.

‘भारत जोड़ो यात्रा’ में शामिल हुईं रोहित वेमुला की मां, कांग्रेस सांसद राहुल गांधी बोले- मन को नई शक्ति मिली | ऑनलाइन बुलेटिन

हैदराबाद [ तेलंगाना बुलेटिन] | कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने अपनी भारत जोड़ो यात्रा के 55वें दिन मंगलवार को हैदराबाद में प्रवेश किया। यात्रा को लोगो का भरपूर समर्थन मिल रहा है और यात्रा जहां जहां से गुजर रही है लोग स्वतः ही उसमें जुड़ते जा रहे हैं। राहुल के साथ इस मार्च में शामिल होने वालों में हैदराबाद विश्वविद्यालय के दलित छात्र रोहित वेमुला की मां राधिका वेमुला भी शामिल थीं।

 

रोहित वेमुला की आत्महत्या के बाद 2016 में खूब विरोध प्रदर्शन हुए थे। विरोध प्रदर्शन के दौरान राहुल गांधी ने खुद हैदराबाद कैंपस का दौरा किया था। अब अपनी भारत जोड़ो यात्रा में रोहित वेमुला की मां के साथ मुलाकात के बाद राहुल ने उनकी तस्वीरें शेयर की हैं।

 

राहुल गांधी ने कथित उत्पीड़न के बाद 2016 में आत्महत्या करने वाले दलित छात्र रोहित वेमुला को सामाजिक भेदभाव और अन्याय के खिलाफ अपने संघर्ष का प्रतीक बताया। राधिका यात्रा के प्रातःकालीन चरण में गांधी के साथ कुछ समय के लिए चलीं। राधिका वेमुला ने ट्वीट किया, ‘‘भारत जोड़ो यात्रा के प्रति एकजुटता दिखाई।

 

राहुल गांधी के साथ चली और कांग्रेस से संविधान को भाजपा- आरएसएस (भारतीय जनता पार्टी-राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ) के हमले से बचाने, रोहित वेमुला को न्याय दिलाने, रोहित अधिनियम पारित कराने, उच्च न्यायपालिका में दलितों का प्रतिनिधित्व बढ़ाने, सभी के लिए शिक्षा सुनिश्चित करने का आह्वान किया।’’

 

 

कस्टमर ने आर्डर की 50,999 रुपये की Apple Watch, डिलीवर हुई नकली घड़ी, ऐस बचें जोखिम से, पढ़ें | ऑनलाइन बुलेटिन
READ

राहुल गांधी ने वेमुला की मां के साथ मुलाकात के बाद ट्वीट किया, ‘‘ रोहित वेमुला सामाजिक भेदभाव और अन्याय के विरुद्ध मेरे संघर्ष का प्रतीक है और रहेगा।’’ उन्होंने कहा, ‘‘रोहित की माताजी से मिलकर यात्रा के लक्ष्य की ओर बढ़ रहे कदमों को नया साहस और मन को नई शक्ति मिली।’’

 

कांग्रेस ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर और पार्टी के कई नेताओं ने अपने ट्विटर खातों पर ‘भारत जोड़ो यात्रा’ के दौरान राधिका वेमुला के गांधी के साथ चलने की तस्वीरें साझाा कीं। रोहित (26) की 17 जनवरी, 2016 को मौत हो गई थी। इस घटना ने उच्च शिक्षा संस्थानों में जातिवाद के खिलाफ देशव्यापी आंदोलन छेड़ दिया था।

 

ये भी पढ़ें:

बाबरी मस्जिद मामले में ‘ सुप्रीम ‘ फैसले के खिलाफ नारेबाजी पर भड़की अदालत, कहा- यह दुश्मनी बढ़ाने वाला काम | ऑनलाइन बुलेटिन

 

Related Articles

Back to top button