.

लव, सेक्स और धोखा का खौफनाक अंत, घर की बाड़ी से कब्र खोदकर निकाली महिला की लाश | ऑनलाइन बुलेटिन

रायगढ़ | [छत्तीसगढ़ बुलेटिन] | (Raigarh Kanti Yadav Murder Case) लव सेक्स और धोखा का मामला सामने आया है. यहां एक महिला की हत्या उसके साथ लिव-इन में रहने वाले उसके प्रेमी ने कर दी। (Raigarh Crime News) लाश को घर के बाड़ी में दफना दिया. रायगढ़ पुलिस ने परिवारवालों की सूचना पर घर की बाड़ी से लाश बरामद कर ली है.

 

महिला की बड़ी बहन को शक हुआ और वह जब अपनी बहन के घर पहुंची तो उसने लाश को घर की बाड़ी में दफन देखा. जिसके बाद उसने पुलिसवालों को सूचना दी और लाश का बरामद किया गया।

 

17 दिनों से महिला का फोन था बंद

 

महिला के परिवारवालों ने बताया कि 17 दिनों से महिला का मोबाइल फोन स्विच ऑफ आ रहा था (womans dead body found in backyard of home in Raigarh). जब परिवार वालों ने पता किया तो उसके प्रेमी के खगेश्वर के बारे में पता चला कि वह अस्पताल में एडमिट होकर अपना इलाज करा रहा है.

 

महिला के पिता गोपालराम ने बताया कि सूचना मिलने पर वे तुरंत कुनकुरी अस्पताल पहुंचे और अपनी बेटी कांति के बारे में खगेश्वर से पूछताछ शुरू की. लेकिन खगेश्वर जवाब देने वक्त गोलमोल बात में उसे उलाझाना शुरू कर दिया.

 

यहीं से महिला कांति देवी के परिवारवालों को शक हुआ. उन्होंने अपनी बड़ी बेटी को इसकी सूचना दी. उसकी बड़ी बेटी जब यहां आई तो मामले का खुलासा हुआ.

 

खगेश्वर और कांति यादव के बीच था प्रेम प्रसंग

 

महिला कांति यादव के परिवारवालों ने बताया कि कांति और खगेश्वर के बीच प्रेम संबंध था. दोनों शादी शुदा है. लेकिन दोनों अपने परिवार को छोड़कर एक दूसरे के साथ रहते थे. कांति के 2 बेटे हैं जबकि खगेश्वर के भी 4 बच्चे हैं. खगेश्वर का परिवार जशपुर के पत्थलगांव में रहता था. लेकिन खगेश्वर अपनी पत्नी और बच्चों को छोड़कर कांति के साथ रहता था. साल 2018 से यह यहां रह रहे थे. खगेश्वर ड्राइवरी का काम करता था.

 

शिकायत पर पुलिस ने खुदवाई कब्र

 

रायगढ़ के सिटी एसपी ने बताया कि कांति यादव के परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने कब्र को खुदवाया. उसके बाद शव को बरामद किया गया है. कांति का प्रेमी खगेश्वर फरार बताया जा रहा है. पुलिस आरोपी की तलाश में जुट गई है और कांति के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है.

 

 

दम तोड़ती स्वास्थ्य सेवाएं, मुंगेली में बैगा महिला को खाट पर नदी कराया गया पार | ऑनलाइन बुलेटिन

 

Related Articles

Back to top button