.

शराब की होम डिलीवरी करने झारखंड का छत्तीसगढ़ राज्य कार्पोरेशन से समझौता, 2300 करोड़ राजस्व जुटाने की तैयारी l ऑनलाइन बुलेटिन

रांची l (नेशनल बुलेटिन) l झारखंड में शराब की होम डिलीवरी होगी। राज्य सरकार ने शराब के जरिए राजस्व में बढ़ोतरी के लिए छत्तीसगढ़ राज्य कॉरपोरेशन लिमिटेड के साथ एमओयू किया है। छत्तीसगढ़ सरकार की कंपनी को ही उत्पाद विभाग की नई नियमावली पर काम करने के टास्क के साथ साथ होम डिलीवरी शुरू कराने की भी जिम्मेदारी दी जाएगी। होम डिलीवरी के लिए अलग से एप भी डेवलप किया जाएगा।

 

झारखंड सरकार के उत्पाद विभाग ने वित्तीय वर्ष 2022-23 के दौरान राजस्व की बढ़ोतरी की योजना पर काम शुरू किया है। इसी योजना के तहत खुदरा दुकानों में शराब की बिक्री के साथ-साथ होम डिलीवरी भी होगी।

 

झारखंड सरकार के उत्पाद विभाग ने वित्तीय वर्ष 2022-23 में 2300 करोड़ रुपये राजस्व वसूली का लक्ष्य रखा है। झारखंड सरकार ने राजस्व घाटे को देखते हुए आईटी इंटरवेंशन की जरूरत महसूस की है, साथ ही शराब के अवैध कारोबार को रोकने के लिए भी नई नीति बनायी जाएगी।

 

इसका टास्क भी सर्वे कर छत्तीसगढ़ सरकार की कंपनी ही करेगी। कई बार शराब की पेटियों के परिवहन के दौरान भी शराब गायब कर दिया जाता है। इसे लेकर भी अलग से एक साफ्टवेयर तैयार किया जाएगा जो इस तरह की चोरी को रोकेगी।

 

हर माह दुकानों की ऑडिट की भी तैयारी

 

उत्पाद विभाग राजस्व चोरी रोकने के लिए प्रतिमाह शराब दुकानों के ऑडिट की भी तैयारी कर रही है। ऑडिट की प्रकिया क्या होगी, इसे लेकर योजना बनायी जा रही है। खुदरा शराब दुकानों से शराब खरीदने, ड्यूटी व फीस के भुगतान के लिए नए सिरे से आईटी व्यवस्था भी दुरूस्त की जाएगी।

पदोन्नत 120 जिला शिक्षा अधिकारियों की पदस्थापन की जाए -गहलोत padonnat 120 jila shiksha adhikaariyon kee padasthaapan kee jae -gahalot
READ

 

©नवागढ़ मारो से धर्मेंद्र गायकवाड़ की रपट 

Related Articles

Back to top button