.

OLX पर फ्रिज बेचने की फिराक में था आफताब अमीन पूनावाला, फर्जी सिम के जरिए डाउनलोड करता ऐप, बना ली थी पूरी प्लानिंग | ऑनलाइन बुलेटिन

नई दिल्ली | [नेशनल बुलेटिन] | Shraddha Murder Case: आप भी अगर olx से समान की खरीदी करते है तो यह खबर आपके लिए ही है। श्रद्धा वॉकर मामले में महरौली पुलिस को आफताब अमीन पूनावाला के फ्लैट की जांच से महत्वपूर्ण सुराग हाथ लगे हैं। पुलिस को चापड़ और महिलाओं के कपड़े मिले हैं। माना जा रहा है कि ये कपड़े श्रद्धा के हैं। लेकिन अभी भी वारदात के दौरान पहने गये दोनों के कपड़ों का पता नहीं चल पाया है।

 

जांच से जुड़े वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि आफताब अमीन पूनावाला से नए सबूतों के आधार पर कई बार पूछताछ हुई। अब वह नए खुलासे कर रहा है। पुलिस टीम शुक्रवार रात को आफताब अमीन पूनावाला को लेकर उके फ्लैट पर गई थी।

 

इस दौरान करीब चार घंटे तक गहनता से जांच करने के बाद टीम को स्टोर रूम के कोने से धारदार हथियार मिला। पुलिस अधिकारी ने बताया कि माना जा रहा है कि इसी हथियार से आफताब अमीन पूनावाला ने श्रद्धा के शव के टुकड़े किए थे। पुलिस इसे अहम सबूत मान कर चल रही है।

 

टीम को एक कमरे से महिलाओं के कपड़े भी मिले हैं। पुलिस अधिकारी ने बताया कि माना जा रहा है कि ये कपड़े श्रद्धा के हो सकते हैं। पुलिस ने कपड़ों पर लगे टैग की सहायता से इसके खरीदने वाले तक जाने की कोशिश कर रही है। साथ ही श्रद्धा के परिजनों को भी इन कपड़ों को दिखाया जाएगा।

 

आईपीडीआर के जरिए फोन में चलाए गये ऐप का भी पता करेगी पुलिस

 

हाशिये पर अनुसूचित जाति | ऑनलाइन बुलेटिन
READ

महरौली पुलिस इस पूरी जांच के लिए वैज्ञानिक एवं तकनीकी साक्ष्यों पर भरोसा कर रही है। आफताब अमीन पूनावाला का रहस्य खोलने के लिए पुलिस उसके आईपीडीआर (इंटरनेट प्रोटोकाल डिटेल रिकार्ड) की जानकारी लेगी। दरअसल, आफताब अमीन पूनावाला ने अपने फोन से कई एप को हटा दिया है। इसके अलावा गूगल एप पर भी अपने एकाउंट से भी इसे हटा दिया था। इसके माध्यम से पुलिस आफताब अमीन पूनावाला के फोन में चलने वाले एप एवं इंटरनेट के इस्तेमाल के बारे में पता करेगी। फिर नये सबूतों के आधार पर पुलिस आफताब अमीन पूनावाला से पूछताछ करेगी।

 

पुलिस अधिकारी ने बताया कि आईपीडीआर के जरिए आफताब के छह माह की गतिविधियों की जानकारी हासिल की जा रही है।

 

ओएलएक्स के जरिए फ्रिज भी बेचने की फिराक में था आफताब

 

आफताब अमीन पूनावाला ने दिल्ली पुलिस से बातचीत में कुछ अहम खुलासा किया है। आरोपी ने बताया कि वह फ्रिज सहित फ्लैट में मौजूद अन्य सामान ओएलएक्स पर बेचने वाला था। आफताब अमीन पूनावाला ने बताया कि श्रद्धा का दोस्त लक्ष्मण भी अक्सर उसे (आफताब अमीन पूनावाला को) फोन करता रहता था। फिर  मुम्बई पुलिस श्रद्धा की तलाश कर रही थी। मुम्बई पुलिस कई बार उससे पूछताछ भी कर चुकी थी। इसलिए वह कोई ऐसी हरकत नहीं करना चाहता था ताकि किसी को शक न हो।

 

वह सब मामला शांत होने पर फ्लैट पर सभी सामान आनलाइन बेचकर इलाका छोड़ कर जाने की योजना बनाई थी। आफताब अमीन पूनावाला ने बताया कि वह इसके लिए पुराना फोन और फर्जी कागजों पर जारी सिम का उपयोग करता। आफताब अमीन पूनावाला के अनुसार उसे यह आशंका थी कि पुलिस कभी उस तक पहुंच सकती है।

कोरोना के तीसरी लहर की आहट : बंगाल सहित देश के इन 3 राज्यों में बढ़ते संक्रमण के मामलों ने बढ़ाई चिंता | Onlinebulletin
READ

 

इसलिए वह फर्जी कागजों पर जारी सिम कार्ड पर इंटरनेट के जरिए ओएलक्स एप डाउन लोड करता। फिर सभी सामान को बेचकर; फोन एवं सिम को नष्ट कर देता। लेकिन इससे पहले कि वह ऐसा कर पाता पुलिस ने उसे दबोच लिया।

 

ये भी पढ़ें:

छत्तीसगढ़ की याचिका पर नौकरियों में 58 प्रतिशत आरक्षण मामले में गुरु घासीदास साहित्य अकादमी से सुप्रीम कोर्ट ने किया जवाब तलब | ऑनलाइन बुलेटिन

 

Related Articles

Back to top button