.

द्रौपदी मुर्मू को समर्थन पर झुके उद्धव, अब भाजपा से गठबंधन का सांसद बना रहे दबाव draupadee murmoo ko samarthan par jhuke uddhav, ab bhaajapa se gathabandhan ka saansad bana rahe dabaav

Uddhav Thackeray News: मुंबई | [महाराष्ट्र बुलेटिन] | प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के लिए सरकार गंवाने के बाद अब पार्टी की बगावत संभालना भी मुश्किल हो रहा है। उन्होंने कल पार्टी के सांसदों की बैठक अपने आवास ‘मातोश्री’ पर बुलाई थी। इस बैठक में कुल 22 सांसदों में से 15 ही पहुंचे और उनमें से भी ज्यादातर ने दबाव बनाया था कि वह शिवसेना की ओर से एनडीए की राष्ट्रपति उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू के समर्थन का ऐलान करें। तब संजय राउत ने यशवंत सिन्हा की वकालत की थी, लेकिन अकेले पड़ गए। इस पर उद्धव ठाकरे ने कहा था कि वह विचार करेंगे और आज सुबह खुद संजय राउत ने ही मुर्मू के समर्थन का ऐलान कर दिया।

 

यही नहीं सांसदों का यह भी दबाव है कि वह भाजपा के साथ गठबंधन सरकार पर राजी हो जाएं। कहा जा रहा है कि इससे एक तरफ पार्टी टूटने से बच जाएगी और दूसरी तरफ सरकार में भी शिवसैनिकों को हिस्सेदारी मिल सकेगी।

 

सोमवार को उद्धव ठाकरे की बुलाई मीटिंग में शामिल रहे सांसद हेमंत गोडसे ने यह जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि मीटिंग के दौरान सांसदों ने पार्टी प्रमुख को यह सुझाव दिया था। उन्होंने कहा, ‘केंद्र और राज्य सरकारें मिलकर काम करें तो विकास कार्यों को गति मिलेगी। इसलिए, हम, सांसदों ने पार्टी प्रमुख से एक स्वाभाविक गठबंधन बनाने की मांग की।’

 

सांसद बोले- भाजपा से गठबंधन फायदे का सौदा

 

उन्होंने कहा, ‘हमने उद्धव ठाकरे से कहा कि महा विकास अघाड़ी और भाजपा के साथ गठबंधन में बड़ा अंतर है। हमने उद्धव ठाकरे से कहा कि बीजेपी हमारी स्वाभाविक सहयोगी है। हमने पार्टी नेताओं को यह भी याद दिलाया कि केंद्र और राज्य एक साथ नहीं होने के कारण परियोजनाएं रुकी हुई थीं।’

बच्चे को निगला तो गांव वालों ने मगरमच्छ को बनाया बंधक, बोले- मासूम को पेट से बाहर निकाले तब ही छोड़ेंगे bachche ko nigala to gaanv vaalon ne magaramachchh ko banaaya bandhak, bole- maasoom ko pet se baahar nikaale tab hee chhodeng
READ

 

बता दें कि संजय राउत ने खुद ही आज सुबह मीडिया से बात करते हुए द्रौपदी मुर्मू को शिवसेना की ओर से समर्थन देने का ऐलान किया। उन्होंने कहा कि वह पहली महिला आदिवासी कैंडिडेट हैं और जनभावना को देखते हुए हमने यह फैसला लिया है। इसके साथ ही राउत ने कहा था कि इसका मतलब यह नहीं है कि हम भाजपा के भी साथ हैं।

 

उद्धव समर्थक विधायक बोले- 100 हाथियों की ताकत मिली

 

इस बीच उद्धव ठाकरे की ओर से अपने समर्थक 15 विधायकों के पत्र पर विधायक राहुल पाटिल ने खुशी जताई है। उन्होंने कहा कि उद्धव ठाकरे के पत्र से उन्हें 100 हाथियों की ताकत मिली है। पाटिल ने कहा कि शिवसेना हमारा परिवार है, जिसे कुछ लोगों ने तबाह करने की कोशिश की थी।

