.

राजधानी एक्सप्रेस के फर्स्ट ऐसी कोच में पत्नी की टिकट पर कुत्ते को सफर करा रहा था रेल यात्री, दोनों को उतारा, लगाया जुर्माना | ऑनलाइन बुलेटिन

लखनऊ | [उत्तर प्रदेश बुलेटिन] | राजधानी एक्सप्रेस के फर्स्ट ऐसी कोच में शनिवार को बिना बुकिंग कुत्ता ले जाने पर हंगामा हो गया। एक रेल यात्री अपनी धर्मपत्नी की टिकट पर कुत्ते को ले जा रहा था। सहयात्रियों की आपत्ति के बाद ट्रेन सुपरिटेंडेंट ने मामले में हस्तक्षेप किया तो सारी हकीकत सामने आई। रेल यात्री को कुत्ते और सामान के साथ मुरादाबाद में उतार लिया गया। साथ ही उससे कुत्ते का 525 रुपये लगेज के रूप में वूसला गया। हालांकि इसी कोच में अन्य यात्री भी अपने कुत्तों के साथ सफर कर रहे थे मगर उनकी बुकिंग थी।

 

नई दिल्ली से डिब्रूगढ़ जा रही राजधानी एक्सप्रेस (20505) में दार्जलिंग के गनेश तमंग और उनकी पत्नी अनु सिंह का फर्स्ट एसी कोच एच-वन के एफ केबिन में न्यूजलपाईगुड़ी तक रिजर्वेशन था। किसी वजह से यात्री की पत्नी साथ नहीं आई तो वह अपने अपने पालतू कुत्ते को साथ ले आया और पत्नी वाली सीट पर ढेर सारे सामान के संग उसको बैठा दिया। ट्रेन चली तो केबिन में अन्य यात्रियों ने कुत्ता ले जाने पर एतराज जताया।

 

मामला बढ़ा तो ट्रेन सुपरिटेंडेंट ऋतुराज सिंह ने यात्री से पूछताछ की तो सारा मामला खुला कि कुत्ता उसकी पत्नी के टिकट पर सफर कर रहा है। इस पर रेलवे कंट्रेाल को मैसेज जारी किया गया। मुरादाबाद में स्टेशन अधीक्षक महेन्द्र सिंह, सीआईटी विजयंत शर्मा, सहदेव व संजीव और जीआरपी-आरपीएफ स्टाफ ने यात्री को उसके कुत्ते के साथ उतार लिया।

 

यात्री दिल्ली के नामी होटल में बतौर वेटर तैनात है। सीआईटी विजयंत शर्मा का कहना है कि ट्रेन में कुत्ते को बिना बुक के ले जाना नियम विरुद्ध है। यात्री से नई दिल्ली से मुरादाबाद तक का कुत्ते के लगेज का 525 रुपये किराया वसूला गया है।

घिनौनी वारदात, किशोरी का गैंगरेप के बाद आरोपियों ने निर्वस्त्र दौड़ाया, Video वायरल | ऑनलाइन बुलेटिन
READ

 

ट्रेन में कुत्ते ले जाने का यह नियम

 

ट्रेन के फर्स्ट एसी कोच के केबिन में लगेज की तरह कुत्ते को बुक करके ले जाया जा सकता है। प्रावधान है कि एक पीएनआर पर केबिन में रिजर्वेशन हो। ट्रेन में ड्यूटी पर सवार सुपरिटेंडेंट ऋतुराज के अनुसार यात्री का फर्स्ट एसी क्लास के केबिन में रिजर्वेशन था पर कुत्ते को बिना बुक कराए ले जाना नियम विरुद्ध है। राजधानी में किराए के मुकाबले कुत्ते का लगेज काफी कम है। इसी ट्रेन में नई दिल्ली से न्यूजलपाई गुड़ी तक कुत्ते की बुकिंग 1003 रुपये है जबकि यात्री किराया 65 सौ रुपये है।

 

ये भी पढ़ें:

अखिलेश यादव का 1857 वाला कार्ड उड़ा सकता है मायावती की नीदें, दलितों को साधने के लिए सपा ने बनाया प्लान | ऑनलाइन बुलेटिन

 

Related Articles

Back to top button