.

पाकिस्तान में फिर लौटा खूनी दौर, बेनजीर भुट्टो पर कातिलाना हमले की आई याद; अस्पताल में इमरान | ऑनलाइन बुलेटिन

इस्लामाबाद | [वर्ल्ड बुलेटिन] | pakistan nees: लाहौर से इस्लामाबाद तक के लिए इमरान खान मार्च निकाल रहे हैं, इसी दौरान वजीराबाद कस्बे के पास उन पर अटैक हुआ था। हमले में 4 लोग घायल हुए हैं और इमरान खान के भी दाएं पैर में चोट लगी है। हमले के बाद इमरान खान को आनन-फानन में बुलेट प्रूफ कार के जरिए अस्पताल ले जाया गया है। इस बीच इमरान खान ने जख्मी हालत में भी तेवर दिखाए हैं।

 

उनका कहना है कि हम अपना लॉन्ग मार्च खत्म नहीं करेंगे। इमरान खान की सरकार में मंत्री रहे फवाद चौधरी का कहना है कि पूर्व पीएम पर यह कातिलाना हमला है। उनकी जान लेने के मकसद से यह अटैक किया गया था।

 

इमरान खान ने कहा कि मैं अस्पताल से लौटकर फिर से अपना मार्च शुरू करूंगा। वहीं इमरान खान के समर्थक भी इस हमले को लेकर उग्र हो गए हैं। इमरान खान की पार्टी पीटीआई के नेताओं का कहना है कि शहबाज शरीफ सरकार की हिम्मत नहीं है कि वह हमारे मार्च को इस्लामाबाद जाने से रोक सके।

 

फवाद चौधरी का कहना है कि एक शख्स ने एके-47 राइफल से यह हमला किया है। उसकी बंदूक को पकड़कर मौके पर मौजूद लोगों ने नीचे किया, जिससे ज्यादा लोग जख्मी न हो सकें। हमलवार को भी इमरान खान के समर्थकों ने काबू में कर लिया। फिलहाल हमला करने वाले शख्स की पहचान नहीं हो सकी है।

 

इस हमले में इमरान खान के अलावा पीटीआई के नेता फैसल जावेद और अहमद चट्ठा भी घायल हुए हैं। इस बीच पाकिस्तान पंजाब सूबे की पुलिस ऐक्टिव हो गई है और आरोपी को हिरासत में लिया गया है। सीएम परवेज इलाही ने पुलिस से इस मामले में रिपोर्ट मांगी है।

शिक्षकों की 39 सेवारत समस्याओं पर राजस्थान शिक्षक संघ "प्रगतिशील" की सीडीईओ से हुई वार्ता | ऑनलाइन बुलेटिन
READ

 

परवेज इलाही ने कहा कि इस घटना में शामिल लोगों को जल्दी ही सजा दी जाएगी और घायलों को उचित इलाज मुहैया कराया जाएगा। बता दें कि पाकिस्तान की राजनीति का एक लंबा खूनी इतिहास रहा है। जुल्फिकार अली भुट्टो जैसे पूर्व प्रधानमंत्रियों को पाकिस्तान में फांसी तक की सजा दी जा चुकी है।

 

इसके अलावा पूर्व पीएम बेनजीर भुट्टो की भी एक रैली में ही आत्मघाती हमले में हत्या कर दी गई थी।

 

ये भी पढ़ें:

नशे की हालत में बैरिकेड को टक्कर मार कर भागने वाले युवक, युवती को बिलासपुर पुलिस ने किया गिरफ़्तार | ऑनलाइन बुलेटिन

 

Related Articles

Back to top button