.

CG News: कांकेर-दंतेवाड़ा में 8 और 3 लाख के इनामी हार्डकोर पुरुष-महिला नक्सली का सरेंडर | ऑनलाइन बुलेटिन

रायपुर | [छत्तीसगढ़ बुलेटिन] | CG News: बस्तर संभाग में चलाए जा रहे एंटी नक्सल ऑपरेशन को लगातार सफलता मिल रही है। पुलिस और फोर्स के दबाव में माओवादी सरेंडर कर रहे हैं। कांकेर जिले में नक्सलियों के सीसी प्रोटेक्शन कंपनी नंबर-7 का सदस्य 8 लाख रुपये के इनामी नक्सली महिपाल आंचला (34 वर्ष) निवासी ग्राम जुंगड़ा थाना-कोयलीबेड़ा ने गुरुवार को कांकेर एसपी के समक्ष स्टेन कार्बाइन रायफल के साथ सरेंडर कर दिया। वहीं दंतेवाड़ा में 3 लाख की इनामी महिला नक्सली ने लोन वर्राटू अभियान के तहत आत्मसमर्पण कर दिया।

 

कांकेर एसपी ने बताया कि सरेंडर नक्सली महिपाल आंचला माओवादी संगठन में कार्तिक उर्फ राकेश उर्फ विस्वा के नाम से नक्सली संगठन में काम कर चुका है। माड़ उत्तर बस्तर संयुक्त डिवीजन कमांड इन चीफ नागेश ने साल 2008 में महिपाल को माओवादी संगठन में भर्ती किया था।

 

2008 से 2010 तक कोयलीबेड़ा क्षेत्र में सक्रिय नक्सली कमांडर नागेश के दलम में काम किया। वर्ष 2010 में बेसिक कम्युनिस्ट ट्रेनिंग स्कूल में 6 माह तक पढ़ाई की। महिपाल ने पुलिस को बताया कि नक्सलियों की खोखली विचारधारा और हिंसा से परेशान होकर उसने सरेंडर करने का निर्णय लिया।

 

दंतेवाड़ा में डिप्टी कमांडर महिला नक्सली का आत्मसमर्पण

 

दंतेवाड़ा एसपी ने बताया कि में नक्सलियों की माटवाड़ा एलओएस डिप्टी कमांडर 3 लाख की इनामी महिला नक्सली कुमारी कड़ती उर्फ रोशनी ओयाम ने गुरुवार को पुलिस के सामने अरनपुर में सरेंडर कर दिया है। आत्मसमर्पित महिला नक्सली बतौर एलओएस डिप्टी कमांडर काफी लंबे समय से दंतेवाड़ा जिले में सक्रिय थी।

 

महिला ने लोन वर्राटू (घर वापस आइये) अभियान के तहत आत्मसमर्पण किया है। कुमारी कड़ती सर्चिंग पार्टी पर हमला, हथियार लूटने, एम्बुश लगाकर फायरिंग करने, जनअदालत में हत्या करने की घटनाओं में शामिल रहीं हैं। 2017 में सुकमा के बुरकापाल में 25 जवानों की शहादत और 11 जवानों को घायल करने की घटना में भी रोशनी शामिल रही हैं।

Big news: झारखंड के 6000 वकीलों के रद्द होंगे लाइसेंस, क्यों उठाया गया कदम और इस नियम से क्या होगा, पढ़ें | ऑनलाइन बुलेटिन
READ

 

ये भी पढ़ें

 

Chhattisgarh news: ITBP के SI ने की आत्महत्या, दफ्तर में लटकी मिली लाश, नक्सल मोर्चे पर तैनात था | ऑनलाइन बुलेटिन

 

Related Articles

Back to top button