.

Shraddha Murder Case: श्रद्धा की हत्या के बाद Google पर क्या सर्च कर रहा था आफताब अमीन पूनावाल, दिल्ली पुलिस ने बताया | ऑनलाइन बुलेटिन

नई दिल्ली | [नेशनल बुलेटिन] | Delhi Shraddha Murder Case: दिल्ली को दहला कर रख देने वाले श्रद्धा मर्डर केस के बाद अब एक से बढ़कर एक खुलासे हो रहे हैं। हत्या के आरोपी आफताब अमीन पूनावाल की क्रूरता और उसकी बेरहमी ने सबको हिला कर रख दिया है। अब इस मामले में ताजा खुलासा यह हुआ है कि अपनी प्रेमिका श्रद्धा को मौत के घाट उतारने के बाद आफताब ने Google पर कुछ सर्च भी किया था। आफताब अमीन पूनावाल ने गूगल पर क्या कुछ सर्च किया इसे लेकर दिल्ली पुलिस ने बड़ा दावा किया है।

 

दिल्ली पुलिस ने सोमवार को कहा कि श्रद्धा मर्डर केस के आरोपी आफताब अमीन पूनावाल ने गूगल पर खून को साफ करने के तरीके के बारे में सर्च किया। इतना ही नहीं उसने इसके बाद गूगल पर मानव शरीर रचना को लेकर भी गूगल पर सर्च किया।

 

मानव शरीर रचना के बारे में पढ़ा

 

दिल्ली पुलिस की पूछताछ में साफ हुआ है कि 18 मई को आफताब अमीन पूनावाल ने श्रद्धा का मर्डर कर दिया था और इसके बाद उसने डेड बॉडी को ठिकाने लगाने का प्लान बनाया था। उसने पुलिस को पूछताछ में बताया कि उसने गूगल पर मानव शरीर रचना के बारे में पढ़ा ताकि उसे श्रद्धा के शरीर के टुकड़े-टुकड़े करने में मदद मिल सके। पुलिस ने कहा कि उन्होंने आफताब अमीन पूनावाल के इलेक्ट्रॉनिक गैजेट को जब्त किया है और इसकी गहनता से जांच की जाएगी।

 

इन इलेक्ट्रॉनिक सामानों की जांच के बाद पुलिस आफताब अमीन पूनावाल के इस कबूलनामे को सच मानेगी। पुलिस ने कहा, गूगल पर सर्च करने के बाद उसने श्रद्धा के खून के धब्बों को जमीन से साफ किया। इसके लिए उसने कैमिकल का इस्तेमाल किया और गंदे कपड़ों को फेंक दिया।’ इसके बाद उसने डेड बॉडी को बाथरूम में रखा और नजदीक की दुकान से एक फ्रिज खरीद कर ले आया। बाद में उसने डेड बॉडी के कई टुकड़े किये और फ्रिज में डाल दिये।

CG Job Bulletin: CGKV RECRUITMENT 2023: अंशकालीन शिक्षक की वेकेंसी के लिए इस विश्वविद्यालय में आवेदन आमंत्रित | ऑनलाइन बुलेटिन डॉट इन
READ

 

जिस कमरे में श्रद्धा को काटा उसी कमरे में सोता था

 

दिल्ली पुलिस को श्रद्धा के पिता की शिकायत मिलने के बाद 10 नवंबर को एफआईआर दर्ज हुआ था। इसके बाद से पुलिस इस मामले की गहरी तफ्तीश में लगी थी। पुलिस ने बताया कि आफताब अमीन पूनावाल उसी कमरे में हर दिन सोता था जिस कमरे में उसने श्रद्धा के कई टुकड़े किये थे। फ्रिज में रखने के बाद वो अक्सर उसका चेहरा देखता था। फ्रिज से सभी अंगों को फेंकने के बाद आफताब अमीन पूनावाल ने फ्रिज को भी साफ किया था।

 

श्रद्धा से पहले कई लड़कियों से आफताब का रिश्ता

 

सूत्रों के हवाले से यह भी कहा जा रहा है कि श्रद्धा से पहले आफताब अमीन पूनावाल का कई लड़कियों से रिश्ता था। इस अपराध को करने से पहले उसने कई क्राइम मूवीज और वेब सीरिज देखी थी। इसमें अमेरिकन क्राइम ड्रामा सीरिज Dexter भी शामिल है। आफताब अमीन पूनावाल ने कबूल किया है कि शादी की बात को लेकर उनके बीच कई बार लड़ाई भी हुई है। इस मामले में फिलहाल आफताब अमीन पूनावाल पर भारतीय दंड संहिता की धारा 302 और 201 के तहत केस दर्ज किया गया है। महरौली पुलिस स्टेशन में यह केस दर्ज हुआ है।

 

श्रद्धा के 35 टुकड़े कर फेंक आया

 

दिल्ली पुलिस ने 6 महीने पुराने के एक ब्लाइंड मर्डर केस का खुलासा किया तो सबकी आंखें फटी की फटी ही रह गईं। पुलिस ने 28 साल की श्रद्धा की हत्या के मामले में उसके लिव-इन पार्टनर को पकड़ा। आरोप है कि उसने हत्या के बाद श्रद्धा के शरीर के 35 टुकड़े किये थे। उसने इन टुकड़ों को दिल्ली के विभिन्न इलाकों में ले जाकर फेंक दिया था। आफताब अमीन पूनावाल मुंबई का रहने वाला है। श्रद्धा के पिता ने अपनी बेटी के लापता होने की शिकायत दर्ज कराई थी जिसके बाद आफताब अमीन पूनावाल को दिल्ली से पकड़ा गया। अदालत ने आरोपी आफताब अमीन पूनावाल को 5 दिनों के लिए पुलिस रिमांड पर भेज दिया है।

पत्रकार से राजनेता बने इसुदान गढ़वी को AAP ने गुजरात में बनाया मुख्यमंत्री फेस, केजरीवाल ने कहा- 73 प्रतिशत की पसंद | ऑनलाइन बुलेटिन
READ

 

आफताब अमीन पूनावाल और श्रद्धा की पहली जान-पहचान एक डेटिंग साइट पर हुई थी। इसके बाद दोनों मुंबई के एक कॉल सेंटर में मिले। करीब 3 साल तक दोनों लिव इन रिलेशनशिप में रहे और फिर बाद में दिल्ली आकर शिफ्ट हो गये। यहां आने के बाद श्रद्धा ने आफताब अमीन पूनावाल पर शादी करने का दबाव बनाया। दोनों एकसाथ छतरपुर में एक किराये के मकान में रहने थे। शादी का दबाव बनाने की वजह से आफताब अमीन पूनावाल ने श्रद्धा का बेरहमी से कत्ल कर दिया।

 

ये भी पढ़ें:

बिलासपुर : बाल दिवस पर गणेश नगर वार्ड 46 के पार्षद इब्राहिम खान हुए शामिल, कबाड़ से जुगड़ प्रदर्शनी का किया अवलोकन | ऑनलाइन बुलेटिन

 

 

Related Articles

Back to top button