.

देखें VIDEO: आमने-सामने आई सेना व पुलिस, दरोगा-जवान के बीच धक्का-मुक्की dekhen vidaio: aamane-saamane aaee sena va pulis, daroga-javaan ke beech dhakka-mukkee

हरिद्वार | [उतराखंड बुलेटिन] | सेना की गाड़ी और एक दरोगा की कार आपस में रुड़की-देहरादून हाईवे पर टकरा गई। दरोगा और गाड़ी सवार सेना के जवानों में कहासुनी और धक्का मुक्की हो गई। इस दौरान लोगों की भीड़ एकत्र हो गई और वे सेना के पक्ष में नारेबाजी करने लगे। भगवानपुर थाने में तैनात सब इंस्पेक्टर अपनी निजी कार से रुड़की से भगवानपुर लौट रहे थे।

 

जैसे ही उनकी कार रामनगर के समीप पहुंची तो पीछे से आ रही सेना की गाड़ी से उनकी कार को साइड लग गई। जिसमें दरोगा की कार क्षतिग्रस्त हो गई। जिसके बाद गाड़ी सवार जवानों और दरोगा के बीच कहासुनी हो गई। जो धक्का-मुक्की में बदल गई। इस दौरान हंगामा होता देख लोगों की भीड़ एकत्र होने लगी।

 

लोगों ने सेना के पक्ष में नारेबाजी शुरू कर दी। सेना और भारत माता की जय के नारे लगने लगे। इस बीच सेना की गाड़ी वहां से निकलने लगी। दरोगा अनिल बिष्ट ने बताया कि वह रुड़की कोर्ट से रिमांड के एक मामले को लेकर वापस भगवानपुर थाने जा रहे थे। सेना की गाड़ी ने पीछे से टक्कर मार दी।

 

उनके साथ धक्का मुक्की की गई। वह केवल बात करना चाहते थे। उन्होंने तहरीर दी है। गंगनहर इंस्पेक्टर ने बताया कि मामले की जानकारी मिली है। इस पर नजर रखी जा रही है। वाहनों की टक्कर के बाद सैन्यकर्मी और पुलिसकर्मियों के बीच के विवाद में पुलिस ने शनिवार को मुकदमा दर्ज कर लिया है।

 

 

AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी बोले- अगर “मुस्कान” खतरे में हैं, तो मैं Z+ सुरक्षा लेकर क्या करूंगा | ऑनलाइन बुलेटिन
READ

उप निरीक्षक लक्ष्मण सिंह कुंवर को मामले की जांच सौंपी गई है। भगवानपुर थाने के उपनिरीक्षक अनिल सिंह बिष्ट शुक्रवार को रामनगर कोर्ट में एक आरोपी का रिमांड लेने के लिए आए थे। वापसी में वह अपनी निजी कार से भगवानपुर की ओर लौट रहे थे। इस बीच पीछे से आए ट्रक ने कार को पीछे से टक्कर मार दी थी।

 

जिसमें कार का टायर फट गया था, जबकि अन्य जगहों से भी कार क्षतिग्रस्त हो गई थी। आरोप है कि विरोध पर ट्रक के चालक व अन्य सैन्य कर्मियों ने धक्का-मुक्की की थी। भीड़ बढ़ने पर मौके पर मौजूद युवकों ने भी अभद्रता की थी। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची।

 

आर्मी के वाहन को रोका गया तो आरोप है कि मौके पर मौजूद लोगों ने विरोध शुरू कर दिया था। सैन्यकर्मियों के पक्ष में नारेबाजी करने लगे। इस बीच सैन्य कर्मी वहां से ट्रक लेकर निकल गए। आर्मी के अज्ञात ट्रक चालक और अमन समेत 8-10 अज्ञात लोगों के खिलाफ मारपीट, जान से मारने की धमकी देने समेत अन्य धाराओं में केस दर्ज किया गया है।

 

 

Watch VIDEO: Army and police came face-to-face, scuffle between the inspector and the jawan

 

 

Haridwar | [Uttarakhand Bulletin] | An army car and a constable’s car collided with each other on the Roorkee-Dehradun highway. There was a scuffle and a scuffle between the policemen and the soldiers in the car. During this, a crowd of people gathered and they started shouting slogans in favor of the army. The sub-inspector posted at Bhagwanpur police station was returning from Roorkee to Bhagwanpur in his private car.

 

क्रिप्टो स्कैम के आरोपी को हो सकती है 40,000 साल से ज्यादा की जेल, पढ़ें kripto skaim ke aaropee ko ho sakatee hai 40,000 saal se jyaada kee jel, padhen
READ

As soon as his car reached near Ramnagar, the army vehicle coming from behind hit his car on the side. In which the car of the inspector was damaged. After which there was a scuffle between the soldiers and the inspector in the car. Which turned into a scuffle. During this, seeing the commotion, a crowd of people started gathering.

 

People started shouting slogans in favor of the army. Slogans of Army and Bharat Mata ki Jai started being raised. Meanwhile, the army car started leaving from there. Inspector Anil Bisht told that he was going back to Bhagwanpur police station with a case of remand from Roorkee court. The army car hit it from behind.

 

He was beaten up. He just wanted to talk. He has given a complaint. Ganganahar Inspector said that information about the matter has been received. This is being monitored. The police have registered a case on Saturday in the dispute between the army personnel and the policemen after the collision of the vehicles.

 

 

 

Sub-Inspector Laxman Singh Kunwar has been entrusted with the investigation of the case. Bhagwanpur police sub-inspector Anil Singh Bisht had come to Ramnagar court on Friday to take remand of an accused. On his return, he was returning to Bhagwanpur in his private car. Meanwhile, a truck coming from behind hit the car from behind.

'भारत जोड़ो यात्रा' में शामिल हुईं रोहित वेमुला की मां, कांग्रेस सांसद राहुल गांधी बोले- मन को नई शक्ति मिली | ऑनलाइन बुलेटिन
READ

 

In which the tire of the car had burst, while the car was also damaged from other places. It is alleged that the driver of the truck and other army personnel had scuffled on the protest. When the crowd increased, the youths present on the spot also committed indecency. On information, police reached the spot.

 

When the army vehicle was stopped, it is alleged that the people present on the spot started protesting. They started shouting slogans in favor of the soldiers. Meanwhile, the military personnel left with a truck from there. A case has been registered against 8-10 unidentified people including Army’s unknown truck driver and Aman under other sections including assault, threatening to kill.

 

 

 

 

 

 

 

जबरन रिटायर किए जाएंगे निष्क्रिय सरकारी कर्मचारी, दिल्ली में कर्मियों पर खास नजर jabaran ritaayar kie jaenge nishkriy sarakaaree karmachaaree, dillee mein karmiyon par khaas najar

 

 

Related Articles

Back to top button