 

राहुल पाटिल ने उद्धव की तारीफ में कहा, ‘आपने गर्व के साथ मुख्यमंत्री का पद छोड़ा। शिवसेना स्वर्गीय बालासाहेब ठाकरे के शानदार विचारों की ढाल है। शिवसेना की वफादारी ही हमारा सब कुछ है। इस लड़ाई में हमें अपना ख्याल रखना चाहिए। विधायक राहुल पाटिल ने कहा कि परभणी जिले के शिवसेना कार्यकर्ता उनके साथ मजबूती से खड़े हैं।’

 

 

Uddhav bowed down on support to Draupadi Murmu, now under pressure to make alliance with BJP

 

 

Uddhav Thackeray News: Mumbai | [Maharashtra Bulletin] | After losing the government for the former Chief Minister of the state, Uddhav Thackeray, now it is becoming difficult to handle the rebellion of the party. He had called a meeting of party MPs yesterday at his residence ‘Matoshree’. Only 15 of the 22 MPs attended the meeting and most of them had pressed for the Shiv Sena to announce the support of the NDA’s presidential candidate, Draupadi Murmu. Then Sanjay Raut advocated for Yashwant Sinha, but fell alone. On this Uddhav Thackeray had said that he would consider and this morning Sanjay Raut himself announced Murmu’s support.

 

आजादी की 75 साल बाद दलित छात्र को पीट- पीटकर अध्यापक द्वारा मौत के घाट उतारे जाने से नाराज कांग्रेस विधायक ने दिया इस्तीफा aajaadee kee 75 saal baad dalit chhaatr ko peet- peetakar adhyaapak dvaara maut ke ghaat utaare jaane se naaraaj kaangres vidhaayak ne diya isteepha
READ

Not only this, there is also pressure from MPs to agree to a coalition government with BJP. It is being said that this will save the party from breaking up on the one hand and on the other hand the Shiv Sainiks will also be able to get a share in the government. MP Hemant Godse, who was involved in the meeting convened by Uddhav Thackeray on Monday, has given this information. He said that the MPs had suggested this to the party chief during the meeting. He said, ‘If the central and state governments work together, then development works will get momentum. Therefore, we, the MPs, demanded the party chief to form a natural alliance.

 

MP said – alliance with BJP is a win-win deal

 

“We told Uddhav Thackeray that there is a big difference between the alliance with Maha Vikas Aghadi and BJP. We told Uddhav Thackeray that BJP is our natural ally. We also reminded the party leaders that the projects were stalled because the Center and the state were not together.

 

Let us tell you that Sanjay Raut himself, while talking to the media this morning, announced the support of Shiv Sena to Draupadi Murmu. She said that she is the first woman tribal candidate and we have taken this decision keeping in view the public sentiment. Along with this, Raut had said that this does not mean that we are also with the BJP.

 

 Supporter of Uddhav MLA said – got the power of 100 elephants

 

काली के हाथ में सिगरेट और समुदाय विशेष का झंडा, यूपी के बाद दिल्ली में केस दर्ज kaalee ke haath mein sigaret aur samudaay vishesh ka jhanda, yoopee ke baad dillee mein kes darj
READ

Meanwhile, on behalf of Uddhav Thackeray, MLA Rahul Patil has expressed happiness on the letter of 15 MLAs supporting him. He said that Uddhav Thackeray’s letter has given him the strength of 100 elephants. Patil said that Shiv Sena is our family, which some people tried to destroy.

 

Rahul Patil praised Uddhav and said, ‘You left the post of Chief Minister with pride. Shiv Sena is the shield of the brilliant thoughts of late Balasaheb Thackeray. The loyalty of Shiv Sena is our everything. We must take care of ourselves in this fight. MLA Rahul Patil said that Shiv Sena workers of Parbhani district are standing firmly with him.

 

 

बढ़ती जनसंख्या का दुनिया पर गहरा संकट badhrtee janasankhya ka duniya par gahara sankat

 

Related Articles

Back to top button