.

जेल में बंद गुरमीत राम रहीम असली या नकली, कोर्ट में हुई सुनवाई jel mein band gurameet raam raheem asalee ya nakalee, kort mein huee sunavaee

बागपत | [कोर्ट बुलेटिन] | पंजाब हरियाणा के हाईकोर्ट में डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को नकली बताकर डाली गई याचिका को कोर्ट ने खारिज कर दिया है। रोहतक की सुनरिया जेल से एक माह का पैरोल लेकर डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम बरनावा के आश्रम में परिवार संग पैरोल अवधि का समय काट रहा है। उधर, आश्रम में पहुंची रोहतक पुलिस ने बताया कि प्रारंभिक जांच में भी राम रहीम असली है।

 

आश्रम के प्रेस प्रवक्ता जितेंद्र खुराना ने बताया कि कुछ लोगों ने पंजाब हरियाणा की हाईकोर्ट में 51 पेज की याचिका दायर की थी। जिसमें उन्होंने बागपत के बरनावा आश्रम में पैरोल काट रहा गुरमीत राम रहीम को नकली, असली का अपहरण होना, उसकी हत्या होना, हत्या हो जाने के संकेत दर्शा कर डेरे की गद्दी को कब्जाने का प्रयास किया जाना सहित उसके द्वारा अनुयायियों को न पहचानना, कद का एक इंच बढ़ना, पैरों की अंगुली बड़ी होना, हाव भाव अलग होने का दावा किया था।

 

उन्होंने बताया कि उक्त याचिका की सोमवार को कोर्ट में सुनवाई हुई। सुनवाई में कोर्ट द्वारा उक्त याचिका को खारिज कर दिया गया है। बरनावा आश्रम में पैरोल का समय काट रहा गुरमीत राम रहीम असली है। वहीं आश्रम में पहुंची रोहतक पुलिस ने बताया कि प्रारंभिक जांच में भी राम रहीम असली है।

 

 

गुरमीत राम रहीम सिंह

 

Gurmeet Ram Rahim in jail real or fake, hearing held in court

 

 

Baghpat | [Court Bulletin] | The court has dismissed the petition filed in the High Court of Punjab and Haryana, describing Dera chief Gurmeet Ram Rahim as fake. Taking parole of one month from Rohtak’s Sunaria jail, Dera chief Gurmeet Ram Rahim is spending his parole period with his family at Barnawa’s ashram. On the other hand, Rohtak police, who reached the ashram, told that even in the preliminary investigation, Ram Rahim is real.

 

मेरा काम बोलेगा, भारत के 50वें मुख्य न्यायाधीश के रूप में शपथ लेने के बाद बोले न्यायमूर्ति धनंजय वाई चंद्रचूड़; गांधी को किया नमन | ऑनलाइन बुलेटिन
READ

Ashram’s press spokesperson Jitendra Khurana said that some people had filed a 51-page petition in the Punjab Haryana High Court. In which he accused Gurmeet Ram Rahim, who is serving parole in Barnawa Ashram of Baghpat, for not recognizing the followers, including the real kidnapping, his murder, attempting to seize the throne of the dera by showing signs of being murdered, stature. Had claimed to grow an inch, big toes, different gestures.

 

He said that the said petition was heard in the court on Monday. In the hearing, the said petition was dismissed by the court. Gurmeet Ram Rahim, who is serving his parole time in Barnawa Ashram, is real. At the same time, Rohtak police, who reached the ashram, told that even in the preliminary investigation, Ram Rahim is real.

 

 

 

श्रीकृष्ण जन्मभूमि केस: आगरा किले से विग्रह को निकलवाने की मांग, दिया प्रार्थनापत्र shreekrshn janmabhoomi kes: aagara kile se vigrah ko nikalavaane kee maang, diya praarthanaapatr

 

 

 

Related Articles

Back to top button