.

‘इन्हीं की कोर्ट-कचहरी, इन्हीं का चुनाव आयोग…’ उपचुनाव में बीजेपी के जीतने पर बरसे राकेश टिकैत, बताया अगला टारगेट कौन | ऑनलाइन बुलेटिन

प्रयागराज | [उत्तर प्रदेश बुलेटिन] | Rakesh Tikait attack on BJP: उत्तर प्रदेश की गोला गोकर्णनाथ सीट पर भारतीय जनता पार्टी उम्मीदवार अमन गिरि की जीत के बाद किसान नेता राकेश टिकैत ने बीजेपी पर हमला बोला है। बिना बीजेपी का नाम लिए हुए टिकैत ने कहा कि कोर्ट- कचहरी से लेकर चुनाव आयोग तक सही उन्हीं (बीजेपी) के हैं। बीजेपी को जनता वोट नहीं दे रही है, लेकिन फिर भी जीत उनकी ही हो रही है।

 

प्रयागराज पहुंचे राकेश टिकैत से जब पूछा गया कि उपचुनाव में बीजेपी की जीत हुई है तो उन्होंने कहा, ”जब बेईमानी होती है तो कोई असर नहीं पड़ता। इन्हीं (बीजेपी) का इलेक्शन कमिशन है, कोर्ट-कचहरी और अधिकारी सब इन्हीं के है। सब बेईमानी से होगा। पूरी यूपी सरकार बेईमानी से बनी है। जनता वोट नहीं दे रही है, लेकिन बेईमानी से जीत मिल रही है। 2024 में भी बीजेपी की ही जीत होने जा रही है। उन्होंने आगे कहा कि बेईमानी से सारा काम होगा। अगला टारगेट प्रेस है। जितने दिन जान बचानी है बचा लीजिए, अगला टारगेट प्रेस पर है।”

 

मालूम हो कि पिछले साल लखीमपुर खीरी में हुए थार कांड के बाद से राकेश टिकैत ने कई बार वहां के दौरे किए थे। इसके अलावा, उन्होंने केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा टेनी के इस्तीफे की भी मांग की थी। वहीं, लंबे समय तक चले किसान आंदोलन में भी टिकैत ने काफी सुर्खियां बटोरी थीं। आखिर में पिछले साल के अंत में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीनों कृषि कानूनों को रद्द कर दिया था।

ट्रक से कार की हुई टक्कर, हादसे में 2 लड़की समेत 4 की मौत, 3 एक ही परिवार के | newsforum
READ

 

गोला गोकर्णनाथ में बीजेपी उम्मीदवार की हुई जीत

 

बीजेपी विधायक अरविंद गिरि के निधन के बाद खाली हुई गोला गोकर्णनाथ विधानसभा सीट भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी अमन गिरी ने समाजवादी पार्टी को चुनाव हरा दिया है। भाजपा के अमन गिरी ने सपा के विनय तिवारी को 34298 वोट से हराया है। जीत के बाद भाजपा के खेमे में जश्न का माहौल है।

 

गोला उपचुनाव के लिए 3 नवंबर को हुए मतदान के बाद सभी की निगाहें नतीजों पर लगी हुई थी। इस चुनाव में भारतीय जनता पार्टी और समाजवादी पार्टी का सीधा मुकाबला था। कांग्रेस और बसपा मैदान से बाहर थी। इस वजह से मुकाबला न सिर्फ कड़ा हो चला था बल्कि इसमें दोनों दोनों की प्रतिष्ठा भी दांव पर लग गई थी।

 

ये भी पढ़ें:

EWS कोटे के खिलाफ तमिलनाडु के मुख्यमंत्री स्टालिन ने खोला मोर्चा, भाजपा- कांग्रेस ने कही यह बात | ऑनलाइन बुलेटिन

 

Related Articles

Back to top button