.

पारस पत्थर खोजने पहुंचे लोगों ने खोद डाला बैगा का घर, कुछ नहीं मिला तो रुपए और जेवर लेकर भागे paaras patthar khojane pahunche logon ne khod daala baiga ka ghar, kuchh nahin mila to rupe aur jevar lekar bhaage

जांजगीर | [छत्तीसगढ़ बुलेटिन] | जिले में झाड़ फूंक का काम करने वाला एक बुजुर्ग खजाना खोजने की बात कहकर घर से निकला तो लौटा ही नहीं है। छत्तीसगढ़ के जांजगीर-चांपा जिले में खजाना खोजने निकले बुजुर्ग बैगा का पिछले 2 दिनों से कुछ पता नहीं चल रहा है। इधर, उसके जाने के बाद कुछ लोग उसके घर पहुंच गए और पारस पत्थर (ऐसा पत्थर जो किसी लोहा को छू दे तो सोना बन जाए) की तलाश करने लगे। उसकी तलाश में लोगों ने बुजुर्ग का घर ही पूरा खोद डाला। इसके बावजूद उन्हें कुछ नहीं मिला तो घर में रखे पैसे लेकर ही वे लोग भाग निकले। मामला कोतवाली थाना क्षेत्र का है।

 

मुनुंद गांव निवासी बाबू लाल यादव (70) गांव में झाड़ फूंक का काम करता है। वो ये भी दावा करता है कि वह खजाना खोजकर निकाल देगा। बताया गया कि 8 जुलाई को कुछ लोग उसके घर आए थे। उससे कहा था कि चलो खजाना निकालने जाना है। इसके बाद सभी लोग खजाना की तलाश करने निकल गए थे। लेकिन जान के दो दिन बाद भी उसका कुछ पता नहीं चला है। जिसके बाद अब उसकी पत्नी रामवती यादव ने मामले में शिकायत की है। तब ये पूरा मामला पता चला है।

 

इस मामले में ये भी पता चला है कि कुछ लोगों के साथ पारस पत्थर को लेकर भी बाबू लाल का विवाद चल रहा था। पारस पत्थर के बारे में ऐसा कहा जाता है कि यदि ये लोहे को भी छू दे तो वह सोना बन जाता है। बाबू लाल की पत्नी ने बताया है कि जिस दिन वह घर से गया था।

छत्तीसगढ़ पहुंचा 'लाउडस्पीकर' विवाद, हिन्दू संगठनों ने कहा- मस्जिदों से हटाया जाए, कोर्ट के आदेश का हो पालन chhatteesagadh pahuncha laudaspeekar vivaad, hindoo sangathanon ne kaha- masjidon se hataaya jae, kort ke aadesh ka ho paalan
READ

 

उसके अगले दिन कुछ लोग उसके घर आए और बोले हमें पारस पत्थर चाहिए। फिर घर के अलग-अलग कमरों में वे लोग घुस गए और जमीन खोदने लगे। उन्होंने रामवती का मुंह बांध दिया था। काफी जगह से घर में खुदाई की गई। फिर भी उन्हें घर में कुछ नहीं मिला। जिसके बाद उन्होंने घर में रखे 23 हजार कैश और जेवर ही उठा ले गए।

 

आशंका है कि जो लोग घर में घुसे थे, वे वही लोग हैं जिनका बाबू लाल से विवाद चल रहा था। महिला ने बताया है कि उसका बेटा कहीं और रहता है। जिस वक्त वो लोग आए। घर पर उसके अलावा कोई और नहीं था। पुलिस ने दोनों ही मामले में शिकायत दर्ज की है। फिलहाल मामले में जांच जारी है।

 

 

 

People who came to find Paras stone dug Baiga’s house, if nothing was found, then ran away with money and jewelry

 

 

Janjgir | [Chhattisgarh Bulletin] | An old man working as a scavenger in the district, after leaving the house saying to find the treasure, has not returned. The elderly Baiga, who went out to search for treasure in Janjgir-Champa district of Chhattisgarh, is not known for the last two days. Here, after his departure, some people reached his house and started looking for Paras stone (a stone that turns into gold if it touches any iron). In search of him, people dug the old man’s house completely. Despite this, they did not get anything, so they ran away with the money kept in the house. The matter is of Kotwali police station area.

 

लड़के का कपड़ा फाड़ लड़कियों ने बीच सड़क पर पीटा, दी गंदी-गंदी गालियां; वीडियो वायरल | ऑनलाइन बुलेटिन
READ

Babu Lal Yadav (70), a resident of Munund village, works as a sweeper in the village. He also claims that he will find the treasure and remove it. It was told that on July 8, some people had come to his house. Told him that let’s go to extract the treasure. After this all the people went out in search of the treasure. But even after two days of his death, nothing has been known of him. After which now his wife Ramvati Yadav has complained in the matter. Then the whole matter came to light.

 

In this case, it has also been learned that Babu Lal was having a dispute with some people regarding Paras stone. It is said about Paras stone that even if it touches iron, it turns into gold. Babu Lal’s wife has told that the day he left home.

 

The next day some people came to his house and said that we need Paras stone. Then they entered in different rooms of the house and started digging the ground. He had tied the mouth of Ramvati. Excavation was done in the house from many places. Still they did not find anything in the house. After which he took away only 23 thousand cash and jewelry kept in the house.

 

It is feared that those who entered the house are the same people who were having a dispute with Babu Lal. The woman has told that her son lives somewhere else. When those people came There was no one else at home except him. Police have registered complaints in both the cases. At present the investigation in the matter is going on.

आदिवासी नृत्य महोत्सव में तीसरे दिन क्रमश: आंध्रप्रदेश के लंबाड़ी नृत्य की मनमोहक प्रस्तुति ने मोहा मन, जानें नृत्य की विशेषता | ऑनलाइन बुलेटिन डॉट इन
READ

 

 

सजा स्थगन याचिका खारिज; जेल में ही रहेगा आसाराम, इतने बार अर्जी कर चुका है दायर saja sthagan yaachika khaarij; jel mein hee rahega aasaaraam, itane baar arjee kar chuka hai daayar

 

 

 

Related Articles

Back to top button