.

मुस्लिम शख्स शेख जफर ने अपनाया हिंदू धर्म, अब कहलाएंगे चैतन्य सिंह राजपूत muslim shakhs shekh japhar ne apanaaya hindoo dharm, ab kahalaenge chaitany sinh raajapoot

भोपाल | [मध्य प्रदेश बुलेटिन] | राज्य के मंदसौर में हिंदू धर्म से प्रभावित होकर एक मुस्लिम शख्स शेख जफर ने इसे अपना लिया। शुक्रवार सुबह मंदसौर के पशुपतिनाथ मंदिर में विधि- विधान से शेख जफर का धर्म परिवर्तन करवाया गया। धर्म परिवर्तन के लिए विशेष तौर पर मुंबई से महामंडलेश्वर चिदंबरानंद सरस्वती मंदसौर आए और उन्होंने शेख जफर को कुंडली के अनुसार नया नाम भी दिया। हिंदू धर्म अपनाने के बाद अब शेख जफर अपने नए नाम चैतन्य सिंह राजपूत के नाम से जाने जाएंगे।

 

बचपन से ही थे हिंदू धर्म से प्रभावित

 

शेख जफर से चैतन्य सिंह राजपूत बने शख्स ने बताया कि मैं बचपन से ही हिंदू धर्म से प्रभावित था। चैतन्य सिंह मानते हैं कि, उन्होंने धर्म परिवर्तन नहीं किया, बल्कि अपने धर्म में वापसी की है। दरअसल चैतन्य सिंह राजपूत की हिंदू धर्म में पहले से ही काफी रुचि थी। उन्होंने अपने घर पर ही मंदिर भी बनाया हुआ है। उन्होंने बताया कि उनके घर पर नवरात्रि के दिनों में घट स्थापना भी होती है। इसमें नौ दिनों तक अखंड ज्योति भी जलती है। धर्म परिवर्तन करने वाले शख्स का कहना है कि वे शुरू से ही सनातन धर्म का पालन कर रहे थे। सिर्फ नाम परिवर्तन करवाना था जो आज विधि विधान से करवा लिया है ।

 

 

धर्म परिवर्तन में खुद शामिल हुए भाजपा विधायक

 

शेख जफर के धर्म परिवर्तन कार्यक्रम में मंदसौर से भाजपा विधायक यशपाल सिंह सिसौदिया भी शामिल हुए। उन्होंने कहाकि शेख जफर ने मेरे सामने अपनी इच्छा जताई थी। जनप्रतिनिधि होने के नाते मैंने भगवान पशुपतिनाथ के मंदिर में उनकी इच्छा पूरी की। विधायक ने चैतन्य सिंह राजपूत को बधाई और शुभकामनाएं भी दीं। वहीं धर्म परिवर्तन करवाने वाले महामंडलेश्वर चिदंबरानंद सरस्वती ने कहा कि भारतवर्ष में जितने भी मुस्लिम हैं, सभी पूर्व में हिंदू ही थे, सनातन धर्म से ही जुड़े हुए थे लेकिन शेख जफर ने इस बात को समझा है और अब वे हिंदू धर्म को शास्त्रीय विधि विधान से अपना चुके हैं।

 

 

 

 

Muslim man Sheikh Zafar adopted Hinduism, will now be called Chaitanya Singh Rajput

Bhopal | [Madhya Pradesh Bulletin] | Influenced by Hinduism in Mandsaur of the state, a Muslim man Sheikh Zafar adopted it. On Friday morning, Sheikh Zafar was converted by law in the Pashupatinath temple of Mandsaur. Mahamandaleshwar Chidambaranand Saraswati came to Mandsaur especially from Mumbai for the conversion of religion and he also gave a new name to Sheikh Zafar according to the horoscope. After adopting Hinduism, now Sheikh Zafar will be known by his new name Chaitanya Singh Rajput.

 

 Was influenced by Hinduism since childhood

 

Chaitanya Singh Rajput from Sheikh Zafar told that I was influenced by Hinduism since childhood. Chaitanya Singh believes that he did not convert, but returned to his religion. Actually Chaitanya Singh Rajput already had a lot of interest in Hinduism. He has also built a temple at his home. He told that Ghat Establishment is also done at his house during Navratri days. In this, the Akhand Jyoti also burns for nine days. The person who converted to religion says that he was following Sanatan Dharma from the very beginning. Only had to get the name changed, which has been done today by law.

 

 

 BJP MLA himself involved in religious conversion

 

BJP MLA from Mandsaur Yashpal Singh Sisodia also participated in Sheikh Zafar’s religious conversion program. He said that Sheikh Zafar had expressed his wish in front of me. Being a public representative, I fulfilled his wish in the temple of Lord Pashupatinath. The MLA also congratulated and congratulated Chaitanya Singh Rajput. At the same time, Mahamandaleshwar Chidambaranand Saraswati, who got the religion changed, said that all the Muslims in India were Hindus in the past, were associated with Sanatan Dharma but Sheikh Zafar has understood this and now they convert Hinduism to classical law. have adopted since

 

 

 

राज्य मानसिक चिकित्सालय में नाबालिग ने लगाई फांसी raajy maanasik chikitsaalay mein naabaalig ne lagaee phaansee

 

 

Related Articles

Back to top button