.

भोपाल में एक शख्स की मौत का खुलासा मरा हुआ सांप करेगा, पोस्टमॉर्टम कराएगी पुलिस bhopaal mein ek shakhs kee maut ka khulaasa mara hua saamp karega, postamortam karaegee pulis

भोपाल | [मध्य प्रदेश बुलेटिन] | एक शख्स की मौत का खुलासा मरा हुआ सांप करेगा। इसके लिए बकायदा सांप का पोस्टमार्टम कराया जाएगा। पुलिस ने मरे हुए सांप को ऑटोप्सी के लिए भेजा है, ताकि इस बात का पता लगाया जा सके की उसकी मौत कैसे हुई थी और क्या इसे जांच को गुमराह करने के लिए रखा गया था। बता दें कि मारा हुआ सांप पुलिस को मृतक के शव के बगल से मिला था। 

 

अधिकारियों का कहना है कि यह पहली बार है जब उन्होंने किसी सांप का पोस्टमार्टम करने के लिए कहा है। मृतक की पहचान 43 साल के नवल सिंह उर्फ भरत सिंह के तौर पर हुई है जो पिपलानी में रहता था। वह कटारा हिल्स के एक निजी स्कूल में ड्राइवर का काम करता था। जांच अधिकारी एसआई रोहित नागर ने कहा कि वह 9 जुलाई की सुबह मिसरोद में अपने दोस्त की झोपड़ी में मृत पाया गया था।

 

मृतक और सांप के शव पर नहीं मिले चोट के निशान

 

पुलिस ने बताया कि उसके शरीर पर चोट के कोई निशान नहीं थे लेकिन उसके बगल में एक जहरीला सांप मरा पड़ा था। पोस्टमार्टम के दौरान सांप के काटने का पता नहीं चला। हैरान करने वाली बात यह है कि सांप के शव पर भी चोट का कोई निशान नहीं था। अगले तीन दिनों तक, पुलिस इस बात का पता लगाने में असमर्थ रही कि आखिर दोनों की मौत कैसे हुई है।

 

बस ड्राइवर को गला घोंटकर माारा गया

 

मंगलवार को मिसरोद पुलिस को मृतक की ऑटोप्सी रिपोर्ट मिली, जिसमें स्पष्ट रूप से कहा गया था कि उसकी गला घोंटकर हत्या की गई थी। पुलिस ने एक गुत्थी को सुलझा लिया है लेकिन सांप की मौत अब भी उसके लिए पहेली बनी हुई है। पुलिस ने अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया है और सांप के शव को पोस्टमार्टम के लिए पशु चिकित्सा महाविद्यालय भेजने का फैसला किया है। ताकि यह पता लगाया जा सके कि सिंह को सांप ने काटा था या। इसकी जांच के लिए पुलिस विसरा रिपोर्ट का इंतजार कर रही है।

मोदी सरकार का खत्म हो रहा ''चुनावी ऑफर'', फटाफट टैंक फुल करवा लीजिए : राहुल का तंज l ऑनलाइन बुलेटिन
READ

 

पुलिस को शक है कि मृत सांप का सहारा लेकर लेकर अपराध स्थल के साथ छेड़छाड़ की गई है ताकि ऐसा लगे कि उसकी मौत सर्पदंश से हुई। सिंह अक्सर मिसरोद के जाटखेड़ी इलाके में अपने दोस्त के घर पर रहता था क्योंकि यहां से वह सुबह जल्दी स्कूल पहुंच जाता था। 8 जुलाई को उसने तीन दोस्तों- संदीप वाघमारे, तुलाराम और संजय के साथ बाग सेवनिया में एक देशी शराब की दुकान पर शराब पी थी।

 

पुलिस को मिले अहम सुराग

 

पुलिस ने बताया कि तीनों एक ही स्कूल में बस ड्राइवर हैं। संजय और तुलाराम घर चले गए जबकि नवल उनके साथ जाटखेड़ी स्थित संदीप के घर लौट आया। संदीप ने पुलिस को बताया कि वह अपने परिवार के साथ झोपड़ी में सोने गया था और उसने सिंह के लिए दूसरी झोपड़ी की व्यवस्था की थी। एसआई नागर ने कहा कि जब सिंह अगली सुबह नहीं उठा तो संदीप ने उसकी जांच की और उसे मृत पाया। उसने मिसरोद पुलिस को इसकी सूचना दी। नागर ने कहा कि नवल के दोस्तों ने उसकी हत्या से इनकार किया है। अतिरिक्त डीसीपी राजेश भदौरिया ने कहा कि पुलिस को मामले में मुख्य संदिग्ध के खिलाफ कुछ सुराग मिले हैं और इस मिस्ट्री को जल्द ही सुलझा लिया जाएगा।

 

 

Dead snake will reveal the death of a person in Bhopal, police will conduct postmortem

 

 

Bhopal | [Madhya Pradesh Bulletin] | A dead snake will reveal the death of a person. For this, a post-mortem of the snake will be done. Police have sent the dead snake for autopsy to find out how it died and whether it was kept to mislead the investigation. Please tell that the killed snake was found by the police next to the dead body.

 

9 साल से '2611' लिए घूम रहा था कन्हैया का हत्यारा रियाज 9 saal se 2611 lie ghoom raha tha kanhaiya ka hatyaara riyaaj
READ

Officials say this is the first time they have asked for a post-mortem of a snake. The deceased has been identified as 43-year-old Naval Singh alias Bharat Singh, who lived in Piplani. He used to work as a driver in a private school in Katara Hills. Investigating officer SI Rohit Nagar said he was found dead on the morning of July 9 at his friend’s hut in Misrod.

 

 No injury marks found on the dead and the snake’s carcass

 

Police said that there were no injury marks on his body but a poisonous snake was lying dead next to him. The snake bite was not detected during the post-mortem. The surprising thing is that there was no mark of injury on the carcass of the snake. For the next three days, the police were unable to ascertain how the two had died.

 

Bus driver was strangled to death

 

On Tuesday, the Misrod police received the autopsy report of the deceased, which clearly stated that he was strangled to death. The police have solved a mystery but the death of the snake still remains an enigma for him. The police have registered a case of murder against unknown persons and decided to send the carcass of the snake to the Veterinary College for post-mortem. So that it can be found out whether the lion was bitten by a snake. The police are waiting for the viscera report to investigate this.

 

The police suspect that the crime scene was tampered with by taking the help of a dead snake to make it appear that he died of snakebite. Singh often stayed at his friend’s house in Jatkhedi area of ​​Misrod as he used to reach school early in the morning. On July 8, he along with three friends – Sandeep Waghmare, Tularam and Sanjay had drank alcohol at a country liquor shop in Bagh Sevaniya.

कांग्रेस ने 'बुरे दिनों में दलित नेता को बलि का बकरा बनाया'... मल्लिकार्जुन खड़गे को लेकर मायावती जी का तंज | ऑनलाइन बुलेटिन
READ

 

 Police got important clues

 

Police said all three are bus drivers in the same school. Sanjay and Tularam went home while Naval returned with them to Sandeep’s house in Jatkhedi. Sandeep told the police that he had gone to sleep in the hut with his family and had arranged another hut for Singh. SI Nagar said that when Singh did not wake up the next morning, Sandeep examined him and found him dead. He informed the Misrod police about it. Nagar said that Naval’s friends have denied killing him. Additional DCP Rajesh Bhadauria said that the police have got some clues against the prime suspect in the case and the mystery will be solved soon.

 

 

हामिद अंसारी फिर खबरों में ! haamid ansaaree phir khabaron mein !

 

 

Related Articles

Back to top button