.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हाई लेवल मीटिंग, यूक्रेन से भारतीयों की जल्द वापसी पर चर्चा l ऑनलाइन बुलेटिन

नई दिल्ली l (नेशनल बुलेटिन) l प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने युद्ध प्रभावित यूक्रेन (ukraine russia war) की स्थिति और भारत के नागरिकों को वापस लाने के देश के प्रयासों पर चर्चा करने के लिए शनिवार शाम एक उच्च स्तरीय बैठक बुलाई। इसमें सूमी समेत यूक्रेन के कई इलाकों में फंसे भारतीयों की जल्द वापसी को लेकर गहन चर्चा की गई।

 

इस बैठक में यूक्रेन में फंसे भारतीयों की सुरक्षा को लेकर गहन चर्चा हुई। उन संभावनाओं पर भी चर्चा हुई कि कैसे भारतीयों की जल्द वापसी हो सकती है। बैठक में उपस्थित लोगों में केंद्रीय मंत्री एस जयशंकर और पीयूष गोयल के अलावा विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल शामिल थे।

 

इससे पहले भारतीय विदेश मंत्रालय ने दावा किया कि खारकीव से सभी भारतीयों की वापसी हो चुकी है। अब उसका मुख्य ध्यान यूक्रेन के पूर्वी शहर सूमी में फंसे लगभग 700 भारतीय छात्रों को निकालने पर है, जहां बम विस्फोट और हवाई हमले हो रहे हैं।

 

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने प्रेस वार्ता में कहा कि भारत अगले कुछ घंटों में खारकीव और पिसोचिन से अपने नागरिकों को निकालने की उम्मीद करता है। उन्होंने कहा, ”हमारा मुख्य ध्यान अब भारतीय छात्रों को सूमी से निकालने पर है। हम उन्हें निकालने के लिए कई विकल्प तलाश रहे हैं।”

 

 

 

गौरतलब है कि रूस ने 24 फरवरी को यूक्रेन के खिलाफ सैन्य आक्रमण शुरू किया था। पिछले दस दिनों से दोनों देशों की सेनाओं को काफी नुकसान भी हुआ है।

गर्भवती को झलगी में 3KM लेकर चले परिजन, गर्भ में बच्चे की मौत garbhavatee ko jhalagee mein 3km lekar chale parijan, garbh mein bachche kee maut
READ

 

Related Articles

Back to top button