.

दशकों का सपना अब होगा पूरा, उत्तरी छत्तीसगढ़ के लोगों को दिल्ली तक सीधी ट्रेन की सौगात dashakon ka sapana ab hoga poora, uttaree chhatteesagadh ke logon ko dillee tak seedhee tren kee saugaat

अंबिकापुर | [छत्तीसगढ़ बुलेटिन] | दशकों से रेल सेवाओं की कमी एवं कोरोनाकाल के बाद रेल सेवाओं में कटौती से जूझ रहे उत्तरी छत्तीसगढ़ के लोगों को अंबिकापुर से दिल्ली तक सीधी रेल सेवा की सौगात मिलने जा रही है। केंद्रीय राज्यमंत्री रेणुका सिंह ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगी। रेल सेवा का शुभारंभ 14 जुलाई को किया जाएगा। केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव इसका वर्जुअल शुभारंभ दिल्ली से करेंगे। फिलहाल यह ट्रेन ऑन डिमांड स्पेशल ट्रेन के रूप में शुरू की जा रही है। रेलवे ने इसका शुभारंभ टाइम टेबल जारी कर दिया गया है। इस ट्रेन का लाभ उत्तरी छत्तीसगढ़ के साथ मध्य प्रदेश के लोगों को भी मिलेगा।

 

उत्तरी छत्तीसगढ़ में रेल सेवाओं की कमी है। संभाग मुख्यालय अंबिकापुर वर्ष 2006 में सीधी रेल सेवा से जुड़ा। इसके पूर्व वर्ष 1964 में विश्रामपुर को कोयला परिवहन के लिए रेल लाइन से जोड़ा गया था, जिसके बाद एकमात्र यात्री ट्रेन का संचालन हो रहा था।

 

अंबिकापुर तक रेल लाइन विस्तार के बाद अंबिकापुर से दुर्ग एवं अंबिकापुर से जबलपुर तक रेल सेवाएं शुरू हो सकीं। वर्ष 2014 तक अंबिकापुर से अनूपपुर तक मेमू रेल सेवा भी शुरू कर दी गई। कोरोनाकाल के दौरान यात्री ट्रेनों का परिचालन बंद किया गया, लेकिन अंबिकापुर-शहडोल, अंबिकापुर-अनूपपुर मेमू का संचालन अब तक शुरू नहीं किया गया।

 

कोयले की कमी बताकर अंबिकापुर-जबलपुर ट्रेन को करीब 3 माह बंद रखा गया। राज्य सरकार के विरोध के बाद 26 ट्रेनों को फिर से पटरी पर लाया गया है, जिसमें अंबिकापुर-जबलपुर ट्रेन 13 जुलाई से शुरू किया जा रहा है। 14 जुलाई को अंबिकापुर-दिल्ली ट्रेन सेवा का शुभारंभ किया जाएगा। ट्रेन शुरू होने से सरगुजा संभाग के लोगों में गजब का उत्साह है।

 

अंबिकापुर आने वाले रेल मंत्री वैष्णव

 

केंद्रीय राज्यमंत्री रेणुका सिंह ने प्रेसवार्ता में बताया कि उक्त ट्रेन का शुभारंभ करने 14 मई को केंद्रीय रेलमंत्री अश्विनी वैष्णव यहां आने वाले थे, लेकिन किन्ही कारणों से उनका प्रवास नहीं हो सका। अब 14 जुलाई को ट्रेन का शुभारंभ वैष्णव दिल्ली से वर्जुअल करेंगे।

खैरागढ़ उपचुनाव के संबंध में बैठक में शामिल हुए अंकुश तिवारी | ऑनलाइन बुलेटिन
READ

 

यह ट्रेन फिलहाल ऑन डिमांड स्पेशल ट्रेन के रूप में 9.30 बजे रवाना होगी जो 15 जुलाई को सुबह 4.35 बजे दिल्ली पहुंचेगी। फिलहाल ट्रेन का संचालन साप्ताहिक ट्रेन के रूप में किया जाएगा। बाद में इसका फेरा बढ़ाया जाएगा।

 

सालों तक लगती रही दिल्ली की बोगी

 

वर्ष 1964 में बिश्रामपुर तक रेलवे लाइन बिछाए जाने के बाद यात्री सेवाएं शुरू हुई। तब से अंबिकापुर तक रेल लाइन की मांग की जा रही थी। 42 वर्ष बाद 2006 में बिश्रामपुर से अंबिकापुर रेल लाइन जोड़ी गई।

 

1978 में दिल्ली से बिश्रामपुर तक कनेक्टिंग बोगी बाद में लरंगसाय के नाम से लगाई जाती थी, जो वर्ष 1999 तक चली। इसके बाद अंबिकापुर से दिल्ली जाने के लिए सरगुजा संभाग के लोगों को अनूपपुर तक पहुंचकर ट्रेन बदलनी पड़ती थी। इसके लिए कई घंटों का इंतजार करना पड़ता था।

 

अभी साप्ताहिक होगी ऑन डिमांड स्पेशल

 

