.

श्रद्धा की 2 साल पहले मुंबई पुलिस को लिखी चिट्ठी आई सामने-कहा था, आफताब मार डालेगा, एक्शन नहीं लिया तो वो मेरे टुकड़े-टुकड़े कर देगा, यहां पढ़िए श्रद्धा का पूरा लेटर… | ऑनलाइन बुलेटिन डॉट इन

नई दिल्ली | [नेशनल बुलेटिन] | श्रद्धा मर्डर केस में बुधवार को सबसे चौंकाने वाली जानकारी सामने आई है। मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा है कि श्रद्धा ने 23 नवंबर 2020 को मुंबई की पालघर पुलिस को एक पत्र लिखा था। श्रद्धा ने आफताब अमीन पूनावाला के हिंसक बर्ताव के बारे में 2 साल पहले ही मुंबई पुलिस से शिकायत की थी।उसने पुलिस को बताया था कि उसका लिव-इन पार्टनर आफताब अमीन पूनावाला उसे मारता-पीटता है। अगर वक्त पर एक्शन नहीं लिया, तो आफताब अमीन पूनावाला उसे टुकड़े-टुकड़े कर डालेगा।

 

श्रद्धा ने यह शिकायत तुलिंज पुलिस थाने में दी थी। जो आज से ठीक 2 साल पहले यानी 23 नवंबर 2020 को लिखी थी।

 

दावा यह भी किया जा रहा है कि श्रद्धा ने आफताब अमीन पूनावाला के बर्ताव के बारे में उसकी फैमिली को भी बताया था, लेकिन उन्होंने कुछ नहीं किया।

 

अब पढ़िए मीडिया में सामने आया श्रद्धा का पूरा लेटर…

 

“मेरा नाम श्रद्धा वालकर है और मैं 25 साल की हूं। मैं 26 साल के आफताब अमीन पूनावाला की रिपोर्ट करना चाहती हूं। वह विजय नगर कॉम्प्लेक्स के रीगल अपार्टमेंट में रहता है। वह मुझसे गालीगलौज और मारपीट करता है। आज उसने मेरा गला दबाकर जान से मारने की कोशिश की। उसने मुझे धमकाया और ब्लैकमेल किया कि वह मुझे जान से मारकर टुकड़े-टुकड़े कर देगा और फेंक देगा। वो मेरे साथ 6 महीने से मारपीट कर रहा है, लेकिन मैं पुलिस में उसकी शिकायत करने की हिम्मत नहीं जुटा पाई, क्योंकि वो मुझे जान से मारने की धमकी दे रहा था।

 

आफताब के परिवार वाले भी जानते हैं कि वो मुझे मारता-पीटता है और जान से मारने की कोशिश भी कर चुका है। उसकी फैमिली जानती है कि हम दोनों साथ रहते हैं और वीकेंड पर वो लोग मिलने भी आते हैं। मैं आज तक उसके साथ रहती हूं, क्योंकि हमारी जल्द ही शादी होने वाली है और उसके परिवार की भी रजामंदी है। अब मैं उसके साथ नहीं रहना चाहती हूं।”

 

राजनीतिक पंडित प्रशांत किशोर ने बताया गांधी फैमिली की त्रिमूर्ति का रोल, अध्यक्ष पद पर बैठेगा कोई और …. | ऑनलाइन बुलेटिन
READ

 

 

 

श्रद्धा मर्डर केस में लेटेस्ट अपडेट

 

  • – दिल्ली पुलिस ने बुधवार को मुंबई जाकर श्रद्धा के परिवारवालों के बयान दर्ज किए हैं। श्रद्धा और आफताब के रिश्तों के बारे में सवाल पूछे हैं।

 

  • – रोहणी फोरेंसिक लैब में मंगलवार को आफताब का पॉलीग्राफी टेस्ट शुरू हो गया है। यह प्रोसेस करीब एक हफ्ते तक चलेगी।

