.

आफताब अमीन पूनावाला ने श्रद्धा वाकर के किए 35 टुकड़े, हर रात जंगल में फेंकता था 2 अंग, लिव इन में खौफनाक कत्ल; पुलिस बटोर रही शव | ऑनलाइन बुलेटिन

नई दिल्ली | [नेशनल बुलेटिन] | शादी का झांसा देकर एक शख्स कॉल सेंटर में काम करने वाली महिला सहकर्मी श्रद्धा वाकर को मुम्बई से दिल्ली लेकर आ गया। जब युवती ने शादी का दबाव बनाया तो युवक ने हत्या कर शव के कई टुकड़े कर दिए। फिर उन्हें दिल्ली के अलग-अलग ठिकानों में फेंकता रहा। हत्या की घटना के करीब 5 महीने बाद वारदात का खुलासा होने पर पुलिस ने आरोपी आफताब अमीन पूनावाला को गिरफ्तार कर लिया है।

 

पुलिस ने बताया कि 59 वर्षीय विकास मदान वाकर ने 8 नम्वबर को अपनी बेटी के अपहरण की एफआईआर दिल्ली के महरौली थाने में दर्ज कराई थी। पीड़ित ने बताया कि वह परिवार सहित महाराष्ट्र के पालघर में रहते हैं। पीड़ित की 26 वर्षीय बेटी श्रद्धा वाकर मुम्बई के मलाड इलाके में स्थित बहुराष्ट्रीय कम्पनी के कॉल सेंटर में नौकरी करती थी। यहीं पर श्रद्धा वाकर की मुलाकात आफताब अमीन पूनावाला से हुई। जल्द ही दोनों एक दूसरे को पसंद करने लगे और वे लिव-इन रिलेशन में रहने लगे। जब परिवार को इस रिश्ते के बारे में जानकारी हुई तो उन्होंने विरोध करना शुरू कर दिया।

 

फेसबुक की फोटो से मिली युवती की लोकेशन

 

श्रद्धा वाकर के पिता विकास मदान वाकर ने बताया कि विरोध करने पर बेटी और आफताब अमीन पूनावाला ने अचानक मुम्बई को छोड़ दिया था। बाद में मालूम हुआ कि वे महरौली के छतरपुर इलाके में रहते हैं। उन्होंने बताया कि किसी न किसी माध्यम से बेटी की जानकारी मिलती रहती थी। उन्हें फेसबुक पर अपलोड की गई फोटो से यह भी पता लगा कि श्रद्धा हिमाचल प्रदेश घूमने भी गई है, लेकिन उसके बाद से कोई सूचना नहीं मिली।

हिजाब से आजादी के लिए सड़कों पर ईरान की महिलाएं, खुले बालों में बना रहीं वीडियो hijaab se aajaadee ke lie sadakon par eeraan kee mahilaen, khule baalon mein bana raheen veediyo
READ

 

फिर फोन नंबर पर भी सम्पर्क करने की कोशिश की गई, लेकिन वह भी नहीं मिला। फिर अनहोनी की आशंका होने पर वह 8 नवंबर को सीधे छतरपुर स्थित फ्लैट में गए जहां बेटी किराये पर रहती थी। वहां पर ताला बंद होने के बाद विकास ने महरौली थाने में पहुंचकर पुलिस को अपहरण की सूचना दी और एफआईआर दर्ज कराई।

 

विवाह को लेकर अक्सर दोनों में होता था विवाद

 

पुलिस ने टेक्निकल सर्विलांस से आफताब को शनिवार को ढूंढ निकाला। आफताब अमीन पूनावाला ने बताया कि शादी करने को लेकर अक्सर श्रद्धा वाकर उस पर दबाव बनाती थी। इसी पर दोनों में विवाद होता रहता था, इसलिए 18 मई को झगड़ा हुआ तो उसने श्रद्धा वाकर की गला घोंटकर हत्या कर दी।

 

फिर शव को चापड़ से कई टुकड़ों में बांटा और अलग-अलग भागों में फेंक दिए। इसके बाद पुलिस ने आफताब अमीन पूनावाला के बयान पर हत्या की धारा में मुकदमा दर्ज कर लिया है। फिलहाल पुलिस की टीम आरोपी के बयान के आधार पर शव के टुकड़े ढूंढने की कोशिश कर रही है।

 

ये भी पढ़ें:

सर्वे ने चौंकाया; गुजरात में ओवैसी से ज्यादा भाजपा को चाहते हैं मुसलमान, आम आदमी पार्टी-कांग्रेस का क्या हाल, जानें | ऑनलाइन बुलेटिन

 

Related Articles

Back to top button