.

आंधी के चलते मैहर के रोप-वे में अटकी 28 श्रद्धालुओं की जान aandhee ke chalate maihar ke rop-ve mein atakee 28 shraddhaaluon kee jaan

सतना | [मध्य प्रदेश बुलेटिन] | जिले के शारदा शक्तिपीठ मैहर में उस वक्त 28 श्रद्धालुओं की जान संसार में आ गई, जब तेज आंधी के बीच रोपवे की 7 ट्रॉलियां हवा में ही हिचकोले खाने लगीं। एक ट्रॉली में सिर्फ 4 लोगों के हिसाब से 7 ट्रॉलियों में करीब 28 श्रद्धालु सवार थे। इसी बीच आंधी आ गई और सभी आधे घंटे तक हवा में ही झूलते रहे

 

इस घटना ने हाल ही में झारखंड के देवघर में हुए रोपवे हादसे की याद ताजा कर दी। दामोदर रोपवे प्रबंधन ने किसी तरह ट्रॉलियों को धीरे-धीरे नीचे पहुंचाया और श्रद्धालुओं को उतारा।

Due to the storm, the lives of 28 pilgrims stuck in the ropeway of Maihar

 

Satna | [Madhya Pradesh Bulletin] | In the Sharda Shaktipeeth Maihar of the district, the lives of 28 devotees came to the world when 7 trolleys of the ropeway started hesitating in the air in the midst of a strong storm. According to only 4 people in one trolley, there were about 28 devotees in 7 trolleys. In the meantime, the storm came and everyone kept swinging in the air for half an hour.

 

This incident reminded the recent ropeway accident in Deoghar, Jharkhand. Damodar ropeway management somehow slowly brought down the trolleys and unloaded the devotees.

 

 

रेल आईजी बिलासपुर एएन सिन्हा ने किया श्वान दस्ता का वार्षिक निरीक्षण rel aaeejee bilaasapur een sinha ne kiya shvaan dasta ka vaarshik nireekshan

 

 

अन्य पिछड़ा वर्ग आरक्षण बिना पंचायत चुनाव के खिलाफ उमा भारती, बोलीं- 70 फीसदी आबादी से अन्याय l ऑनलाइन बुलेटिन
READ

Related Articles

Back to top button