.

आरटीओ की पोर्टेबल स्कीम के तहत अब एक लाख रुपये में मिलने वाले VIP नंबर सिर्फ 25 हजार में लगवाए

प्रयागराज

वाहनों में वीआईपी नंबरों के शौकीनों के लिए राहत की खबर है। आरटीओ की पोर्टेबल स्कीम के तहत अब एक लाख रुपये में मिलने वाले वीआईपी नंबर लोगों को एक चौथाई कीमत यानी 25 हजार रुपये में ही मिल जाएंगे। इस स्कीम में वो नंबर आएंगे जिनका पंजीकरण तीन साल से अधिक पुराना होगा।

इस स्कीम के तहत यदि किसी के दो पहिया या चार पहिया वाहनों में वीआईपी नंबर है और दूसरी नई गाड़ी खरीदने पर उसी पुराने नंबर की चाहत है तो वाहन मालिक को अपने पुराने नंबर का उल्लेख करते हुए आरटीओ में आवेदन करना होगा। एक लाख कीमत वाले वीआईपी नंबर को 25 हजार और असाइनमेंट शुल्क 600 रुपये अतिरिक्त आरटीओ में भुगतान करने के बाद पुराना नंबर वर्तमान में चल रही सीरीज के साथ नए वाहन के लिए विभाग आवंटित कर देगा।

सामान्य नंबर भी कर सकते हैं रिप्लेस
आरटीओ की इस पोर्टेबल स्कीम में जहां वीआईपी नंबरों पर बड़ी छूट का लाभ मिलेगा, वहीं दूसरी ओर दो पहिया, चार पहिया वाहनों के सामान्य नंबरों को भी पुराने से नए वाहन में पोर्ट कराने की सुविधा भी है। इसके लिए भी अपने पुराने नंबरों का उल्लेख करते हुए रजिस्ट्रेशन शुल्क के साथ असाइनमेंट फीस आरटीओ में अदा करनी होगी। कामर्शियल समेत छोटे-बड़े सभी वाहनों के लिए यह स्कीम है।

यह होगा शुल्क
रिप्लेसमेंट के तहत चार पहिया और बड़े वाहनों के सामान्य नंबर के लिए पांच हजार रुपये और छह सौ असाइनमेंट शुल्क, इसी तरह तीन पहिया के लिए तीन हजार, जबकि दो पहिया वाहनों के लिए दो हजार और छह सौ असाइंनमेंट शुल्क है। इस स्कीम के तहत अब तक 110 वाहनों ने अपने नंबर पोर्ट कराए हैं।

क्‍या कहते हैं अधिकारी
एआरटीओ प्रशासन राजीव चतुर्वेदी ने कहा कि इस स्कीम के तहत वीआईपी नंबर के वाहन मालिकों को अधिक फायदा होगा। कुछ लोगों ने अपने वाहनों में नंबरों को रिप्लेस कराया भी है। सभी वाहनों के लिए यह सुविधा उपलब्ध है।

 


Back to top button