.

गुरु घासीदास के संदेश मनखे-मनखे एक समान को केंद्र मानकर कर रहे कार्य, समाज के लिए एक करोड़ देने की घोषणा | ऑनलाइन बुलेटिन डॉट इन

भिलाई | [धर्मेंद्र गायकवाड़] | CG News:मुख्यमंत्री ने भिलाई में बाबा गुरू घासीदास जी की जयंती पर आयोजित कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि हमारी सरकार किसानों मजदूरों की सरकार है और सभी वर्गों के हितों को ध्यान में रखते हुए गुरु घासीदास जी जैसे महापुरुषों के संदेश का पालन करते हुए सब के विकास के लिए कार्य कर रही है।

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि गुरु घासीदास जी का संदेश था समाज में समता स्थापित करना, उनके इस संदेश को हमने केंद्र में रखा है। किसी के साथ भेदभाव ना हो और सब का समुचित विकास हो, इसी संवैधानिक भावना और महापुरुषों के दिखाए रास्ते के मुताबिक हम कार्य कर रहे हैं। 

 

बाबा गुरु घासीदास जी ने हमें मनखे-मनखे एक समान का संदेश दिया है। यह संदेश सभी को एक समान समझना और इसके मुताबिक सत्य निष्ठा से कार्य करने का संदेश है। हम बाबा के संदेशों का पालन कर रहे हैं और छत्तीसगढ़ के विकास के लिए कार्य कर रहे हैं।

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि यही संदेश बाबा साहब का भी है, जनगणना के मुताबिक सभी वर्गों को आरक्षण मिले, यह व्यवस्था बाबा साहब ने संविधान में की है। इसके मुताबिक हमने जिलों में तृतीय वर्ग एवं चतुर्थ वर्ग की नियुक्तियों में आरक्षण की व्यवस्था जनगणना के आधार पर की है।

 

इस मौके पर अपने संबोधन में गृह मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू ने कहा कि बाबा साहब का मनखे-मनखे एक समान का संदेश हमारी सामाजिक समरसता के बारे में गहराई से बताता है। हमारी छत्तीसगढ़ सरकार की नीतियां इसी दिशा में कार्य करती है।

...नहीं तो 31 मार्च के बाद नहीं कर पाएंगे ऑनलाइन लेनदेन | Online Payment
READ

 

अपने संबोधन में नगरी प्रशासन मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया ने कहा कि बाबा गुरु घासीदास ने सत्य के पालन का संदेश दिया। उनका यह संदेश सबके लिए मार्गदर्शक है।

 

इस मौके पर मुख्यमंत्री ने समाज के विभिन्न मांगों के लिए एक करोड़ रुपए देने की घोषणा भी की। इस मौके पर विधायक श्री देवेंद्र यादव, महापौर श्री नीरज पॉल, जिला सहकारी बैंक के अध्यक्ष श्री राजेन्द्र साहू एवं समाज के पदाधिकारीगण मौजूद रहे।

 

ये भी पढ़ें:

संत गुरु घासीदास ने हमें जीवन जीने की कला सिखाई, यह उनकी सबसे बड़ी देन, जो हमें राह दिखा रही है | ऑनलाइन बुलेटिन डॉट इन

 

Related Articles

Back to top button