.

वक्फ बोर्ड के चेयरमैन व AAP विधायक अमानतुल्लाह खान के घर समेत 5 ठिकानों पर रेड, कैश, हथियार बरामद | ऑनलाइन बुलेटिन

नई दिल्ली | [नेशनल बुलेटिन] | दिल्ली वक्फ बोर्ड के चेयरमैन और आम आदमी पार्टी के विधायक अमानतुल्लाह खान से पूछताछ के बीच एसीबी (एंटी करप्शन ब्यूरो) राजधानी दिल्ली में छापेमारी कर रही है। दिल्ली वक्फ बोर्ड के चेयरमैन और आम आदमी पार्टी के विधायक अमानतुल्लाह खान के घर समेत 5 ठिकानों पर छापेमारी की गई है।

 

सूत्रों के मुताबिक, छापे के दौरान एक ठिकाने से लाखों रुपए कैश और गैर लाइसेंसी हथियार बरामद किया गया है।

 

दिल्ली वक्फ बोर्ड से जुड़े 2 साल पुराने केस में दिल्ली वक्फ बोर्ड के चेयरमैन और आम आदमी पार्टी के विधायक को शुक्रवार को जांच के लिए बुलाया गया था। उन्हें दोपहर 12 बजे पूछताछ के लिए तलब किया गया था। इस दौरान 5 ठिकानों पर छापेमारी की गई।

 

बताया जा रहा है कि अमानतुल्लाह खान के बिजनेस पार्टनर हामिद अली के घर से विदेशी पिस्टल मिली है, जिसका लाइसेंस नहीं है। 12 लाख रुपए कैश मिलने की बात भी सामने आई है। जामिया, ओखला और गफूर नगर इलाकों में छापेमारी की गई है।

 

ओखला के विधायक के खिलाफ वर्ष 2020 में दिल्ली वक्फ बोर्ड में अस्थाई तरीके लोगों को भर्ती करने में अनियमिताएं बरती गई थी जिसे लेकर उनके खिलाफ मामला दर्ज किया गया था। खान ने गुरुवार को ट्विटर पर नोटिस की एक कॉपी साझा करते हुए लिखा, ”खान ने लिखा, ”वक्फ बोर्ड का नया दफ्तर बनवाया है, हमें एसबी ने बुलाया है…चलो फिर बुलावा आया है!” अमानतुल्लाह खान ने ट्वीट के साथ वक्फ बोर्ड कार्यालय की तस्वीरें भी शेयर की हैं।”

 

दिल्ली वक्फ बोर्ड के चेयरमैन और आम आदमी पार्टी के विधायक के खिलाफ एसीबी की रेड ऐसे समय पर हुई है जब दिल्ली सरकार के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया कथित शराब घोटाले में सीबीआई जांच का सामना कर रहे हैं। केंद्रीय जांच एजेंसी उनके घर और बैंक लॉकर की तलाशी ले चुकी है।

 

आप सरकार के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन तीन महीने से अधिक समय से जेल में बंद हैं। उन पर मनी लॉन्ड्रिंग ऐक्ट में मुकदमा दर्ज है। वहीं, ‘आप’ का कहना है कि गुजरात विधानसभा चुनाव से पहले उसे बदनाम करने और अरविंद केजरीवाल की बढ़ती लोकप्रियता की वजह से फर्जी मामलों में फंसाने की कोशिश की जा रही है।

 

 

छत्तीसगढ़ में क्यों हो रहा सामाजिक- आर्थिक बहिष्कार? हाईकोर्ट ने सरकार से मांगा जवाब | ऑनलाइन बुलेटिन

 

Related Articles

Back to top button