 

  • – दिल्ली पुलिस ने महाराष्ट्र में पालघर जिले की वसई क्राइम ब्रांच में आफताब के तीन दोस्तों के बयान दर्ज किए। दिल्ली पुलिस अब तक 17 लोगों के बयान दर्ज कर चुकी है।

 

श्रद्धा ने यह शिकायत तुलिंज पुलिस थाने में दी थी। जो आज से ठीक 2 साल पहले यानी 23 नवंबर 2020 को लिखी थी।

 

श्रद्धा मर्डर केस में बुधवार को सबसे चौंकाने वाली जानकारी सामने आई है। श्रद्धा ने आफताब के हिंसक बर्ताव के बारे में 2 साल पहले ही मुंबई पुलिस से शिकायत की थी। मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा है कि श्रद्धा ने 23 नवंबर 2020 को मुंबई की पालघर पुलिस को एक पत्र लिखा था। उसने पुलिस को बताया था कि उसका लिव-इन पार्टनर आफताब उसे मारता-पीटता है। अगर वक्त पर एक्शन नहीं लिया, तो आफताब उसे टुकड़े-टुकड़े कर डालेगा।

 

दावा यह भी किया जा रहा है कि श्रद्धा ने आफताब के बर्ताव के बारे में उसकी फैमिली को भी बताया था, लेकिन उन्होंने कुछ नहीं किया। पुलिस के मुताबिक, आफताब ने 18 मई को श्रद्धा का मर्डर किया था।

 

एक और सबूत

 

दिल्ली पुलिस को आफताब के बाथरूम की टाइल्स से अहम सबूत मिले हैं। फोरेंसिक एक्सपर्ट ने ये सबूत हासिल किए हैं। सबूत क्या हैं, ये अभी नहीं बताया गया है। पहले आफताब के बाथरूम की टाइल्स पर भी खून के निशान मिले थे। एक्सपर्ट की रिपोर्ट आने में 2 हफ्ते का वक्त लगेगा।

अब दिन-रात फहराया जा सकता है राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा ab din-raat phaharaaya ja sakata hai raashtreey dhvaj tiranga
READ

 

एक और खुलासा

 

पुलिस सूत्रों के मुताबिक श्रद्धा और आफताब का एक कॉमन फ्रेंड भी सामने आया है, जो ड्रग्स बेचा करता था। यह भी पता चला कि श्रद्धा और आफताब के बीच कई बार ब्रेकअप हुआ था, हालांकि दोनों बाद में सुलह कर साथ रहने लगते थे।

 

दावा- आफताब ने कोर्ट में जुर्म कबूला, वकील का इनकार

 

लीगल न्यूज वेबसाइट बार एंड बेंच और कुछ दूसरी मीडिया रिपोर्ट्स में यह दावा किया गया है कि आफताब ने कोर्ट में मर्डर की बात कबूली है। जज से कहा कि उसने उकसावे और गुस्से में श्रद्धा का मर्डर किया। यह भी कहा कि पुलिस को सब कुछ बता चुका हूं। अब घटना याद करने में मुश्किल आ रही है।

 

ये रिपोर्ट्स सामने आने के करीब एक घंटे बाद आफताब के वकील अविनाश कुमार ने मर्डर के कुबूलनामे को अफवाह करार दिया। वे कैमरे पर बोले- आफताब ने ऐसा कोई कुबूलनामा नहीं दिया है। ऐसा कोई स्टेटमेंट रिकॉर्ड में नहीं लिया गया है। हां, वह यह जरूर बताने की कोशिश कर रहा था कि श्रद्धा उसे उकसाती थी और दोनों के बीच झगड़े होते थे।

 

ये भी पढ़ें:

शिंटो संस्कृति – हिंदू संस्कृति – एक धार्मिक पवित्र मार्ग | ऑनलाइन बुलेटिन डॉट इन

 

Related Articles

Back to top button