिक साहा ने हाल ही में कहा था कि अगरतला और गंगासागर के बीच रेल सेवा जल्द ही शुरू हो जाएगी।

चौधरी ने कहा कि इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन लिमिटेड (आईओसीएल) ईंधन भंडारण के लिए सिपाहीजला जिले के सेकरकोटे में एक बड़ा ईंधन डिपो बनाने पर भी काम कर रही है।

 सिक्किम: अत्यधिक शुल्क वसूलने को लेकर ‘टूर ऑपरेटर’ के खिलाफ शिकायतों की जांच के लिए समिति गठित

गंगटोक
 सिक्किम सरकार ने यात्रा संबंधी अनुमति और टैक्सी के लिए ‘टूर ऑपरेटर’ द्वारा अत्यधिक शुल्क वसूले जाने की शिकायतों की जांच करने के लिए एक समिति का गठन किया है। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी।

अधिकारी ने बताया कि केंद्रीय पर्यटन मंत्रालय ने सिक्किम में टैक्सी और यात्रा संबंधी अनुमति की ऊंची दरों के संबंध में केंद्रीकृत लोक शिकायत निवारण और निगरानी प्रणाली (सीपीजीआरएएमएस) में दर्ज शिकायतों का हवाला देते हुए राज्य सरकार को कड़े शब्दों में एक पत्र भेजा था जिसके बाद तीन सदस्यीय समिति का गठन किया गया।

पर्यटन एवं नागरिक उड्डयन विभाग के प्रधान सचिव सी एस राव ने कहा, ”तीन सदस्यीय समिति की अध्यक्षता कोई अतिरिक्त सचिव करेगा।”

उन्होंने बताया कि समिति को 15 दिन के भीतर अपनी रिपोर्ट सौंपने का निर्देश दिया गया है।

राव ने बताया कि यदि कोई ‘टूर ऑपरेटर’ पर्यटकों से अधिक किराया वसूलता हुआ पाया गया तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

 

 


Back to top button