.

देखे वीडियो: ‘हिंदुत्व कोई फेयर एंड लवली की क्रीम नहीं कि सर्दी आएगी तो होंठ पर अलग लगाएंगे और पैर पर अलग लगाएंगे, भारत जोड़ो यात्रा में दिया कांग्रेस नेता कन्हैया कुमार का बयान वायरल | ऑनलाइन बुलेटिन

मुंबई | [महाराष्ट्र बुलेटिन] | छात्र नेता से राष्ट्रीय राजनीति में आए कांग्रेस नेता कन्हैया कुमार का हिंदुत्व को लेकर दिया बयान सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। कांग्रेस नेता कन्हैया कुमार ने कहा कि हिंदुत्व कोई फेयर एंड लवली क्रीम नहीं है कि सर्दी आएगी तो होंठ पर अलग लगाएंगे और पैर पर अलग लगाएंगे। कन्हैया ने कहा कि हिंदुत्व एक विचारधारा है। यह राजनीतिक विचारधारा है। शुक्रवार को महाराष्ट्र के नांदेड़ में भारत जोड़ो यात्रा के दौरान कन्हैया कुमार ने यह बयान दिया। मालूम हो कि राहुल गांधी के नेतृत्व वाली भारत जोड़ो यात्रा में कन्हैया कई दिनों से साथ चल रहे हैं। ऑनलाइन बुलेटिन डॉट इन वायरल वीडियो के सत्यता की पुष्टि नहीं करता है।

 

कन्हैया कुमार ने कहा, ‘व्हाट्सऐप के जरिए आज जो हिंदुत्व समझाया जा रहा है और जिस तरह से इसे शॉफ्ट व हार्ड के तौर पर पेश किया जा रहा है… यह अलग ही है। जहर तो जहर ही होता है। चाहे वह सांप का हो या उसके बच्चे का। कोई भी विचारधारा जो धर्म के नाम पर एक-दूसरे को लड़ाती हो, वह धार्मिक नहीं कही जा सकता है। धर्म का एकमात्र उद्देश्य मानव मात्र की मुक्ति है।’

 

पब्लिक सेक्टर को हर दिन बेचा जा रहा: कन्हैया कुमार

 

कांग्रेस नेता ने कहा कि देश में बीते 45 साल में सबसे ज्यादा बेरोजगारी है। हमारे पब्लिक सेक्टर को प्रतिदिन बेचा जा रहा है। उन्होंने कहा, ‘देखिए कि LIC का कितना शेयर अडाणी के पास है और वो दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति बनने वाले हैं। आपका पैसा लेकर कोई अमीर बन रहा है और आपके बच्चों को नौकरी नहीं मिल रही। इसलिए यह हार्ड और शॉफ्ट की बात नहीं है, बात तो सच्चाई की है। आपको सच देखने की जरूरत है।’

उत्तर प्रदेश में जीत रही भारतीय जनता पार्टी, जानें यूपी वालों को क्या-क्या फ्री देंगे योगी आदित्यनाथ | ऑनलाइन बुलेटिन
READ

 

 

महाराष्ट्र के शेवाला गांव से भारत जोड़ो यात्रा फिर शुरू

 

बता दें कि भारत जोड़ो यात्रा महाराष्ट्र में अपने छठे दिन शनिवार सुबह हिंगोली जिले के शेवला गांव से फिर शुरू हुई। पार्टी के एक पदाधिकारी ने बताया कि पदयात्रा आरती गांव, पारडी मोड़ बस स्टैंड और कलामनुरी जिला परिषद हाई स्कूल मैदान से होकर गुजरेगी। इसके बाद कलामनुरी के ‘शंकरराव सातव आर्ट्स एंड कॉमर्स कॉलेज’ परिसर में रातभर रुकेगी।

 

तमिलनाडु के कन्याकुमारी से 7 सितंबर को शुरू हुई यह यात्रा शनिवार को 66वें दिन में प्रवेश कर चुकी है और अब तक छह राज्यों के 28 जिलों से होकर गुजरी है। लगभग 150 दिन की इस यात्रा के दौरान 3,570 किमी की दूरी तय की जाएगी। जम्मू-कश्मीर में समाप्त होने से पहले यह 12 राज्यों से होकर गुजरेगी।

 

ये भी पढ़ें:

उस दिन 1969 में पहला प्रधानमंत्री गैर- कांग्रेसी हुआ था | ऑनलाइन बुलेटिन डॉट इन

 

Related Articles

Back to top button