.

श्रद्धा को बोटी-बोटी कर मारने वाला आफताब के परिवार ने छोड़ा घर, शिफ्ट कराने मुंबई पहुंचा था ‘कसाई’; क्या बोले पड़ोसी | ऑनलाइन बुलेटिन डॉट इन

मुंबई| [महाराष्ट्र बुलेटिन] | shraddha murder case: दिल्ली में श्रद्धा का कत्ल करने के बाद आफताब अमीन पूनावाला मुंबई भी पहुंचा था और करीब 15 दिन पहले ही उसने परिवार वालों के साथ मिलकर सामान नए घर में शिफ्ट किया। अब आफताब अमीन पूनावाला का परिवार इस नए घर में ही रहता है। इससे पहले वह मुंबई के पास ही कहीं रहते थे। पड़ोसियों ने आफताब अमीन पूनावाला को घर खाली किए जाने के दौरान देखने की बात कही है।

 

shraddha murder case : श्रद्धा को बोटी-बोटी कर मारने वाले आफताब अमीन पूनावाला को लेकर एक और अहम खुलासा हुआ है। एक तरफ उसने 18 मई को ही श्रद्धा की हत्या कर शव को फ्रिज में रख दिया था और रोज उसके टुकड़े जंगल में फेंकता था तो वहीं दूसरी तरफ वह सामान्य जिंदगी जीने का ढोंग कर रहा था।

 

श्रद्धा ने शादी की इच्छा जाहिर की थी, जिस पर आफताब अमीन पूनावाला उससे नाराज हो गया था और उसका कत्ल कर 35 टुकड़े कर डाले। 18 दिनों तक वह शव को काट-काटकर उसके टुकड़े जंगल में फेंकता रहा। दिल्ली पुलिस ने आफताब अमीन पूनावाला को शनिवार को ही अरेस्ट किया है और दावा किया है कि आफताब अमीन पूनावाला ने पूरा अपराध स्वीकार भी कर लिया है।

 

आफताब अमीन पूनावाला के परिवार के पड़ोस में रहने वाले लोगों ने कहा कि वह जब घर आया था तो सामान्य ही लग रहा था। उसके बर्ताव में कुछ भी नहीं था। इन लोगों ने कहा कि हम श्रद्धा को भी जानते थे क्योंकि वह आफताब अमीन पूनावाला के घर कई बार आ चुकी थी।

रेलकर्मी UMID पोर्टल पर पंजीकरण कर बनवाएं मेडिकल कार्ड relakarmee umid portal par panjeekaran kar banavaen medikal kaard
READ

 

मुंबई में शिफ्ट हुआ परिवार, पिता ने बताई थी वजह

 

पड़ोसियों ने कहा, ‘आफताब अमीन पूनावाला का परिवार यहां सोसायटी में 20 सालों से रह रहा था। वह यहीं बड़ा हुआ था।’ सोसायटी के चैयरमैन रामदास केवट ने कहा कि इस घटना से हमें गहरा सदमा लगा है। आफताब अमीन पूनावाला के पिता मुंबई में काम करते हैं।

 

पड़ोसियों ने कहा कि हमने परिवार से पूछा था कि वे घर क्यों खाली कर रहे हैं। इस पर उनका कहना था कि हम अब मुंबई में रहेंगे। आफताब अमीन पूनावाला के छोटे भाई को हाल ही में मुंबई में नौकरी मिली है। सोसायटी के सचिव अब्दुल्ला खान ने कहा, ‘आफताब अमीन पूनावाला के पिता ने कहा कि छोटे बेटे को मुंबई में नौकरी मिल गई है। आफताब अमीन पूनावाला भी वहीं काम करता है। इसलिए अब हम वहीं पर रहना चाहते हैं।’

 

इस ऐप से आफताब अमीन पूनावाला ने श्रद्धा से साधा था संपर्क

 

श्रद्धा से आफताब अमीन पूनावाला की दोस्ती बंबल ऐप पर हुई थी। इसके बाद दोनों ने एक कॉल सेंटर में साथ काम करना शुरू किया था। श्रद्धा के परिवार ने इस रिलेशन पर सवाल उठाया था, जिसके बाद दोनों दिल्ली चले गए थे। यहां वह महरौली में रहते थे और 18 मई को यहीं पर आफताब अमीन पूनावाला ने श्रद्धा की जघन्य हत्या कर दी। आफताब अमीन पूनावाला ने पुलिस से पूछताछ में माना है कि श्रद्धा शादी का दबाव बना रही थी, इसलिए उसका कत्ल कर दिया।

 

ये भी पढ़ें:

shraddha murder case: क्या है Dexter की कहानी? जिस सीरीज को देख आफताब अमीन पूनावाला बन गया हैवान, श्रद्धा के शव के किए 35 टुकड़े | ऑनलाइन बुलेटिन

 

Related Articles

Back to top button