ऑन डिमांड स्पेशल ट्रेन प्रत्येक गुरुवार को अंबिकापुर से चलकर ट्रेन करीब 19 घंटे में हजरत निजामुद्दीन पहुंचेगी। वहीं मंगलवार को दिल्ली हजरत निजामुद्दीन से अंबिकापुर के लिए ट्रेन चलेगी। शुभारंभ के दिन अंबिकापुर से पहली बार ट्रेन 14 जुलाई को सुबह 9.30 बजे छूटेगी और 15 जुलाई की शाम 4.35 बजे दिल्ली पहुंचेगी। इसके बाद अगले सप्ताह से रेग्यूलर हर गुरुवार को अंबिकापुर स्टेशन से 7.15 बजे छूटेगी।

 

मंगलवार को ट्रेन हजरत निजामुद्दीन से रात 11 बजे रवाना होकर बुधवार को शाम 7.15 बजे अंबिकापुर पहुंचेगी। ट्रेन को स्टॉपेज फिलहाल अंबिकापुर से छूटने के बाद बिजुरी, अनूपपुर, कटनी मुरवाड़ा, सागर, अगासोड़, आगरा, मथुरा से होकर हजरत निजामुद्दीन पहुंचेगी। गाड़ी का नियमित टाइम टेबल जारी होने पर स्टॉपेज बढ़ सकता है।

 

 

The dream of decades will now be fulfilled, people of North Chhattisgarh will get a direct train till Delhi

 

Ambikapur | [Chhattisgarh Bulletin] | The people of North Chhattisgarh, who have been suffering from lack of rail services for decades and cut in rail services after the Corona period, are going to get the gift of direct rail service from Ambikapur to Delhi. Union Minister of State Renuka Singh will flag off the train. The train service will be started on July 14. Union Railway Minister Ashwini Vaishnav will launch its virtual launch from Delhi. At present, this train is being started as an on-demand special train. Railway has released its launch time table. Along with North Chhattisgarh, people of Madhya Pradesh will also get the benefit of this train.

 

जुम्मन खान की चीटियां घुस रहीं घर में, थाने पहुंची महिला ने शिकायत में कही यह बात jumman khaan kee cheetiyaan ghus raheen ghar mein, thaane pahunchee mahila ne shikaayat mein kahee yah baat
READ

There is a dearth of rail services in North Chhattisgarh. Division headquarter Ambikapur connected with direct rail service in the year 2006. Prior to this, in the year 1964, Vishrampur was connected to the rail line for coal transport, after which the only passenger train was operating.

 

After the extension of railway line up to Ambikapur, rail services could be started from Ambikapur to Durg and from Ambikapur to Jabalpur. By the year 2014, MEMU rail service from Ambikapur to Anuppur was also started. The operation of passenger trains was stopped during the Corona period, but the operation of Ambikapur-Shahdol, Ambikapur-Anuppur MEMU has not been started yet.

 

Ambikapur-Jabalpur train was kept closed for about 3 months due to shortage of coal. After the protest of the state government, 26 trains have been brought back on track, in which the Ambikapur-Jabalpur train is being started from July 13. Ambikapur-Delhi train service will be launched on 14th July. There is great enthusiasm among the people of Surguja division due to the start of the train.

 

Railway Minister Vaishnav coming to Ambikapur

 

Union Minister of State Renuka Singh told in the press conference that on May 14, Union Railway Minister Ashwini Vaishnav was going to come here to launch the said train, but due to some reasons his stay could not be done. Now on July 14, Vaishnav will launch the train virtual from Delhi.

 

This train will currently leave at 9.30 am as an on-demand special train which will reach Delhi at 4.35 am on July 15. Presently the train will be operated as a weekly train. Later it will be extended.

बेमेतरा : 1 लाख, 26 हजार 501 किसान से 5 लाख, 87 हजार 608 मिट्रिक टन धान का उपार्जन | newsforum
READ

 

 Delhi’s bogie kept running for years

 

Passenger services started after the laying of the railway line up to Bishrampur in the year 1964. Since then there was a demand for a rail line till Ambikapur. After 42 years in 2006, Bishrampur to Ambikapur rail line was added.

 

In 1978, the connecting bogie from Delhi to Bishrampur was installed later in the name of Larangasai, which lasted till the year 1999. After this, people of Surguja division had to change train after reaching Anuppur to go from Ambikapur to Delhi. Had to wait for several hours for this.

 

 Now weekly on demand special

 

On demand special train will leave Ambikapur on every Thursday and will reach Hazrat Nizamuddin in about 19 hours. On Tuesday, the train from Delhi Hazrat Nizamuddin to Ambikapur will run. The first train from Ambikapur on the day of launch will leave Ambikapur at 9.30 am on 14th July and will reach Delhi at 4.35 pm on 15th July. After this, from next week onwards, it will leave Ambikapur station at 7.15 hrs on regular every Thursday.

 

The train will leave Hazrat Nizamuddin at 11 pm on Tuesday and reach Ambikapur at 7.15 pm on Wednesday. At present, after leaving Ambikapur, the train will reach Hazrat Nizamuddin via Bijuri, Anuppur, Katni Murwada, Sagar, Agasod, Agra, Mathura. The stoppage may increase if the regular time table of the train is released.

 

 

जिला उपभोक्ता फोरम का आदेश रद्द कर राज्य उपभोक्ता आयोग ने कहा- कंपनी को ही जांचना होगा बीमा लेने वाला पहले से बीमार है या नहीं jila upabhokta phoram ka aadesh radd kar raajy upabhokta aayog ne kaha- kampanee ko hee jaanchana hoga beema lene vaala pahale se beemaar hai ya nahin

 

 

Related Articles

Back to top button