.

नर बलि : भगवान ने दिया था आदेश, 6 साल के मासूम बच्चे का गला काटने वाला बोला, दोनों आरोपी बिहार के | ऑनलाइन बुलेटिन

नई दिल्ली | [नेशनल बुलेटिन] | देश जहां नवरात्र की खुशियां मना रहा है तो वहीं एक घर का चिराग अंधविश्वास के चलते बुझ गया। दिल्ली के लोधी कॉलोनी इलाके की झुग्गियों में 2 लोगों ने ‘नर बलि’ के लिए अपने एक परिचित के 6 साल के मासूम बच्चे की चाकू से गला रेतकर रात करीब 1 बजे हत्या कर दी। आरोपियों ने बच्चे को मारकर बेड के नीचे छिपा दिया था। पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार करने के बाद बच्चे के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजकर जांच शुरू कर दी है।

 

लोधी कॉलोनी थाना पुलिस को रात करीब 1 बजे इस जघन्य हत्याकांड की सूचना मिली थी। पुलिस ने हत्या के आरोपी दोनों लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने कहा कि आरोपी विजय कुमार और अमर कुमार बिहार के मूल निवासी हैं।

 

पुलिस की पूछताछ में आरोपियों ने हत्या करने की बात कबूल कर ली है। आरोपियों ने बताया कि उनका मानना था कि भगवान ऐसा चाहते हैं कि वे बच्चे का गला काट दें, इसलिए उन्होंने उस बच्चे का गला काट दिया।

 

मृतक बच्चे की पहचान धर्मेंद्र के रूप में हुई है। धर्मेंद्र 3 भाई-बहनों में बीच का था। उसका एक बड़ा है और 2 साल की बहन है। मृतक 6 साल का था। मृतक बच्चे के पिता अशोक ने बताया कि आरोपियों ने बच्चे को मारकर बेड के नीचे छिपा दिया था। उसके बाद खुद को जांच से बचाने के लिए कपड़े बदल लिए थे और खून से सने पुराने कपड़े छिपा दिए थे।

 

आरोपियों ने हत्या करने से पहले प्रसाद के रूप में गांजा का सेवन किया था। आरोपी विजय ने बताया कि भगवान शिव के प्रसाद यानी गांजा का सेवन करने के बाद वह उस स्थान पर गया था जहां कुछ महिलाएं भजन गा रही थी, उन्होंने भगवान शिव की पूजा करने के लिए अगरबत्ती मांगी, लेकिन किसी ने उन्हें अगरबत्ती नहीं दी। इसके बाद वह वापस अपनी झुग्गी में आ गए और उन्हें भ्रम हुआ कि भगवान शिव एक बच्चे की बलि मांग रहे हैं। इसके बाद जब बच्चा धर्मेंद्र अपनी झुग्गी के पास जा रहा था तो वह बच्चे को अपनी झुग्गी के अंदर ले गया और आरोपी व्यक्तियों ने बच्चे का गला काटकर हत्या कर दी और सिर पर भी चोट पहुंचाई।

अक्टूबर से महंगाई का नया डोज! सरकार ने गैस के दाम में 40 प्रतिशत की रिकॉर्ड बढ़ोतरी, ऐसे पड़ेगा असर | ऑनलाइन बुलेटिन
READ

 

पुलिस ने अपराध में इस्तेमाल हुए रसोई के चाकू के साथ आरोपियों द्वारा अपराध के समय पहने हुए कपड़े भी बरामद कर लिए हैं। पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। इसके साथ ही पुलिस को यह भी शक है कि आरोपी तंत्र-मंत्र के चक्कर में फंसे थे। पुलिस उनका पुराना इतिहास खंगालने में जुटी है।

 

ये भी पढ़ें:

 

रेप के दोषी को 142 साल की कैद: 5 लाख जुर्माना भी; 10 साल की बच्ची का 2 साल किया यौन शोषण | ऑनलाइन बुलेटिन

 

Related Articles

Back to top button