.

देखें वीडियो; राहुल गांधी उतरे गुजरात चुनाव में, बताया ‘भारत का पहला मालिक’ कौन ? मोरबी हादसे पर घेरा भाजपा को | ऑनलाइन बुलेटिन

सूरत | [ गुजरात बुलेटिन ] | कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने सोमवार को गुजरात में अपनी पहली चुनावी रैली के दौरान भाजपा पर जमकर निशाना साधा। चुनावी गुजरात में अपनी पहली चुनावी रैली में, राहुल गांधी ने सूरत जिले के महुवा में आदिवासियों की एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि वे देश के पहले मालिक हैं और दावा किया कि भाजपा उनके अधिकारों को छीनने के लिए काम कर रही है। 

 

राहुल गांधी ने कहा, “मैं कहना चाहता हूं कि इस देश के पहले मालिक आप हो।” उन्होंने आगे कहा, “वे आपको ‘वनवासी’ कहते हैं। वे यह नहीं कहते कि आप भारत के पहले मालिक हैं, बल्कि वे कहते हैं कि आप जंगल में रहते हैं। क्या आपको अंतर दिखाई देता है? इसका मतलब है कि वे नहीं चाहते कि आप शहरों में रहें, वे नहीं चाहते कि आपके बच्चे इंजीनियर, डॉक्टर बनें, विमान उड़ाना सीखें, अंग्रेजी बोलें।”

 

राहुल गांधी ने सोमवार को कहा कि भारत जोड़ो यात्रा के दौरान किसानों, युवाओं और आदिवासियों से मिलने और उनकी समस्याएं सुनने के बाद उन्हें उनका दर्द महसूस हुआ।

 

कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘वे चाहते हैं कि आप जंगल में रहें, लेकिन वहां रुकें नहीं। उसके बाद वे आपसे जंगल छीनने लगते हैं। अगर ऐसा ही चलता रहा तो अगले 5-10 वर्षों में सारे जंगल दो-तीन उद्योगपतियों के हाथ में हो जाएंगे, और आपके पास रहने के लिए कोई जगह नहीं होगी, शिक्षा, स्वास्थ्य और नौकरी नहीं मिलेगी।’’

 

गांधी ने कहा कि देश की एकता के लिए आयोजित ‘भारत जोड़ो’ यात्रा के दौरान उन्होंने किसानों, युवाओं और आदिवासी समुदाय के लोगों की समस्याएं सुनकर उनके दर्द को महसूस किया। गुजरात की 182 सदस्यीय विधानसभा के लिए दो चरणों में एक और पांच दिसंबर को चुनाव होंगे और मतगणना आठ दिसंबर को होगी।

सिर पर केतली रखकर चाय बनाते देखा है, हारूल नृत्य में ऐसा होता है, आदिवासी नृत्य महोत्सव में उत्तराखंड के लोककलाकारों ने दी अद्भुत प्रस्तुति | ऑनलाइन बुलेटिन
READ

 

 

 

 

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने सोमवार को कहा कि गुजरात के मोरबी में पिछले महीने झूलता पुल गिरने की घटना के ‘‘असली गुनहगारों’’ के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई क्योंकि उनके सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के साथ ‘‘अच्छे संबंध’’ हैं। पुल गिरने की घटना में 135 लोगों की मौत हो गई थी।

 

राजकोट में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि (दुर्घटना स्थल पर तैनात) चौकीदार को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया, लेकिन असली गुनहगारों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई। कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘जब पत्रकारों ने मुझसे पूछा कि मैं मोरबी त्रासदी के बारे में क्या सोचता हूं…मैंने कहा कि करीब 150 लोग मारे गए और यह कोई राजनीतिक मुद्दा नहीं है, इसलिए मैं इस पर कुछ नहीं कहूंगा। लेकिन आज सवाल उठता है कि क्यों कोई कार्रवाई नहीं की गई, जो इसके (त्रासदी) लिए जिम्मेदार हैं, उनके खिलाफ कोई प्राथमिकी क्यों दर्ज नहीं की गई?’’

 

गांधी ने आरोप लगाया, ‘‘क्या उन्हें कुछ नहीं होगा क्योंकि उनके भाजपा के साथ अच्छे संबंध हैं? उन्होंने चौकीदारों को गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे डाल दिया, लेकिन असली गुनहगारों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई।’’

 

ये भी पढ़ें:

छत्तीसगढ़ में होगा सबसे ज्यादा 81 प्रतिशत आरक्षण! आबादी के अनुपात में रिजर्वेशन की तैयारी में सरकार | ऑनलाइन बुलेटिन

 

महिला एवं बाल विकास अधिकारी 20 हजार रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार l ऑनलाइन बुलेटिन
READ

 

Related Articles

Back to top button